Latest News
      1. वैदिक रीति से दीप जला कर भक्तो ने मनाया बापू का जन्मोत्सव      2. वौराठ के सबसे बडे सप्त शिखर जैन मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न      3. श्री बद्रीलाल पुरोहित के यहां 26 अप्रैल को सुंदरकांड का पाठ-तनय पुरोहित का मनाया जाएगा जन्मदिन       4. कांग्रेस प्रत्याशी देवकीनंदन गुर्जर के समर्थन में चुनावी कार्यालय का शुभारंभ-नहीं हुए कांग्रेसी एक       5. दिया कुमारी के रोड शो में उमडी भीड़-भाजपा को जिताने का सभा में किया आव्हान       6. मतदाता जागरूकता रंगोली में तिर्वा देहात प्रथम-दिया संदेश-चारू पालीवाल का सुखद अनुभव

इंदौर में अखिल भारतीय महिला साहित्य समागम आज से

Sunil Paliwal-Anil bagora...✍️     Category: इंदौर     03 Mar 2019 (7:32 PM)

● देश की कई ख्यातनाम साहित्यकार होंगी शामिल

इंदौर। देश में संभवत पहली बार महिला साहित्यकारों का अखिल भारतीय समागम आयोजित किया जा रहा है। इंदौर में 4 व 5 मार्च को जाल सभागृह में होने जा रहे इस आयोजन में देश की कई विख्यात साहित्यकार बतौर अतिथि और वक्ता शामिल होंगी। वहीं प्रदेश और देश के अनेक हिस्सों से समागम में प्रतिभागी के रूप में शामिल होने के लिए लेखिकाएं, कवियत्री, लघुकथाकार, व्यंग्यकार और कहानीकार आ रही हैं। ’वामा साहित्य मंच’ इंदौर और हिंदी न्यूज पोर्टल घमासान डॉट काम द्वारा इस समागम का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन समिति की चेयरपर्सन श्रीमती पद्मा राजेंद्र, अध्यक्ष श्रीमती शिवानी राठौर और सचिव श्रीमती ज्योति जैन ने पालीवाल वाणी को बताया कि  समागम का उद्घाटन समारोह 4 मार्च की सुबह 10 बजे होगा मुख्य अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार श्रीमती उषा किरण खान जी, (पटना) रहेंगी। सत्र की अतिथि वक्ता वरिष्ठ साहित्कार श्रीमती कृष्णा अग्निहोत्री होंगी।

● नारी पात्र के सकारात्मक तेवर विषय पर चर्चा

पहला साहित्यिक सत्र 4 मार्च को सुबह 11ः30 बजे से 1 बजे तक चलेगा जिसमें लघुकथाओं में नारी पात्र के सकारात्मक तेवर विषय पर चर्चा होगी। इसमें बीज वक्तव्य मिथिलेश जी दीक्षित (लखनऊ) का रहेगा। चर्चाकार लता जी अग्रवाल (भोपाल), अनघा जी जोगलेकर (गुरूग्राम) रहेंगी। सहभागियों द्वारा लघुकथा पाठ किया जाएगा।

● काव्य अभिव्यक्ति के बदलते प्रतिमान पर चर्चा

दूसरा साहित्यिक सत्र 4 मार्च को दोपहर 02ः30 बजे से 04 बजे तक चलेगा, जिसमें काव्य अभिव्यक्ति के बदलते प्रतिमान पर चर्चा होगी। बीज वक्तव्य : रति जी सक्सेना (त्रिवेंद्रम) रहेगा। चर्चाकार शोभना जी श्याम (गुरुग्राम), शशि जी पुरवार (पुणे) रहेंगी।

● साहित्य में आधुनिकता की परिभाषा परिपक्वता या खुलापन विषय

तीसरा साहित्यिक सत्र 4 मार्च शाम 4ः30 बजे से 6 बजे तक चलेगा। जिसमें साहित्य में आधुनिकता की परिभाषा परिपक्वता या खुलापन विषय पर टॉक शो होगा। अतिथि वक्ता गीता श्री जी (दिल्ली), कुमकुम जी कपूर (अलवर), मीनाक्षी जी जोशी (इंदौर), नीलिमा जी टिक्कू (जयपुर) रहेंगी। संचालन श्रुति जी अग्रवाल (इंदौर) करेंगी। उसके बाद शाम 7ः00 बजे से 8ः15 तक अक्षर पर्व का आयोजन होगा।

● विलुप्त हो रहे लोकोक्तियां, कहावतें व मुहावरे पर चर्चा

5 मार्च को पहला साहित्यिक सत्र सुबह 10ः00 बजे से 11ः30 बजे तक चलेगा, जिसमें आंचलिक भाषाओं का स्वर माधुर्य ठेठपन व विलुप्त हो रहे लोकोक्तियां, कहावतें व मुहावरे पर चर्चा होगी। बीज वक्तव्य सरला जी शर्मा (दुर्ग) रखेंगी। चर्चाकार रचना जी निगम (बड़ौदा), सुरभि जी बेहेरा (भुवनेश्वर) रहेंगी।

● बेटियों की कलम में बसी पिता की साहित्यिक विरासत

5 मार्च को समापन सत्र दोपहर 11ः30 बजे से 01ः00 बजे होगा। इसमें विषय होगा बेटियों की कलम में बसी पिता की साहित्यिक विरासत। मुख्य अतिथि सुधा जी अरोड़ा (मुंबई) रहेंगी सत्र अध्यक्षता अचला जी नागर (मुंबई) करेंगी। अतिथि वक्ता नेहा जी शरद (मुंबई) और निर्मला जी भुराड़िया (इंदौर) होंगी। इसी सत्र में देवास की ऋचा कर्पे को देवीअहिल्या शक्ति सम्मान दिया जाएगा।
पालीवाल वाणी ब्यूरो - Sunil Paliwal-Anil bagora...✍️
🔹Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
www.fb.com/paliwalwani
www.twitter.com/paliwalwani
www.paliwalwani.com
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
पालीवाल वाणी हर कदम... आपके साथ...
*एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...*

Paliwal Menariya Samaj Gaurav