Breaking News

नाथद्वारा / नाथद्वारा में श्री नाथजी के दर्शन के लिए मंदिर के पट 19 से 27 अक्टूबर 2020 तक खोले जाना तय : सुविधा केवल स्थानीय वासियों को मिलेगी

नाथद्वारा में श्री नाथजी के दर्शन के लिए मंदिर के पट 19 से 27 अक्टूबर 2020 तक खोले जाना तय : सुविधा केवल स्थानीय वासियों को मिलेगी
Sunil Paliwal-Anil Bagora October 14, 2020 02:04 PM IST

● मंगला, राजभोग एवं भोग आरती के दर्शन ही खोले जाएंगे : श्रद्वालुजनों में उत्साह, वैष्णवजनों को निराशा

नाथद्वारा । पूज्यपाद तिलकायत महाराज श्री आज्ञा से प्रभु दर्शन स्थानीय व्यक्तियों के दर्शन लाभ 19 से 27 अक्टूबर 2020 तक करवाये जाना तय किया गया है । नाथद्वारा में 19 अक्टूबर 2020 से प्रभु श्रीनाथजी के दर्शन लाभ हेतु स्थानीय नागरिकों के लिए खोले जा रहे है। शहरवासियों में मंदिरों के पट खुलने को लेकर उत्साह है। नोवल-19 कोविड संक्रमित वैश्विक महामारी के चलते लॉकडाउन के बाद विगत 6 महीनों से अधिक लंबे समय के अंतराल के बाद नाथद्वारा के श्रीनाथजी मंदिर के पट सभी स्थानीय भक्तों के लिए खुलेगे। मंदिर मंडल नाथद्वारा मुख्य निष्पादन अधिकारी द्वारा जारी एडवाइजरी में बताया गया है कि परम पूज्य तिलकायत महाराजश्री की आज्ञा से नाथद्वारा के सभी स्थानीय नागरिकों को 19 से 27 अक्टूबर तक प्रभु श्रीनाथजी के दर्शन के लिए मंदिर के पट खोले जाना तय किया गया है। इसके लिए मंत्रिमंडल द्वारा जिला कलेक्टर महोदय राजसमंद से अनुमति हेतु निवेदन किया गया है। स्थानीय निवासियों को न्यू कॉटेज स्थित काउंटर पर निर्धारित फॉर्म भर कर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा। रजिस्ट्रेशन के उपरांत स्थानीय निवासियों को पास उपलब्ध कराए जाएंगे, जिससे वह दर्शन प्राप्त कर सकते हैं।  जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं होगा वह दर्शन सुविधा मिलना संभव नहीं होगा। जिनका रजिस्ट्रेशन हो चुका है, उन्हें 17 अक्टूबर से दर्शन पास जारी किए जाएंगे।

● प्रत्येक दर्शन के लिए 500 दर्शनार्थियों को ही दर्शन लाभ 

मंदिर मंडल नाथद्वारा मुख्य निष्पादन अधिकारी श्री जितेन्द्र कुमार ओझा ने पालीवाल वाणी को बताया कि अभी मंगला, राजभोग एवं भोग आरती के दर्शन ही खोले जाएंगे एवं प्रत्येक दर्शन के लिए 500 दर्शनार्थियों को ही दर्शन लाभ मिल सकेगा। दर्शन पास न्यू कॉटेज काउंटर से उपलब्ध कराए जाएंगे। ऐसे मे सरकार के निर्देशानुसार सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के साथ चेहरे पर मास्क लगाना एवं स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना, व्यक्तिगत दूरी बनाए रखना जैसी व्यवस्थाएं भी सुचारु  रखना अनिवार्य होगा। दर्शन हेतु प्रवेश लक्ष्मी विलास धर्मशाल से होकर नक्कारखाना से पुरूष व महिला रेलिंग के द्वारा होगा।

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-sunil paliwal-Anil Bagora...✍️

🔹 निःशुल्क सेवाएं : खबरें पाने के लिए पालीवाल वाणी से सीधे जुड़ने के लिए अभी ऐप डाउनलोड करे :  https://play.google.com/store/apps/details?id=com.paliwalwani.app  सिर्फ संवाद के लिए 09977952406-09827052406

RELATED NEWS