देश-विदेश

लैब में बनाया गया था कोरोना वायरस

Paliwalwani
लैब में बनाया गया था कोरोना वायरस
लैब में बनाया गया था कोरोना वायरस
  • आखिरकार दुनिया के सामने वो सच आ ही गया,जिसको लेकर पूरी दुनिया गंभीर संकट में रही। जी बात कर रहे हैं कोरोना वायरस की,आज इस बात पर से पर्दा उठ चुका है कि इस वायरस को आखिर कहां तैयार किया गया।

कोरोना वायरस (Corona Virus) के उत्पत्ति स्थल वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (Wuhan Institute of Virology) के शोधकर्ता ने ही सनसनीखेज दावा करते हुए बताया कि इस वायरस को चीन (China) ने एक बायो वेपन (Bioweapon) यानी जैविक हथियार के तौर पर तैयार किया था। शोधकर्ता ने दावा किया कि वायरस के चार अलग-अलग स्ट्रेन (Four Different Strains of the Virus) तैयार किए थे, जिससे पता लगाया जा सके कि कौन सा वायरस तेजी से फैल सकता है।

इंटरनेशनल प्रेस एसोसिएशन (International Press Association) के सदस्य जेनिफर जेंग (Jennifer Zheng) के साथ हुई खास बातचीत में वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के शोधकर्ता चाओ शाओ (Chao Shao) ने बताया कि कैसे दूसरे शोधकर्ता (Researcher) शॉन चाओ ने स्वीकार किया कि उसके सीनियर ने उसे चार अलग-अलग स्ट्रेन दिए थे, और उनकी टेस्टिंग करने की बात कही थी। चाओ शाओ का ये भी दावा है कि वुहान में 2019 के मिलिट्री वर्ल्ड गेम्स (2019 Military World Games in Wuhan) के दौरान कई सहयोगी गायब हो गए थे। हालांकि बाद में उनमें से एक ने खुलासा किया कि उन्होंने एथलीटों के स्वास्थ्य और हाइजीन की जांच करने के लिए होटल भेजा गया था। हालांकि, हाइजीन की जांच के लिए वायरोलॉजिस्ट की जरूरत नहीं है। चाओ शान ने शक जताया कि लापता साथियों को वायरस फैलाने के लिए होटल भेजा गया था।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Latest News
Trending News