दिल्ली

सिपाही भर्ती पेपर लीक के पीछे बाप-बेटे की जोड़ी-NEET, UP

paliwalwani
सिपाही भर्ती पेपर लीक के पीछे बाप-बेटे की जोड़ी-NEET, UP
सिपाही भर्ती पेपर लीक के पीछे बाप-बेटे की जोड़ी-NEET, UP

नई दिल्ली. NEET, UP में सिपाही भर्ती या बिहार में शिक्षक भर्ती परीक्षा, तीनों के पेपर लीक हुए। पुलिस ने जांच शुरू की, तो सभी में एक नाम आया संजीव उर्फ मुखिया। पुलिस के मुताबिक, बिहार के नालंदा में रहने वाले संजीव का देशभर में नेटवर्क है। कहीं भी पेपर लीक हो, उससे संजीव का कनेक्शन जरूर मिलता है।

संजीव ने पहली बार 2016 में NEET का पेपर लीक करने की कोशिश की थी। तब उत्तराखंड पुलिस ने उसे अरेस्ट किया था। वो जमानत पर बाहर आया और फिर पुलिस कभी उसे पकड़ नहीं पाई। संजीव का डॉक्टर बेटा शिवकुमार भी पेपर लीक गैंग में शामिल है। उसके पास ऐसे एक्सपर्ट हैं, जो पेपर के बॉक्स बिना सील तोड़े खोल सकते हैं। शिवकुमारअभी पुलिस की गिरफ्त में है।

बिहार में NEET के पेपर लीक का दावा

NEET एग्जाम में गड़बड़ी के आरोपों के बीच सबसे बड़ा सवाल है कि क्या इसका पेपर लीक हुआ है। एग्जाम कराने वाली नेशनल टेस्टिंग एजेंसी, यानी NTA और सरकार पेपर लीक की बात मानने को तैयार नहीं है। एजुकेशन मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान ने 13 जून, 2024 को मीडिया से कहा कि पेपर लीक के कोई सबूत नहीं हैं।

तीन दिन बाद 16 जून 2024 को न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में एजुकेशन मिनिस्टर ने पहली बार गड़बड़ी की बात मानी। उन्होंने कहा, ‘NEET के संबंध में दो जगह कुछ गड़बड़ियां सामने आई हैं। मैं छात्रों को आश्वस्त करता हूं कि सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है। NTA के अधिकारी दोषी पाए गए, तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

गैंग के लिंक UP, गुजरात और दिल्ली तक

उधर, बिहार में पेपर लीक के आरोपी अरेस्ट किए जा रहे हैं। पुलिस के पास पूरी कहानी है कि पेपर कब और कैसे लीक हुए। पेपर लीक करने वाले गैंग के लिंक UP, गुजरात और दिल्ली तक मिल रहे हैं। UP, बिहार और गुजरात में पेपर लीक के दावों की पड़ताल की। इसमें जो फैक्ट मिले, उससे पेपर लीक का दावा पुख्ता होता है। गुजरात के गोधरा, बिहार के पटना और दिल्ली में एग्जाम वाले दिन हुई गड़बड़ियों पर FIR भी दर्ज हुई हैं।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Latest News
Trending News