Breaking News

मध्य प्रदेश / मध्य प्रदेश में 17 जुलाई से भारी बारिश का अलर्ट : हिमाचल और कश्मीर में बादल फटा : बिहार के 14 जिलों में यलो अलर्ट

मध्य प्रदेश में 17 जुलाई से भारी बारिश का अलर्ट : हिमाचल और कश्मीर में बादल फटा : बिहार के 14 जिलों में यलो अलर्ट
paliwalwani.com July 12, 2021 04:42 PM IST

मध्य प्रदेश . हिमाचल में बादल फटने और राजस्थान, पंजाब, हरियाणा के कई जिलों में एक-दो दिन से रुक-रुककर पानी गिर रहा हैं. वही  मध्यप्रदेश में भीषण गर्मी के बाद एक बार फिर मानसून सक्रिय हो रहा है. बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम का असर मध्य प्रदेश में दिखने लगा है. मौसम विभाग के मुताबिक, मध्य प्रदेश के 8 जिले ऐसे भी हैं जहां पर आने वाले 24 घंटों में तेज बारिश का दौर शुरू हो सकता है. इन जिलों में विदिशा और होशंगाब... शामिल हैं. ऐसे तमाम जिलों के लिए अभी येलो अलर्ट जारी किया गया है. इसके अलावा इंदौर, ग्वालियर और चंबल इलाकों को भी येलो अलर्ट अलर्ट पर रखा गया है. यहां भी बारिश का अनुमान लगाया गया है. मध्य प्रदेश में 17 जुलाई से भारी बारिश का अलर्ट जारी हुआ और बिहार के 14 जिलों में भारी बारिश का यलो अलर्ट जारी किया गया है. हिमाचल प्रदेश की धर्मशाला में और जम्मू-कश्मीर में बादल फटने की घटना होने से प्रशासन को अलर्ट कर दिया. शिमला सहित कई जिलों में कल रात से भारी बारिश हो रही है. इसी कारण नदी-नाले उफान पर चल रहे हैं. कई जगह बाढ़ जैसी स्थिति निर्मित हो गई है. कुल्लू की सरवरी नदी भी उफान पर हैं. नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है. शिमला में भारी बारिश के बाद झाकरी और रामपुर से गुजरने वाला नेशनल हाईवे बंद जैसा हो गया हैं. सेंट्रल कश्मीर के गांदरबल में कल रात बादल फटने से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. घरों में प्रशासन स्तर पर अधिकारियों का कहना है कि हालात काबू में हैं. किसी के जान-माल की हानि होने के समाचार नहीं मिले. मौसम केंद्र, भोपाल की मानें तो MP में 17 जुलाई तक तेज बारिश होने के आसार है.  बंगाल की खाड़ी से सिस्टम बनने से भोपाल, इंदौर सहित पूरे प्रदेश में तेज बारिश होने के आसार है. मौसम केंद्र भोपाल के वैज्ञानक पीके साहा ने बताया कि अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है. वहीं नार्थ वेस्ट राजस्थान से बंगाल की खाड़ी तक ट्रफ लाइन जा रही है- इससे मध्य प्रदेश में 17 जुलाई तक अच्छी बरसात होगी.

पूरे मध्यप्रदेश में सक्रिय रहेगा मानसून : मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 17 जुलाई तक पूरा MP तरबतर हो जाएगा. जून के महीने में ग्वालियर, इंदौर संभाग में सामान्य बारिश देखने को मिली थी तो पूरी संभावना है कि इस बार ये अंचल सूखे नहीं रहेंगे.  मध्य प्रदेश के 6 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी है. इन 6 जिलों में जबलपुर, नरसिंहपुर, पूर्वी मध्यप्रदेश के कुछ जिले शामिल हैं. मौसम विभाग के मुताबिक तेज हवाओं के साथ बारिश का दौर शुरू होने जा रहा है. 

 

RELATED NEWS