Breaking News

इंदौर / इंदौर अपडेट : 25 से 30 प्रतिशत लोगों ने कभी निगम टैक्स जमा ही नहीं किया - एस कृष्ण चैतन्य

इंदौर अपडेट : 25 से 30 प्रतिशत लोगों ने कभी निगम टैक्स जमा ही नहीं किया - एस कृष्ण चैतन्य
Ayush Paliwal-Pulkit Purohit April 02, 2021 10:05 PM IST

इंदौर । नगर पालिक निगम इंदौर के अपर आयुक्त राजस्व एस कृष्ण चैतन्य ने बताया कि पिछले वर्ष 2019-20 के दौरान नगर निगम ने 555 करोड़ राजस्व वसूली की गई थी। इस बार कोविड-के चलते अभी तक राजस्व वसूली 485 करोड़ ही हो पाई है। इनमें 295 करोड़ संपत्तिकर, 48 करोड़ जलकर, 38 करोड़ कचरा कलेक्शन 79 करोड़ बिल्डिंग परमिशन कॉलोनी सेल और 25 करोड़ रुपए की राशि मार्केट और स्पॉट फाइन आदि से प्राप्त हुई है। इस तरह पिछले वर्ष से नगर निगम को अब तक ₹70 करोड़  कम राशि प्राप्त हुई है। श्री चैतन्य ने बताया कि वर्तमान में नगर निगम में 5 लाख 85 हजार संपत्ति कर के खाते दर्ज हैं जिनमें से 2 लाख 23 हजार लोगों ने ही संपत्ति कर जमा किया हैं। इस तरह सिर्फ 43 प्रतिशत लोगों ने ही अपना संपत्ति कर चुकाया है। उन्होंने बताया कि जल कर के शहर में 2 लाख 60 हजार खाते दर्ज हैं लेकिन इस वर्ष मात्र 83 हजार लोगों ने ही जलकर की राशि जमा की है। श्री चैतन्य ने बताया कि इस बार लगभग 4 लाख लोगों ने कचरा कलेक्शन शुल्क जमा किया है। श्री चैतन्य के अनुसार शहर के 32-33 वार्ड ऐसे हैं, जहां जलकर और संपत्ति कर की राशि सबसे कम जमा हो रही है। श्री चैतन्य ने कहा कि शहर के 25 से 30 परसेंट संपत्ति धारक ऐसे हैं, जिन्होंने कभी भी निगम के कर जमा नहीं किया। श्री चैतन्य ने कहा कि अगर नगर निगम सभी करदाताओं से कर वसूली कर ले तो यह राशि लगभग 1200 सौ करोड़ रुपए होगी। इस राशि से 1-2 वर्ष ही नगर निगम को चलाया जा सकता है। ऐसे में जरूरी है कि या तो लॉसेस कम किए जाएं या फिर टैक्स की बढ़ोतरी की जाए। अगर देखा जाएं  तो शहरहित में अन्य आय पर भी जोर देना होगा...जिससे निगम की आय में बढ़ोत्री की जा सकें। 

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-Ayush Paliwal-Pulkit Purohit...✍️

RELATED NEWS