Breaking News

मन्दसौर / लव-जिहाद के फेर में पत्नी से परेशान होकर पालीवाल समाज के युवा ने की आत्महत्या...!

लव-जिहाद के फेर में पत्नी से परेशान होकर पालीवाल समाज के युवा ने की आत्महत्या...!
Sunil Paliwal-Anil Bagora August 01, 2020 04:08 PM IST

● जिम जिहाद बना विश्वनाथ बागोरा (विष्णु) की मौत का कारण : हिन्दुओं के लिए खतरा बने मुस्लिम लड़केजिम का इस्तेमाल कर महिलाओं  से बनता था अवैध संबंध : आर्यन बन महिलाओ को उलझाता था अल्ताफ़...मृतक की पत्नी भी बनी आरोपी

मंदसौर । गत दिनों पालीवाल ब्राह्मण समाज के लिए एक बहुत ही दुखद वाला दिन रहा जब मंदसौर के युवा उद्योगपति श्री विश्वनाथ कमलाशंकर बागोरा (विष्णु) गांव सुंदरचा ने अपनी पत्नी के प्रेम प्रसंग के चक्कर में आत्म हत्या कर ली। विष्णु बागोरा की पत्नी एक मुस्लिम ट्रेनर लड़के से लव जेहाद के चक्कर में आकर अपने पति को घर में ही आत्महत्या करने पर विवश होना पड़ा। लव जेहाद के नाम से देश में बड़े पैमाने पर मुहिम चल रही है और लगातार देश भर में इसकी चर्चा होती आई है। लेकिन हिंदू समाज के ठेकेदार की मौन रहने से कई प्रश्नों को जन्म दे रहा है। लव जिहाद में इस जिम संचालक की लंबे समय पुलिस प्रशासन को शिकायत मिलने के बाद भी रखुक के चलते कोई भी कार्यवाही नहीं करने के कारण पालीवाल समाज के युवा को आत्महत्या जैसा कदम उठना पड़ा।

कई शहरों में जव जिहाद होने की सूचनाएं प्रशासन को लंबे समय से मिलती रही हैं, लेकिन ना प्रशासन जागा हिंदू समाज के ठेकेदार। जिसका परिणाम यह हुआ कि लव जिहाद में ब्लैकमलिंग का शिकार होकर विश्वनाथ बागोरा को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा। पदमावती रिसोर्ट के पास अभिनंदन नगर में रहने वाला युवक बहुत ही मिलन सार और हंसमुख था। मंदसौर कोतवाली पुलिस ने मामले को अब गंभीरता से लेकर जिम ट्रेनर और मृतक की पत्नी को आरोपी बनाकर जिम ट्रेनर को गिरफ्तार कर लिया वही महिला की तलाश जारी है। पुलिस ने जांच के बाद धारा 384, 306, 34 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया। महिला की गिरफ्तारी होना शेष है। 

● मामले ने तुल पकड़ा हिंदु संगठन ने मैदान संभाला

मंदसौर क्षेत्र में चल रहे लव जिहाद के मामले में हिंदु संगठन ने मैदान संभाला तो पुलिस प्रशासन हरकत में आया और जांच शुरू की गई तो अल्ताफ शब्बीर हुसैन उर्फ आर्यन हिंदु नाम रखकर महिलाओं को अपने जाल में फंसता था अश्लीन सीड़ी की आड़ में मोटी रकम लेने के बाद भी महिलाओं के परिजनों धमकता था...मंदसौर से जुडे रहे एक पुलिस अधिकारी की इन दिनों जांच चल रही है। उन पर लव जिहाद को बढ़ावा देना और पीड़ित परिजनों की शिकायत दर्ज नहीं करते हुए महिलाओं को चुप रहने की सलाह देकर अल्ताफ और मुनव्वर जैसे गुनाहगार को शह देता था...कई बार हिंदु संगठनों ने मोर्चा खोला लेकिन जांच के नाम पर शिकायत को नस्तीबद्व कर देता था। हिंदु संगठनों ने उग्र रूप लेकर उच्चस्तर पर शिकायत की गई तो गुप्त रूप से इस पुलिस अधिकारी की जांच गोपनीय तरीके से की जा रही है। 

● चौंकाने वाला खुलासा : लाखो हड़प लिए रूपए

पिछले दिनों में आत्महत्या करने वाले युवक के मामले की पड़ताल में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस सूत्रों ने पालीवाल वाणी को बताया कि मिराज गुटखा डीलर श्री विश्वनाथ बागोरा उर्फ विष्णु के मामले में जांच की गई। जिसमें जांच यह जानकारी सामने आई है कि युवक की पत्नी को आर्यन बन कर अल्ताफ ने अपने झांसे में उलझा लिया और लाखों रुपए हड़प लिए। मोहम्मद अल्ताफ पिता शब्बीर हुसैन पदावती रिपोर्ट के आगे टोटल फिटनेस के जिम के नाम से संचालित करता था। मृतक की पत्नी झांसे में अपने पति के भी खिलाफ हो गई। अब पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया है, लेकिन सवाल उठता है कि अल्ताफ जैसों के शिकार कब तक हिंदू समाज के परिजन होते रहेंगे।

