Breaking News

मध्य प्रदेश / जावरा सीएमओ द्वारा वार्ड स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की वर्चुअल बैठक संपन्न : 50 मिनट की बैठक में अनेक सुझाव आए

जावरा सीएमओ द्वारा वार्ड स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की वर्चुअल बैठक संपन्न : 50 मिनट की बैठक में अनेक सुझाव आए
paliwalwani.com May 20, 2021 08:58 AM IST

पालीवाल वाणी मीडिया नेटवर्क-जगदीश राठौर...✍️  

जावरा. कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए सामाजिक सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु गठित वार्ड स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की वर्चुअल बैठक बुधवार को दोपहर 3ः15 बजे सीएमओ श्रीमती नीता जैन की अध्यक्षता में अचानक आयोजित की गई.जिसमें करीब 36 सदस्यों ने अपने महत्वपूर्ण सुझाव दिए. मीटिंग में अधिकांश सदस्यों ने नगर में साफ सफाई व्यवस्थित नहीं होने के साथ ही मच्छरों का प्रकोप, मच्छरों के प्रकोप से मलेरिया और मलेरिया से कोरोना होने, कोरोनावायरस संक्रमण के दौरान मध्यमवर्गीय परिवार की आर्थिक सहायता, पात्रता पर्ची की विसंगति, मुख्यमंत्री द्वारा अपात्र लोगों को भी शासन की ओर से 10 -10 किलो गेहूं आवंटन का कार्यान्वयन, कील कोरोना अभियान मे वार्ड स्तर पर समिति के सदस्यों की सहभागिता, समिति के सदस्यों के परिचय पत्र बनाने, वार्ड नंबर 17 के महत्वपूर्ण स्थान सुतारीपुरा में नगर पालिका द्वारा सार्वजनिक लाउडस्पीकर ना लगाने, खिड़की दरवाजा से बोर्डिया कुआ पहुंच मार्ग पर भारी मात्रा में कचरा संग्रहण, पूरे नगर में एक साथ मच्छर नाशक दवाई का छिड़काव तथा प्रमुख मोहल्ले के अलावा गली-गली में भी सेनीटाइजर का छिड़काव कराने, जलकर माफ करने, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा डोर टू डोर सही सर्वे न करने तथा नागरिकों द्वारा सर्वे में सहयोग न करने की बात रखी. शहर में अनेक स्थानों पर नगर पालिका द्वारा नाली निर्माण में लापरवाही एवं खुली नालिया होने से दुर्घटना एवं बीमारियां होने की और भी ध्यान आकर्षित किया गया. ठीक 4 : 50 पर संपन्न मीटिंग में कुछ सदस्य 5 से 7 बार संबंधित सदस्य का नंबर हो या ना हो लगातार सुझाव देते रहे, और किसी मजबूरीवंश सीएमओ ने उन्हें बीच में बोलने से रोका नहीं. दूसरी तरफ वार्ड नंबर 16 रविदास वार्ड से शासन द्वारा मनोनीत  सांसद प्रतिनिधि को सुझाव देने के लिए आमंत्रित ही नहीं किया. जब उन्होंने क्रम होने के बावजूद आमंत्रित नहीं किया तो मैंने बीच में बोलना शुरू किया वे अपनी बात पूरी कर ही नहीं पाई थी कि वार्ड नंबर 17 से 3 -3 सदस्यों को सीएमओ ने क्रमवार आमंत्रित किया और सांसद प्रतिनिधि का सेंटेंस पूरा नहीं होने के पूर्व बोलने से रोका गया. मीटिंग की खास बात यह रही कि सीएमओ ने अधिकांश सुझावों को काफी गंभीरता से लिया और शासन स्तर पर उचित कार्रवाई करने का  आश्वासन दिया. कुछ सदस्य एक दूसरे के सुझाव को गवाह के रूप में मौखिक सहमति पत्र प्रस्तुत करते हुए देखे गए, कुछ सदस्य सुझाव देने की बजाए भाषण देते दिखाई दिए. भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष पवन सोनी का सुझाव बहुत अच्छा रहा कि जावरा नगर के 30 वार्ड को तीन भागों में विभाजित कर अलग-अलग मीटिंग आयोजित की जाए. ताकि  सदस्यों का ज्यादा समय खराब ना हो. वर्चुअल मीटिंग में रवि यादव, अकरम कबाड़ी, अब्बास अली बोहरा, रवि हेमावत, अजयसिंह भाटी, सतीश सेठिया, अजीत चत्तर, श्रीमती किरण सोनी, सुधीर कोचट्टा, रजत सोनी श्रीमती मधुबाला राठौर, अब्दुल हकीम खान एडवोकेट, मनोहर पांचाल, संदीप राका, सत्यनारायण पांचाल, एवं राजेश शर्मा ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं.

 

RELATED NEWS