Breaking News

आमेट / ऐतिहासिक धरा कमेरी में कवियो ने किया धाय मां का गुणगान

ऐतिहासिक धरा कमेरी में कवियो ने किया धाय मां का गुणगान
M. Ajnabee, Kishan Paliwal ... ✍ May 27, 2019 08:23 PM IST

● नाज है पन्ना पर जो निज पुत्र त्याग कर वीर पुत्र दे गई मेवाड़ को
● पन्ना तूने बेटा चन्दन को वचना पर दियो वार

आमेट। ऐतिहासिक धरा कमेरी में रात्रि को कलम के हस्ताक्षरों ने धाय मां पन्ना के बलिदान का गुणगान किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता नानजी भाई गुर्जर राष्टीय अध्यक्ष आशापुरा मानव कल्याण ट्रस्ट ने की। मुख्य अतिथि टीसी बोहरा सचिव धरोहर संरक्षण प्रोन्नति प्राधिकरण थे। आशापुरा मानव कल्याण ट्रस्ट की ओर से अतिथियो को सम्मान स्वरूप पौधा भेंट कर किया।

काव्य संध्या का आगाज दीपिका माही की शब्द भवानी मात शारदे मैं तेरे गुण गाउंगी से हुआ। तत्पश्चात कानू पण्डित नाथद्वारा ने हास्य पेरोडिया सुनाकर श्रोताओ को गुदगुदाया। कवियत्री सालू सांखला ने राष्ट्र चेतनाओ के स्वर हम नही गायेगें तो युवाओं में बवाल कैसे आयेगा.....,जौहर की ज्वाला जो जगा जवानो को सीखा गई जीवन कैसे लूटाते राष्ट्र पर.....,नाज है पन्ना पर जो निज पुत्र त्याग कर वीर पुत्र दे गई मेवाड़ को जैसे ओजस्वी रचनाए प्रस्तुत कर श्रोताओ में राष्ट्र का संचार भर दिया। हाल ही नेहा वैष्णव के गायन से वायरल हुई पन्नाधाय की कविता के रचियता सोहन लाल चौधरी गंगरार चित्तौड़गढ़ ने छम छम करती मीरा नाची गीतों से गिरधार लाल रिजायों री मीरा.अरर्र पन्ना काली वा अधिंयारी रात, नान्यो से अमरियो साथ. पन्ना तूने बेटा चन्दन को वचना पर दियो वार.., मारा चेतक घोड़ा जावण री वैल्या मुण्डे बोल.....पाथल राखी मेवाड़ी शान केसरिया पगड़ी नही झूकी जैसी रचनाओ का स्वर गायन कर श्रोताओं में मेवाड़ धरा के मान सम्मान का संचार किया। मावली के मनोज गुर्जर ने गुर्जर कौन नही होती अगर जग में गाय नही होती। राणा प्रताप नही होते अगर पन्नाधाय नही होती एवं हास्य पेरोडियो से श्रोताओ को लोटपोट कर दिया। आमेट विकास अधिकारी एवं प्रशासनिक संत राकेश पुरोहित ने हम अपनी धुन में रहते है और गैया गैया कहते है सुनाकर माहौल को भक्ति मय बना दिया। दीपिका माही ने आयो मेरी सांस पर कुछ लिख दो...., बस्ती बस्ती बदरा बरसे बरस गए हम सावन में जैसी श्रंगार रस की रचनाएं प्रस्तुत की। कवि सम्मेलन के सूत्रधार एवं वरिष्ट कवि माधव दरक ने ऐडो मारो राजस्थान एवं मायड़ थारो वो पूत कठै, वो महाराणा प्रताप कठै रचना अपने चिर परिचित स्वर में प्रस्तुत की। कवि सम्मेलन का संचालन सिद्धार्थ देवल उदयपुर ने किया। इस दौरान पन्नाधाय स्मारक समिति अध्यक्ष गहरी लाल गुर्जर, श्री गोभक्त सेवा समिति अध्यक्ष धर्मेश छीपा, आशापुरा मानव कल्याण ट्रस्ट महामंत्री कैलाश सामोता, राउमावि आमेट प्रधानाचार्य महावीर प्रसाद बघेरवाल, कन्हैयालाल गर्ग, नंदलाल पालीवाल, यश गुर्जर सहित बडी संख्या में श्रोता उपस्थित थे।
● पालीवाल वाणी ब्यूरो-M. Ajnabee-Kishan Paliwal ... ✍
🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news नाम/पता/गांव/मोबाईल नंबर/ लिखकर भेजें...
🔹 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
www.fb.com/paliwalwani
www.twitter.com/paliwalwani
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
▪ एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...
▪ नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...

RELATED NEWS