Breaking News

राजसमन्द / राजसमंद विधायक किरण माहेश्वरी के पत्र पर मुख्यमंत्री ने प्रवासी राजस्थानियों को लाने की सशर्त सहमति

राजसमंद विधायक किरण माहेश्वरी के पत्र पर मुख्यमंत्री ने प्रवासी राजस्थानियों को लाने की सशर्त सहमति
M. Ajnabee-Kishan Paliwal April 20, 2020 02:46 PM IST

राजसमंद। (ललित चोरड़िया की कलम से...✍) मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने राजसमंद विधायक किरण माहेश्वरी के पत्र पर सशर्त सहमति देते हुए राजस्थानी प्रवासियों को राजसमंद लाने के निर्देश दिए है। श्रीमती किरण माहेश्वरी के पत्र का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने राजसमंद विधानसभा क्षेत्र के प्रवासियों को लाने के लिए विधायक फंड से डेढ़ करोड़ रूपए राशि का अनुशंसा पत्र जिला कलेक्टर को देने पर व्यवस्था करने पर सहमति दी हैं। यह सही है कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए राज्य सरकार के पास धनराशि की भारी किल्लत है। इसी के चलते राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार को अनेक बार आग्रह करके कोरोना वायरस से निपटने के लिए विशेष आर्थिक पैकेज की मांग की है। ऐसे समय पर जनप्रतिनिधियों का भी दायित्व होता है कि अपने पास उपलब्ध विधायक फंड से इस महामारी को निपटने में राशि का उपयोग लेना चाहिए। राज्य सरकार के सामने हाथ फैलाने के बजाय उन्हें सामने आकर अपने फंड की राशि से प्रवासियों को लाने का प्रयास करना चाहिए। कोरोना वायरस की महामारी से हम बच पाएंगे तो सामुदायिक भवन, धर्मशाला, शौचालय एवं अन्य निर्माण कार्य विधायक फंड की राशि का उपयोग कर पाएंगे। अन्यथा इस राशि का क्या उपयोग होगा क्योंकि वैश्विक महामारी के दौरान पूर्ण रूप से उबरने में लगभग 1 वर्ष तक लग सकता है ऐसी परिस्थितियों में विधायकों को अपने फंड की राशि कोराना महामारी के राहत कार्य में लगानी चाहिए। विश्वास सूत्रों से जानकारी मिली है कि कोविड-19 आपदा प्रबंधन के शासन सचिव ने विधायक किरण माहेश्वरी को पत्र लिखकर सूचित किया कि विधायक निधि से डेढ़ करोड़ रुपए की स्वीकृति पत्र जिला कलेक्टर राजसमंद को शीघ्र भेजे। राजसमंद के प्रवासियों को कोरोना वायरस के चलते लोक डाउन के दौरान बाहरी राज्यों में गंभीर संकट से गुजरना पढ़ रहा है, ऐसे समय आपके प्रयास से प्रवासी अपने घर पहुंच पाएंगे। पत्र में यह भी बताया गया कि राजसमंद के प्रवासियों को लाने के दौरान वाहन खर्च के अलावा स्वास्थय जांच एवं 14 दिन के क्वारांटिन एवं आइसोलेशन में रखने पर होने वाला खर्चा विधायक फंड से समायोजित कर दिया जाएगा एवं अन्य खर्चे राज्य सरकार अपने स्तर पर करेगी। विधायक की मांग को देखते हुए बताया गया कि अन्य विधानसभा क्षेत्र के प्रवासियों को लाने के लिए भी सरकार सहमत है इसके लिए संबंधित विधानसभा क्षेत्र के विधायक द्वारा विधायक निधि सरकार को प्रेषित करनी होगी।

राजसमंद के लोगों में छाई खुशी की लहर

राजसमंद विधायक की मांग पर मुख्यमंत्री की सहमति आने के बाद राजसमंद के लोगों में खुशी की लहर छा गई कि हमारे परिवार जन घर लौट आएंगे। जिला मुख्यालय के अलावा विधानसभा क्षेत्र के राजसमंद, नाथद्वारा केलवा, पड़ासली, आमेट, बामन टुकड़ा, आत्मा, मुंडोल, सपोल, कुंवारिया, फियावड़ी, मोही राज्यावास आदि ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों ने विधायक की कोशिश पर आभार प्रकट किया एवं अनेक लोगों ने अपने रिश्तेदार परिवारजनों के लौटने की उम्मीद पर खुशी व्यक्त की। वही माइनिंग क्षेत्र में भी माइंस चालू होने की संभावना बढ़ी है। मॉडिफाइड लॉकडाउन के दौरान जिले के बाहर से मजदूर नहीं आ पाएंगे और विधायक के प्रयास से प्रवासी आने पर यह लोग माइंसो पर कार्य करेंगे जिससे माइनिंग मंडी एक बार पुनः गतिशील हो जाएगी। विधायक किरण महेश्वरी से सुपर फास्ट ने विधायक फंड की अनुशंसा करने के संबंध में संपर्क करने का प्रयास किया मगर हो नहीं पाया है। विश्वस सूत्रों से जानकारी मिली की विधायक मंगलवार तक भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ जिला कलेक्टर से मिलकर राजसमंद के प्रवासियों को लाने के लिए विधायक फंड से डेड करोड़ रुपए देने की स्वीकृति पत्र सौंपेगी। सूत्रों ने यह भी बताया कि स्वीकृति पत्र देने के बाद प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के सम्मुख प्रवासियों को लाने की योजना का भी खुलासा करेगी। विधायक राजसमंद की अच्छी पहल को लेकर राजसमंद, नाथद्वारा, आमेट-कुंभलगढ़ सहित भारतीय जनता पार्टी में भी खुशी की लहर हैं। ऐसे समय पर अच्छे कार्यों का पूरा श्रेय लेने के लिए कार्यकर्ता प्रबंध में जुट गए हैं। जानकारी यह भी मिली कि राजसमंद के दानवीरों को भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद होने का आग्रह किया है। इस मौके पर उन्हें भी दान देकर राजसमंद क्षेत्र से कोरना महामारी की जंग को जीतने में सहयोग करने की अपील करेंगे। सुपरफास्ट का मानना है कि लॉकडाउन के प्रथम चरण में विधायक किरण माहेश्वरी द्वारा विधायक फंड से ग्रामीण क्षेत्रों में सनेट्राइज करने के लिए राशि आवंटित की मगर अभी तक मशीने नहीं आई है। राजसमंद के प्रवासियों को लाने के लिए राशि आवंटित हो उससे पूर्व ही लोक डाउन-2 की अवधि समाप्त हो जाए ऐसा होने पर राजसमंद के प्रवासीओ में आक्रोश बढ़ेगा। इसलिए सुपरफास्ट ने विधायक से अपील है कि विधायक निधि की राशि आवंटन का पत्र प्रशासन को सौंपकर प्रवासी को राहत देने का शीघ्र प्रयास करे।

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-M. Ajnabee-Kishan Paliwal...✍️

●  Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news लिखकर भेजें...

09977952406-09827052406

● एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...

● नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...

!! कोरोना से डरे नहीं...डटकर मुकाबला कीजिए...जीत हर कदम...देशवासियों की होगी...!!

RELATED NEWS