Breaking News

इंदौर / पालीवाल समाज इंदौर में आडियो वायरल के बाद आया भूचाल-अध्यक्ष ने किया खंडन

पालीवाल समाज इंदौर में आडियो वायरल के बाद आया भूचाल-अध्यक्ष ने किया खंडन
Sunil Paliwal...✍ July 26, 2019 04:59 AM IST

आडियो सोशल मीडिया पर चलाया गया-उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी

इंदौर। पालीवाल ब्राह्मण समाज 44 श्रेणी इंदौर के कोषमंत्री के खिलाफ आडियो वायरल होने के बाद समाज में एकाएक भूचाल आ गया। बिना किसी सच्चाई जाने समाज के ही एक सदस्य ने कोषमंत्री पर गंभीर आरोप लगाकर उनकी छवि को धूमिल करने का प्रयास किया गया...आडियो वायरल होने बाद समाज अध्यक्ष श्री श्याम दवे को सफाई देने के लिए आगे आना पड़ा।

समाज भवन में कुछ सदस्यों के साथ चर्चा करने के बाद पालीवाल वाणी से चर्चा करते हुए कहा कि कोषमंत्री श्री रेवाशंकर पुरोहित के खिलाफ आडियो सोशल मीडिया पर चलाया गया वो गलत ओर तथ्यों के विपरित है। बिना सोचे समझे किसी के खिलाफ भी इस प्रकार की हरकत को समाज संज्ञान में लेकर उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। समाज अध्यक्ष को बधाई देना चाहुंगा उन्होंने पुरे प्रकरण पर जिस तेजी से एक्शन मोड पर आए वो काबिले तारीफ है।

पुरा मामला क्या है :-

समाज ने समाज के ही एक सदस्य को धर्मशाला में लाईट, बिजली, साउंड लगाने का ठेका दिया था...उक्त ठेका श्री घनश्याम दवे को दिया था, जिसकी एक हादसे में कुछ समय पुर्व मौत हो गई। उसे शर्तों के अनुसार ही समाज में काम करने की मंजूरी समाज की प्रबंध कार्यकारिणी के द्वारा दी गई। उस समय शर्त यह थी कि प्रति हेलोजन शुल्क समाज सदस्यों से 100 रूपए लिए जाएगे, मेंटेनेश ओर समाज विकास कार्य के लिए 30 रूपए समाजहित में समाज में जमा कराकर 70 रूपए ठेकेदार अपनी मेहनत के लेगा...कुछ समय तक कार्यप्रणाली सुचारू रूप से संचालित होती रही...श्री घनश्याम दवे का अकास्मिक एक्सीडेंट होने के बाद बॉम्बे हास्पितल में उपचार के दौरान मौत हो गई, उसके बाद उक्त ठेकेदारी का दायित्व उसके छोटे भाई धरम दवे पर आ गया...उसे किसी प्रकार की कोई भी जानकारी का ज्ञान नहीं होने के कारण अकारण कोषमंत्री ओर भवन मंत्री के खिलाफ गलत तरीके से आडियो जारी कर कोषमंत्री के कार्यकाल के ऊपर गंभीर आरोप लगाकर समाज में चर्चा का विषय बना दिया। जिसने भी सुना उसे आडियो में जिस प्रकार की शब्दावाली का प्रयोग किया गया वो कताई समाजहित में नहीं होकर अमर्यादित शब्दावाली की भाषा में बात की गई। जिसकी निंदा कई समाजसेवियों ने की।

