Breaking News

राजसमन्द / महाराणा प्रताप का शौर्य पूरे देश के लिए प्ररेणा स्रोत : भ्रामक तथ्य को हटाया जाए अन्यथा बड़ा जन आंदोलन होगा

महाराणा प्रताप का शौर्य पूरे देश के लिए प्ररेणा स्रोत : भ्रामक तथ्य को हटाया जाए अन्यथा बड़ा जन आंदोलन होगा
Devnarayan Paliwal-Devakishan paliwal June 24, 2020 06:26 PM IST

राजसमंद । छात्रनेता नीलेश पालीवाल ने पालीवाल वाणी को बताया कि सर्व हिंदू समाज के समस्त संघटनो के नेतृत्व में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड पाठ्यक्रम में मेवाड़ के स्थापित इतिहास को विकृत ना करने के विषय में राजसमंद जिला कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री व विधानसभा अध्यक्ष के नाम ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में बताया गया कि नवीन पाठ्यपुस्तक में अकबर की सेना को पराक्रमी एवं हल्दीघाटी युद्ध में विजेता बताने का प्रयास संपूर्ण विश्व में स्वाभिमान के श्रेष्ठतम प्रतीक प्रातः स्मरणीय महाराणा प्रताप के देश रक्षा हेतु किए गए संघर्ष का अपमान करना है, जबकि युद्ध के उपरांत अकबर द्वारा मानसिंह की ड्योढ़ी बंद करना प्रताप की जीत का प्रमाण है। अतः नवीन पीढ़ी में महाराणा प्रताप के प्रति स्वाभिमान का भाव बनाए रखने के लिए इतिहास के साथ छेड़छाड़ नहीं की जाए। पाठ्यपुस्तक में महाराणा उदय सिंह को बनवीर का हत्यारा बताया जाना भी उनका अपमान है, ऐतिहासिक दृष्टि से आधारहीन इस घटना को भी हटाया जाना चाहिए। हल्दीघाटी की पावन भूमि का आपने भी प्रत्यक्ष दर्शन किया होगा, यहां की मिट्टी हल्दी युक्त पीलापन लिए हुए हैं इसीलिए इसे हल्दीघाटी कहा जाता है परंतु नवीन पाठ्यक्रम में युद्ध में हल्दी चढ़ी वीरांगनाओं के लड़ने की वजह से हल्दीघाटी कहा जाना बताया जा रहा है जो सर्वथा अनुचित है। महाराणा प्रताप का शौर्य, त्याग व बलिदान का जीवन पूरे देश के लिए प्ररेणा स्रोत है। वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप के जीवन से राष्ट्रभक्ति की प्ररेणा मिलती है। इसलिए युवा महाराणा प्रताप के जीवन से प्ररेणा ग्रहण कर जीवन में आत्मसात करते है। देश वासियों के हृदय में महानायक का स्थान रखने वाले प्राण महाराणा प्रताप महाराणा उदय सिंह जी के साथ ही मेवाड़ के गौरवशाली इतिहास का अपमान करने वाले तथ्यों को पाठ्य पुस्तक से हटाने का कष्ट करावे। यह मेवाड़ी नहीं अपितु संपूर्ण राष्ट्र के सम्मान व स्वाभिमान का विषय है अतः इन गलत व भ्रामक तथ्यों को हटाया जाए अन्यथा इस निंदनीय प्रयास के खिलाफ एक बड़ा जन आंदोलन किया जाएगा।

● विभिन्न संगठनों ने दिखाई शक्ति

इस अवसर पर वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप जयंती समारोह समिति राजसमंद, विश्व हिंदू परिषद सामाजिक समरसता मंच, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, बजरंग दल, भारतीय किसान संघ, विद्या भारती संस्थान, भारतीय जनता पार्टी, भारतीय जनता युवा मोर्चा, सनातन धर्म युवा वाहिनी, संस्कृति रक्षा मंच, राष्ट्रीय करणी सेना, कानिफनाथ सेना, जय राजपुताना संघ, मेवाड़ क्षत्रिय महासभा, युवा ब्रहम शक्ति मेवाड़, भील समाज विकास समिति, एकलव्य सेना, शौर्य ग्रुप कांकरोली, रुद्र सेना कांकरोली, मेवाड़ नवनिर्माण सेना, विश्वकल्याण मंच सहित अन्य संगठनो के पदाधिकारी उपस्थित थे।

पालीवाल वाणी ब्यूरो-Devnarayan Paliwal-Devakishan paliwal...✍️

🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें नाम/पता/गांव अथवा/शहर की जानकारी व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news लिखकर भेजें... 09977952406-09827052406  

RELATED NEWS