Breaking News

मध्य प्रदेश / 31 मई को श्री मदनलाल राठौर को नई दिल्ली में मिलेगा राष्ट्रीय सहकारिता बंधु पुरस्कार

31 मई  को श्री मदनलाल राठौर को नई दिल्ली में मिलेगा राष्ट्रीय सहकारिता बंधु पुरस्कार
paliwalwani.com May 20, 2021 12:04 AM IST

पालीवाल वाणी मीडिया नेटवर्क-जगदीश राठौर...✍️

रतलाम. मालवा क्षेत्र मैं सहकारिता क्षेत्र के वरिष्ठ नेता, पूर्व जिला केंद्रीय सहकारी बैंक अध्यक्ष एवं भारतीय खाद्य निगम  (FCI) डायरेक्टर  मदनलाल राठौर का चयन वर्ष 2019 - 2020 के लिए राष्ट्रीय इफको सहकारिता बंधु पुरस्कार के लिए किया गया है. देश के प्रमुख उर्वरक उत्पादन संस्थान इंडियन फॉर्मर्स फर्टीलाइजर कोऑपरेटिव लिमिटेड (इफको) के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ उदयशंकर अवस्थी के हस्ताक्षरित पत्र से यह जानकारी मिली. श्री राठौर को मिले पत्र में इफको डायरेक्टर डॉ अवस्थी ने बताया है किभारत के सहकारिता आंदोलन को विकसित करने और उसे मजबूत बनाने में आपके योगदान की सराहना करते हुए संस्थान के निदेशक मंडल ने मीटिंग में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया है. ग्राम स्तर पर सहकारिता विकास के लिए महत्वपूर्ण कार्य के लिए यह वार्षिक सम्मान प्रदान किया जाता है. मिली जानकारी के अनुसार आगामी 31 मई 2021 को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों की उपस्थिति में इफको की 50 वी वार्षिक आम बैठक में श्री राठौर को राष्ट्रीय सहकारिता बंधु सम्मान के साथ 11 लाख रुपये की राशि एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जायेगा. 

●  मल्हारगढ़ को कर्मक्षेत्र बना कर विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़े : नीमच जिले की रामपुरा क्षेत्र के ग्राम तलाऊ में सन 1953 में जन्मे श्री मदनलाल राठौर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के तृतीय वर्ग प्रशिक्षित स्वयं सेवक हैं. मंदसौर जिले के मल्हारगढ़ को कर्मक्षेत्र बना कर विभिन्न क्षेत्रों में आगे बढ़े . 1983 - 84 में मंदसौर शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष बने, मल्हारगढ़ नगर पालिका पार्षद चुने गए. प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था अध्यक्ष बने. जनपद सदस्य रहे. बाद में मंदसौर जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचित हुए. ग्रामीण विकास विभाग की केंद्रीय समिति सदस्य भी रहे. भाजपा में जिलाध्यक्ष सहित संभाग के कई पदों पर दायित्व निर्वहन किया. वर्तमान में भारतीय खाद्य निगम के डायरेक्टर हैं. श्री राठौर वर्ष 2014 से 2019 तक नीमच - मंदसौर जिले की संयुक्त केंद्रीय जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष का दायित्व संभाला. इस दौरान बैंक प्रगति के साथ दोनों जिलों की 35 शाखाओं को कम्प्यूटरीकृत किया, बैंक से संबद्ध 172 प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्थाओं को सक्रिय करते हुए किसानों को ऋण वितरण और वसूली में रेकॉर्ड बनाया. सहकारी बैंक अध्यक्ष कार्यकाल में मानव सेवाएं और पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में उल्लेखनीय काम किया. बैंक कर्मियों और सहकारी संस्थाओं के सहयोग से मंदसौर - नीमच जिले में 13 रक्तदान शिविर लगाकर 10 हजार 400 ब्लड यूनिट रक्त जुटाया. यह रक्तदान रतलाम, नीमच, मंदसौर जिले में रिकॉर्ड है. वर्ष 2016 में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में 10 हजार छायादार पौधे रोपण कर संरक्षण किया जो आज आकार ले चुके हैं.

● व्हॉलीबाल, हॉकी और कबड्डी खिलाड़ी के साथ ओजस्वी वक्ता : सहकारी नेता श्री राठौर ने इस राष्ट्रीय सहकारिता पुरस्कार को अंचल के किसानों, सहकारी क्षेत्र, बैंक खातेदारों की उपलब्धि बताया, सबके सहयोग से सहकारी बैंक ने प्रगति की यह उसी का प्रतिफल है. इस प्रतिनिधि से चर्चा में श्री राठौर ने बताया कि क्षेत्र के वरिष्ठ सहकारिता पुरोधाओं सुंदरलाल पटवा, वीरेंद्र कुमार सखलेचा एवं ठा. किशोरसिंह सिसौदिया से बहुत सीखने को मिला. संघ के पितृ पुरूष कुशाभाऊ ठाकरे, वरिष्ठ सांसद डॉ लक्ष्मीनारायण पांडेय, विधायक ओमप्रकाश पुरोहित एवं पूर्व सहकारिता मंत्री कैलाश चावला के मार्गदर्शन में गतिशीलता बनाये रखी. श्री राठौर ने मंदसौर - नीमच जिले के छोटे से सहकारिता कार्यकर्ता को राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए चयनित करने के प्रति इफको प्रबंधन के साथ केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, सामाजिक न्याय और कल्याण मंत्री थावरचंद गेहलोत, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, सहकारिता मंत्री एवं अरविंद सिंह भदौरिया सहित वरिष्ठ नेताओं के प्रति आभार मानते हुए कृतज्ञता व्यक्त की हैं.

RELATED NEWS