सोशल मीडिया में कई बार समाज को बदनाम करने का प्रयास हुआ

आज कल एक फैशन का चलन हो गया है कि जैसे बोलने की आजादी मिली तो सोशल मीडिया पर बिना सोचे समझे अकारण ही हर किसी के बारे में टिका-टिप्पणी कर समाज को भी बदनाम करने का प्रयास किया जाता रहा है। कभी किसी पर लांछन लगाया तो कभी चम्मच मिले तो कभी काटोरी धर्मशाला के नीचे मिली जैसे शब्दों का प्रयोग करके भी सोशल मीडिया में हल्ला मचाया। समाज के जागरूक समाजसेवी सेवा करना तो नहीं चाहते लेकिन फ्री में वाही-वाही लुटने की हौंड में समाज को बदनाम करने से पीछे नहीं रहते-बिना प्रमाणित बातों का जिक्र कर पुरे समाज को कटघरें में खड़ा देते है, सदस्यों को सोचना चाहिए कि सोशल मीडिया में समाज के विभिन्न वर्गों के सदस्य जुडे हुए है, उनके समाने पुरे समाज की छवि धूमिल होती है, वो ही बात की जाए जो समाजहित ओर समाज को जगाने का काम करें...तथ्यों के आधार पर अपनी बात करने की आजादी है, लेकिन बिना सोचे समझे किसी पर आरोप लगाना समाजहित में कतई उचित नहीं है। समाज अध्यक्ष को बधाई देना चाहुंगा उन्होंने पुरे प्रकरण पर जिस तेजी से एक्शन मोड पर आए वो काबिले तारीफ है। उनके साथ पुरी कार्यकारिणी ने एक स्वर में आडियों को सरासर गलत बताते हुए कोषमंत्री के कार्यप्रणाली का समर्थन किया ओर समाज के खिलाफ कोई भी असत्य जानकारी पोस्ट करेगा उसके खिलाफ अनुशानात्मक कार्यवाही की घोषणा कर समाजहित में लिए गया निर्णय काबिले तारीफ होगा। उक्त निर्णय से सोशल मीडिया में कई प्रकार की गलत पोस्ट पर अंकुश लगाने का अच्छा प्रयास सिद्व होगा...वही समाज में अकारण गलत पोस्ट से बढ़ने वाला तनाव भी कम होगा...जिससे समाज में भाईचारा ओर एकता की मिशाल देखने को मिलेगी।

🔹 किसने क्या कहा...

समाज अध्यक्ष ने किया खंडन

पालीवाल समाज अध्यक्ष श्री श्याम दवे ने अपने उद्बोधन में सभी से निवेदन किया कि कोषाध्यक्ष श्री रेवाशंकर जी पुरोहित के खिलाफ डाला है वह आडियो-वीडियो सरासर गलत है, अब समाज के खिलाफ कोई असत्य जानकारी पोस्ट करेंगा उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।
श्याम दवे - अध्यक्ष पालीवाल ब्राह्मण समाज 44 श्रेणी

बातचीत कर समस्या हल करने का प्रयास करे

समाज के प्रति उत्तरदायी संपूर्ण कार्यकारिणी समिति पर समाज जनो को विश्वास करना चाहिए। ऐसे किसी मतभेद को बड़ा चढ़ाकर उजागर करने के पहले समाज के पदाधिकारियों से बात कर उस समस्या का हल निकालना चाहिए। समाज के सभी पदाधिकारी सेवा भाव से विकास हेतु तटस्थ है। उनका मनोबल बढ़ाए और किसी भी प्रकार की समस्या को फ़ैलाने के पहले बातचीत कर समस्या हल करने का प्रयास करे।
श्री शिवलाल पालीवाल कार्यकारिणी सदस्य

श्री धरम दवे से संपर्क नहीं हो सका

श्री धरम दवे से उसकी राय ओर बातचीत करने का काफी प्रयास किया गया किंतु संपर्क नहीं हो सका। मोबाईल पर संपर्क नहीं होने से उनकी राय प्रकाशित नहीं की जा रही है।
● पालीवाल वाणी ब्यूरो- Sunil Paliwal...✍
🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news नाम/पता/गांव/मोबाईल नंबर/ लिखकर भेजें...
🔹 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
▪ एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...
▪ नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...

RELATED NEWS