स्वास्थ्य

Yoga Benefits : 5 किलोमीटर चलने के बराबर है केवल यह एक योगा!, बारिश में बाहर टहल नहीं पाते हैं तो घर पर ही उठाये तमाम फायदे

Pushplata
Yoga Benefits : 5 किलोमीटर चलने के बराबर है केवल यह एक योगा!, बारिश में बाहर टहल नहीं पाते हैं तो घर पर ही उठाये तमाम फायदे
Yoga Benefits : 5 किलोमीटर चलने के बराबर है केवल यह एक योगा!, बारिश में बाहर टहल नहीं पाते हैं तो घर पर ही उठाये तमाम फायदे

Yoga Benefits : 5 किलोमीटर चलने के बराबर है केवल यह एक योगा!, बारिश में बाहर टहल नहीं पाते हैं तो घर पर ही उठाये तमाम फायदे

Utkatasana: बारिश के मौसम में अक्सर हमारे पास वॉक करने के लिए जगह की कमी हो जाती है। हम घर के बाहर नहीं जा पाते हैं और फिर घर में उस तरह से वॉक करना संभव नहीं हो पाता है। ऐसी स्थिति में आप 5 किलोमीटर चलने के बराबर है ये 1 योगा कर सकते हैं जो कि बेहद ही कारगर है और इस स्थिति में इसे करना सेहत के लिए हर तरह से फायदेमंद है। दरअसल, 5 किलोमीटर चलने का मतलब है कि 6560 कदम चलना है। क्योंकि एक किलोमीटर में व्यक्ति 1312 कदम चलता है। इस लिहाज आप समझ सकते हैं कि इस एक योग को करने के कितने फायदे हो सकते हैं। 

5 किलोमीटर चलने के बराबर है उत्कटासन योग-Utkatasana Yoga

उत्कटासन जिसे कुर्सी मुद्रा के रूप में भी जाना जाता है या चेयर पोज भी कहा जाता, जो कि एक ऐसा आसन है जो 5 किमी चलने के बराबर फायदे दे सकता है। क्योंकि इसे करने के दौरान शरीर को वही फायदे मिलते हैं जो 30 मिनट या 5 किलोमीटर वॉक के दौरान मिलते हैं। जैसे
-इससे ब्लड सर्कुलेशन तेज होता है और मांसपेशियों में गर्मी पैदा होती है जिससे वेट लॉस में मदद मिलती है।
-यह योग पेट, घुटने, कूल्हे और कंधे की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।
-ये पाचन तंत्र और हृदय की कार्यप्रणाली में सुधार लाता है।
-यह पैरों के दर्द और एड़ी से संबंधित समस्याओं को कम करता है।

उत्कटासन कैसे करें-How to do Utkatasana

-खड़े रहें, सांस लेते हुए अपने हाथों की सीधी हथेलियों को एक-दूसरे को छूते हुए सिर के ऊपर उठाएं और अपने पैरों को एक साथ रखें।
-सांस छोड़ते हुए अपने घुटनों को मोड़ें और सीधे बैठें जैसा कि दिखाया गया है
-इस दौरान अपनी आंखें सामने की वस्तु पर रखें।
-इस दौरान ध्यान दें कि आपके घुटने एक साथ हों और पैर फर्श पर सपाट हों।

सांस लेने और छोड़ने के चक्र के 3-4 राउंड तक इसी स्थिति में रहें। इस दौरान पेट, कंधे और छाती की मांसपेशियों पर खास ध्यान दें और इसके बाद सांस अंदर लेते हुए सामान्य स्थिति में आ जाएं। अपने हाथ को बगल में कर लें फिर थोड़ा थमकर इसे 2-3 राउंड के लिए दोहराएं।

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Latest News
Trending News