Breaking News

इंदौर / इंदौर अपडेट : दबंग विधायक श्री संजय शुक्ला ने किया सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का दौरा

इंदौर अपडेट : दबंग विधायक श्री संजय शुक्ला ने किया सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का दौरा
Ayush Paliwal-Pulkit Purohit April 07, 2021 01:19 AM IST

हॉस्पिटल में ज्यादा लापरवाही मिलेगी उस हॉस्पिटल के बाहर धरने पर बैठ जाउंगा, मरीजों की कोई सुनवाई नहीं

इंदौर । क्षेत्र क्रमांक एक के दबंग विधायक और महापौर पद के प्रत्याशी श्री संजय शुक्ला ने इंदौर के समस्त सरकारी अस्पतालों का दौरा अभियान में आज सबसे पहले सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का दौरा कर वहां की व्यवस्था का जायजा लिया. शुक्ला ने चचम किट पहनकर कोरोना मरीजों के वार्ड में जाकर उनसे मुलाकात की और उनके परिजनों के साथ हो रही पीड़ा को जाना. विधायक शुक्ला ने डॉक्टर सुमित शुक्ला, टंटू शर्मा, पूर्व पार्षद पति सर्वेश तिवारी के साथ पूरे हॉस्पिटल का दौरा किया. विधायक शुक्ला ने बताया की सबसे ज्यादा समस्या मरीजो को रेमडेसीवीर इंजेक्शन नही मिलने से आ रही है. 850 रुपए का इंजेक्शन 4 से 5 हजार रुपए में मिल रहा है. बाजार में इंजेक्शन की काला बाज़ारी हो रही है. उसके बाद भी मरीजो को बाजार में इंजेक्शन नही मिल पा रहा, लोग दुखी और परेशान हो रहे.  विधायक संजय शुक्ला ने आरोप लगाया कि सरकार द्वारा जो 700 करोड़ रुपए कोरोना के नाम पर दिए वो पैसा कहा है. मुख्यमंत्री जी उपवास की बजाय हॉस्पिटलो का दौरा करे और मास्क पहनाने की जगह इंजेक्शन की व्यवस्था करे, मुख्यमंत्री जी को स्वास्थ्य विभाग के अमले को आदेशित करना चाहिए कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी प्रतिदिन हॉस्पिटलों का दौरा करे,, शहर के सरकारी अस्पतालों में कॉविड 19 महामारी के चलते सारी व्यवस्थाएं भंग हो चुकी है. मरीजों की पीड़ा दूर नहीं हो पा रही है और उनके परिजनों को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसी पीड़ा के मद्देनजर विधायक श्री संजय शुक्ला ने शहर के सरकारी अस्पतालों का दौरा करने की शुरुआत की हैं. श्री शुक्ला ने पालीवाल वाणी को बताया कि देखने में आया है कि मरीजों को दवाई भी नहीं मिल रही है. जांच के लिए उनके परिजन इधर से उधर भटक रहे हैं. उनकी कोई सुनवाई नहीं हो पा रही हैत्र एक तरफ सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में बढ़-चढ़कर दावे कर रही है. दूसरी तरफ सरकारी अस्पतालों में बेहाली का आलम है. गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों को भी दवा नहीं मिल पा रही है. कहा जा रहा है कि इस दवा का शॉर्टेज है, बाजार से खरीद लो इससे निर्धन और गरीब वर्ग के मरीज इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं. अनेक सरकारी अस्पतालों में स्टाफ का रवैया ठीक नहीं है. उनकी सुनवाई नहीं हो पा रही है. श्री शुक्ला ने बताया कि यदि कोरोना मरीजो और उनके परिवार को सरकार की तरफ से उचित व्यवस्था नही मिलेगी तो जिस हॉस्पिटल में ज्यादा लापरवाही मिलेगी उस हॉस्पिटल के बाहर धरने पर बैठ जाउंगा।

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-Ayush Paliwal-Pulkit Purohit...✍️

RELATED NEWS