अन्य ख़बरे

नामांकन बाकी है'- कुछ षडयंत्रकारी थे जो चुनाव के बाद नंगे होंगे : टिकट कटने के बाद गरजे अश्विनी चौबे

paliwalwani
नामांकन बाकी है'- कुछ षडयंत्रकारी थे जो चुनाव के बाद नंगे होंगे : टिकट कटने के बाद गरजे अश्विनी चौबे
नामांकन बाकी है'- कुछ षडयंत्रकारी थे जो चुनाव के बाद नंगे होंगे : टिकट कटने के बाद गरजे अश्विनी चौबे

बक्सर. बिहार के बक्सर सीट से लोकसभा चुनाव की लड़ाई दिलचस्प होती दिख रही है. भले ही पार्टी ने केंद्रीय मंत्री और बक्सर से बीजेपी के वर्तमान सांसद अश्विनी चौबे को इस बार टिकट नहीं दिया है लेकिन उन्होंने अपने बयान से बड़ा संकेत दिया है. बक्सर के सांसद अश्विनी चौबै ने कहा है कि बक्सर में मैं ही रहूंगा.

चौबे का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने कहा है कि अभी नामांकन बाकी है. बहुत कुछ होने वाला है. किसने क्या समझा, नहीं समझा, मुझे पता नहीं, लेकिन हां कुछ षडयंत्रकारी थे जो चुनाव के बाद नंगे होंगे. चौबे ने इसके बाद कहा कि जो भी होगा मंगलमय होगा. अश्विनी चौबे ने ये बातें कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही हैं, जिसका वीडियो अब सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है.

मालूम हो कि बीजेपी ने इस बार अश्विनी चौबे का टिकट काट दिया है और इस सीट से गोपालगंज जिला के रहने वाले मिथिलेश तिवारी को टिकट दिया है. दूसरी तरफ महागठबंधन की बात करें तो महागठबंधन में ये सीट राजद के खाते में गई है. राजद ने इस सीट से बिहार के पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है. बक्सर सीट से ही आनंद मिश्रा भी मैदान में हैं जिन्होंने आईपीएस की नौकरी छोड़ कम उम्र में ही राजनीति में कदम रखा है.

अश्विनी चौबे की नाराजगी की खबरें उनके टिकट कटने के बाद से ही सामने आने लगी थीं. अश्विनी चौबे बिहार की बक्सर सीट से दो बार बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीते हैं. इस बार भी उनको उम्मीद थी कि पार्टी उनको मौका देगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. पार्टी ने पूर्व विधायक मिथिलेश तिवारी जो कि गोपालगंज जिला के रहने वाले हैं को इस सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Trending News