मध्य प्रदेश

पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत : परिजन पहुंचे SP ऑफिस, जमकर किया हंगामा

Paliwalwani
पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत : परिजन पहुंचे SP ऑफिस, जमकर किया हंगामा
पुलिस की पिटाई से एक युवक की मौत : परिजन पहुंचे SP ऑफिस, जमकर किया हंगामा

दिलीप मिश्रा...✍️

एक अन्य घायल रिश्तेदार को लेकर परिजन पहुंचे SP ऑफिस…जमकर किया हंगामा…घायल ने लगाए पुलिस पर रूपये की मांगकर बेरहमी से पिटाई के आरोप…एडिशनल एसपी ने थाने में लगे CCTV के DVR को ज़ब्त कर उचित कार्यवाही के दिए निर्देश…इंदौर से बुलाई गई शार्ट PM रिपोर्ट...दोषी पाए जाने पर पुलिसकर्मियों पर की जाएगी कार्यवाही…!

देवास : देवास में दो युवकों की पुलिस द्वारा बेरहमी से पिटाई करने का सनसनीख़ेज मामला सामने आया है। मामले में एक युवक मुकेश भाट की इलाज के दौरान इंदौर में रविवार को मौत हो गई। जबकि उसका रिश्तेदार ईश्वर बुरी तरह घायल है।  आक्रोशित परिजन घायल ईश्वर को लेकर आज दोपहर में देवास के एसपी ऑफिस पहुंचे जहां जमकर हंगामा किया। घायल ईश्वर और परिजनों का आरोप है कि औधोगिक क्षेत्र थाना पुलिस ने नकली मसाला बेचने के आरोप में मुकेश और ईश्वर को जबरन थाने लाकर रूपये की मांग करते हुए जमकर पीटा था जिससे मुकेश की मौत हो गई।

दरअसल इंदौर के हीरानगर क्षेत्र में रहकर फेरी लगा कर मिर्ची- मसाला बेचने वाले मुकेश भाट और उसके साढ़ू ईश्वर को देवास की औधोगिक क्षेत्र थाना पुलिस शनिवार को थाने ले आई। रविवार सुबह मृतक के परिजनों को फोन पर सूचना दी गई थी कि मुकेश की हालत खराब है, उसे अस्पताल ले जाओ उसके बाद परिजन पहुंचे और दोनों को जिला अस्पताल ले गए जहां से मुकेश को इंदौर रैफर कर दिया था। इंदौर के अस्पताल में मुकेश की मौत हो गई।

SP ऑफिस पहुंचे घायल ईश्वर ने अपने शरीर पर चोंट के निशान बताते हुए मीडिया को बताया कि हमसे रूपये की मांग कर हमें जमकर पीटा गया,जिससे मुकेश की मौत हो गई।

परिजनों ने इस दौरान SP ऑफिस में जमकर हंगामा किया। इस बीच करणी सेना के कार्यकर्ता भी SP ऑफिस आ धमके और जमकर हंगामा किया।

एडिशनल एसपी मनजीत सिंह चावला ने मीडिया से बातचीत में बताया कि  ईश्वर नामक घायल की पीड़ा सुनी है।उसे मेडिकल के लिए भेजा गया है। वहीं थाने में लगे CCTV के DVR को जब्त करने के निर्देश दिए गए हैं…साथ ही इंदौर से शार्ट PM रिपोर्ट भी बुलवाई गई है… दोषी पाए जाने पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख़्त कार्यवाही की जाएगी,एसडीओपी सोनकच्छ को पूरे मामले की जांच सौंपी गई है।

आपको बता दें कि : मृतक मुकेश इंदौर में किराए के मकान में निवास करता था। वह मंदसौर जिले के मेलखेड़ा का मूल निवासी है। मृतक मुकेश के 4 मासूम बच्चे भी है।हंगामा कर रहे परिजनों का कहना था कि फेरी लगाकर बच्चों का पेट पालने वाले मुकेश का क्या कसूर था. पुलिस को पैसे नहीं देने पर ये हाल किया.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Latest News
Trending News