● अल्ताफ के मोबाइल में और भी महिलाओं एवं युवतियों के चित्र मिले 

पुलिस प्रशासन का उदासीन रवैया भी मंदसौर में एक हिंदु परिवार को उठाना पड़ा। पुलिस ने इस मामले में जिम संचालक पर भी कोई कार्रवाई नहीं की है, जबकि जिम संचालक द्वारा बरती गई लापरवाही से ही इतनी बड़ी घटना घटी। इतना ही नहीं यह भी जानकारी सामने आई है कि अल्ताफ के मोबाइल में और भी महिलाओं एवं युवतियों के चित्र मिले हैं, लेकिन जब पुलिस ने इनसे संपर्क साधा तो परिजनों ने कार्यवाई कराने में ही कोताही बरत ली।

● हिंदु समाज भी सोचे...! लव जिहाद का शिकार कौन-कौन

लव जेहाद की इस घटना ने समाज को सोचने पर मजबूर कर दिया है कि बॉडी शेपिंग के नाम पर जिम जाने वाली महिलाएं कितनी सुरक्षित है और ऐसे कितने परिवार बर्बाद होते रहेंगे और समाज चुपचाप देखता रहेगा। खुद शादीशुदा और पांच साल के बेटे का बाप होकर भी अल्ताफ अपने जिहाद में लगा रहा...मुस्लिम लड़को ने एक मुहिम भी चला रखी है कि कैसे भी हिंदु लड़की को जाल में फंसाकर उसके जिश्म फिरौती के साथ साथियों के साथ मिलकर लव जेहाद करके उनके परिवार वालों से मोटी रकम हड़पने का काम करते हुए वैश्यावृत्ति के बाजार में खुल्ला छोड़ देते थे। 

● मुस्लिम परिवार के लड़के ही जिम का संचालन में संलग्न क्योंः हिंदु ठेकेदार मौन...!

मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में मुस्लिम परिवार के लड़के जीम का संचालन करने के पीछे लव जिहाद का घिनौना काम कर रहे है। शहर में ज्यादा जिम जी का संचालन जेहादी ईरादों से किया जा रहा है, यह बात अब स्पष्ट होती दिख रही है। ज्यादातर ट्रेनर अल्ताफ जैसे ही हैं जो अपनी गंदी मानसिकता पूरी करने के लिए हिंदू नाम रख कर महिलाओं को उलझाते हैं। यहां सवाल हिंदू धर्म के ठेकेदारों पर भी उठता है जो इतनी बड़ी घटना के बावजूद चुप्पी साधे बैठे हैं। समाज की यह चुप्पी एक दिन हिंदू समाज के पराभव का कारण बन जाएगी और देखते देखते हम बर्बादी की कगार पर पहुंच जाएंगे। जानकार सूत्र बताते हैं कि यह एक मामला तो उजागर हुआ है, शहर की अनेक महिलाएं ऐसे जिहादियों के चक्कर में उलझी हुई है। लेकिन या तो परिवार कार्यवाई नहीं करता या समाज जागृति लाने में कमजोर हो जाता है।

● कमाने में या खुद में ही नहीं लगे रहें, परिवार भी देखें

आजकल लोग बस कमाने की दौड़ में इतने भीड़ गए हैं कि उन्हें अपने परिवार में बात करने का समय ही नहीं रहता है। ऐसे में जगत फुरसती ये जेहादी अपनी मानसिकता को पूरा कर लेते हैं। इन जेहादी घटनाओं से सबक लेते हुए लोगों को जाग्रत होकर ऐसी मानसिकता वालों के सामूहिक बहिष्कार की ओर जाना होगा। याद रखिये सांप पालतू भी हो जाये तो भी डसना नहीं छोड़ता। इसलिए हमारा वाला तो अच्छा है, ऐसा नहीं है, सोचना बंद कीजिए, वरना पछतावे के सिवा कुछ हाथ नहीं आएगा।

● मुनव्वर को क्यों बख्श रही है पुलिस...!

इस मामले में पुलिस जिम ट्रेनर अल्ताफ (आर्यन) को तो आरोपी बना चुकी है। मगर जिम संचालक मुनव्वर को बख्श दिया गया है। आखिर मुनव्वर की सहमति या शह के बिना कोई ट्रेनर जेहादी काम कैसे कर सकता था। पुलिस को चाहिए कि मुन्नवर की भूमिका की भी जांच कर उस पर भी शिकंजा कसना चाहिए, क्योंकि उसकी भूमिका भी संदिग्ध नजर आ रही है, उसे भी गिरफ्तार कर गहन जांच करना चाहिए...। आखिर कितनी महिलाओं को इनकी घिनौनी हरकतों का शिकार होना पड़ा। अभी भी पुलिस सही दिशा में जांच करे तो कई लव जिहादी पुलिस की पकड़ में आ सकते है, और कई हिंदु परिवार सुरक्षित रह सकते है, सवाल यह भी उठाता है कि हिंदु परिवार भी बदनामी के नाम से डरता है, और अल्ताफ और मुनव्वर जैसे घिनौनी हरकत करने वालों के हौंसले बुलंद करने में कम गुनाहगार नहीं है। ताली दोनो हाथ से बजाती है, इस बात का भी ख्याल रख जाए...क्योंकि विश्नाथ बागोरा के परिजन कड़ा कदम उठाते तो इस युवक की जान नहीं जाती। 

● पालीवाल वाणी ब्यूरो-Sunil Paliwal-Anil Bagora...✍️

🔹 निःशुल्क सेवाएं :  खबरें पाने के लिए हमारे वाट्सएप ग्रुप से जोडऩे के लिए 9039752406 को सेव करके हमें नाम/पता/गांव अथवा/शहर की जानकारी व्हाट्सएप पर Update paliwalwani.com news लिखकर भेजें...सिर्फ संवाद के लिए 09977952406-09827052406

#

RELATED NEWS