अन्य ख़बरे

इकलौते बेटे ने की थी खुदकुशी : वहीं मां ने भी दी अपनी जान…

Paliwalwani
इकलौते बेटे ने की थी खुदकुशी : वहीं मां ने भी दी अपनी जान…
इकलौते बेटे ने की थी खुदकुशी : वहीं मां ने भी दी अपनी जान…

कोरबा : इकलौते बेटे के जाने का गम मां को सालभर तक सालता रहा. आखिरकार जब बर्दाश्त नहीं हुआ तो ठीक उसी स्थान पर जाकर रेलवे ट्रेक पर लेट गई, जहां उसके बेटे ने आत्महत्या की थी. ट्रेन ने पलभर में महिला का सिर धड़ से अलग कर दिया. घटना के बाद पुलिस अपनी जांच में जुट गई है.

सर्वमंगला पारा क्षेत्र की निवासी दिलहरण प्रसाद की 85 वर्षीय पत्नी डेजी बाई ने रेलगाड़ी से कटकर जान दे दी. रेलवे ट्रैक उसका शव दो हिस्से में मिला. कोरबा कुसमुंडा रेल सेक्शन में हुई इस घटना की पुलिस के जरिए आरपीएफ को जानकारी मिली, जिसके बाद आगे की कार्रवाई पूरी की गई. रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स के कोरबा प्रभारी कुंदन कुमार झा ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का ही है.

मामले में जो बात सामने आई है उसके अनुसार, महिला के इकलौते पुत्र राजेश कुमार ने 24 मार्च 2021 को इसी स्थान पर खुदकुशी की थी. घटना के बाद महिला अपनी बेटियों से यह बात कहा करती थी कि राजेश उसे बुला रहा है.

जानिए क्या कहते हैं मनोचिकित्सक

घटनाक्रम को लेकर प्रकरण दर्ज करते हुए अगली कार्रवाई की जा रही हैं. महिला की मौत को लेकर जिस तरह के दावे किए जा रहे हैं. इस बारे में मनोचिकित्सक बताते हैं कि करीबी के साथ घटना होने के बाद लोग कई तरह के विचारों में डूब जाते हैं. वे घटना को लेकर लगातार ना केवल सोचते हैं, बल्कि उसे दृश्य में पिरोने की अनुभूति भी करते हैं, और इन सब के बीच ऐसा कुछ हो जाता है जिससे परिवार को बड़ा नुकसान उठाना पड़ जाता है.

whatsapp share facebook share twitter share telegram share linkedin share
Related News
GOOGLE
Trending News