Breaking News

आपकी कलम / पालीवाल वाणी समूह के अंतर्गत पालीवाल ब्राह्मण समाज हितार्थ संचालित पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट पर करें निःशुल्क पंजीयन

पालीवाल वाणी समूह के अंतर्गत पालीवाल ब्राह्मण समाज हितार्थ संचालित पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट पर करें निःशुल्क पंजीयन
Sunil paliwal-Anil bagora April 11, 2020 04:15 PM IST

आज के दौर में सोशल साइट्स ही लोगो का एकमात्र विकल्प बचा है उसी का ध्यान रखते हुए पालीवाल ब्राह्मण समाज के हित में पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट पर निःशुल्क वैवाहिक विवरण प्रसारित करने की अपार खुशी महसुस हो रही है।

पालीवाल ब्राह्मण समाज में वैवाहिक रिश्तों की जानकारी एवं वर्तमान परिवेश में बढ़ रहे अंतर्जातीय विवाह की अपेक्षा स्वजातीय विवाह को बढ़ावा देने के लिये पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट के नाम से सोशल साइट्स पर व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया। जिसमें पालीवाल ब्राह्मण समाज के विवाह योग्य युवक-युवतियों का वैवाहिक विवरण निःशुल्क प्रकाशित करने का निर्णय लिया गया। पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट के पूर्व समूह के माध्यम से तीन वर्षों में लगभग 104 वैवाहिक जोड़ियों का विवाह बिना वेबसाईट का उपयोग केवल संवाद के माध्यम से हो चुका है जो अपने आप में पालीवाल वाणी समूह के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट के अलावा शीघ्र ही भारतवर्ष के समस्त ब्राह्मण संगठनों द्वारा अनेक सैद्धांतिक मतभेदों के बावजूद एक मंच पर सामंजस्य स्थापित करने का विचार किया जा रहा है। ब्राह्मण एकता को कैसे मजबूत करें। इस पर गहन विचार मंथन करने की जरूरत हैं, जहां विभिन्न समाज अपने ही समाज में एकता का संदेश प्रस्तृत कर रहे है, ऐसे समय में हमें भी जागरूता का परिचय स्थापित करना होगा। सर्वप्रथम भारतवर्ष में निवासरत पालीवाल समाज 44 श्रेणी ओर 24 श्रेणी के स्वजनों को पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट समर्पित किया गया है। जैसे-जैसे समाज प्रमुख की स्वकृति मिलती जाएगी, उन सभी समाजबंधुओं के बायोडाटा पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट पर निःशुल्क पंजीयन कर उसे ओर कैसे विस्तार दिया जाए, उस पर आप सबके विचार-मंथन लेकर मूलभूत स्वरूप प्रदान किया जाएगा...अभी हमारी छोटी कोशिश है।  आज की आवश्यकता ओर समय की मांग को देखते हुए पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट की सख्त आवश्यकता थी। जिसे धरातल पर लाने का प्रयास आपके सहयोग से किया जा रहा है। समय की कठिन परिस्थिति के दौर में कई परिवारों ने विवाह योग्य युवक-युवती एवं पुनर्विवाह के इच्छुक स्वजनों का पंजीयन निःशुल्क करने पर सहमति दी गई। पालीवाल वाणी समूह द्वारा सोशल साइट्स या मोबाइल आदि का उपयोग ना कर सकने वाले एवं प्रदेश के दूर-दराज ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत पालीवाल ब्राह्मण समाज तक जानकारी पहुंचाने के लिए शहर ओर ग्रामीण स्तर पर दो-दो सदस्यों की टीम का गठन करने का निर्णय लिया गया ताकि पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट की जानकारी आप तक पहुँचाने के साथ-साथ सामाजिक सहयोग से समाजहित से जुड़े इस यथार्थ सेवा को सभी परिवार सदस्य स्वीकार करें ओर पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट पर युवक-युवतियों का निःशुल्क बायोडाटा भेंजकर सहयोग प्रदान करें। 

पालीवाल वाणी वैवाहिक वेबसाईट के संबंध में अधिक जानकारी या सहयोग के लिये संपर्क करें :-

!! आओ चले बांध खुशियों की डोर...नही चाहिए अपनी तारीफो के शोर...बस आपका साथ चाहिए...समाज विकास की ओर !!  

● पालीवाल वाणी ब्यूरो-Sunil Paliwal-Anil Bagora...✍️

🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news लिखकर भेजें...     

09977952406-09827052406

● एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...

● नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...

!! कोरोना से डरे नहीं...डटकर मुकाबला कीजिए...जीत हर कदम...देशवासियों की होगी...!! 

RELATED NEWS