Latest News
      1. मेनारिया समाज में अन्नकूट महोत्सव आज      2. युवा ब्रह्मशक्ति का राष्ट्रीय अधिवेशन ब्रह्मोत्सव उदयपुर में संपन्न      3. खो-खो में चार बालिकाओं का विश्व विद्यालय की टीम में चयन      4. मंत्री किरण माहेश्वरी ने किया ग्रामीण क्षैत्रों में सघन जनसम्पर्क      5. निर्वाचन से जुड़ी मशीनरी प्रोएक्टिव होकर करें चुनावी कामकाज का सम्पादन: मारुत त्रिपाठी      6. कांग्रेस द्वारा प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी नहीं होने पर जिले में दावेदारों की बढ़ी धडक़ने

राष्ट्रीय लोक अदालत में लोक अदालत की भावना से हुआ प्रकरणों का निस्तारण

suresh bhat     Category: राजसमन्द     23 Apr 2018 (3:14 AM)

राजसमंद । राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार राजसमंद न्यायक्षेत्र में 14 राष्ट्रीय लोक अदालत बैंचों का गठन किया गया। अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुलाकी दास व्यास ने राष्ट्रीय लोक अदालत के लिए जिले के समस्त न्यायिक अधिकारी एवं पुलिस, प्रशासनिक, बैंकीय एवं अन्य अधिकारियों की समय-समय पर बैठक लेकर लोक अदालत को सफल बनाने के लिए निर्देशित किया। राष्ट्रीय लोक अदालत में दांडिक शमनीय प्रकरण, 138 एनआई एक्ट प्रकरण, बैंक रिकवरी मामले, एमएसीटी के विवाद, वैवाहिक प्रकरण, अन्य सिविल प्रकृति के विभिन्न प्रकरण आपसी राजीनामे के माध्यम से निस्तारित करने, पक्षकारान को समझाकर राष्ट्रीय लोक अदालत के महत्व को बताकर प्रकरणों का निस्तारण राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा के आधार पर किया और पक्षकारान के बीच आपसी वैमनस्यता को समाप्त किया। पक्षकारों ने ऐसी ही लोक अदालतें बार बार आयोजित करने का निवेदन किया। पक्षकारान को राष्ट्रीय लोक अदालत के महत्व को समझाकर बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा करने पर न्याय शुल्क वापस अदा कर दिया जाता है। पूर्वकालिक सचिव नरेन्द्र कुमार ने समय समय पर न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों से संबंधित फाइनेंस कम्पनियों, बैंक अधिकारियों से वार्ता कर अधिक से अधिक मामलों में राजीनामा करने के लिए प्रेरित किया। व्यास ने समस्त न्यायिक अधिकारियों व कर्मचारियों व अधिवक्ताओं से आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक प्रकरणों का निस्तारण राजीनामा करने एवं उनके महत्ती योगदान के लिये आह्वान किया। इस राष्ट्रीय लोक अदालत में समस्त अधिवक्ताओं नें भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। पारिवारिक जिला न्यायाधीश शिवकुमार शर्मा ने दंपती के मध्य आपसी मनमुटाव दूर कर उनके मध्य राजीनामा किया गया।

पक्षियों के लिए बांधे परिण्डे

Paliwalwani Newspaper
पृथ्वी दिवस के उपलक्ष्य पर रविवार को जिला न्यायालय परिसर में अपर जिला सेशन न्यायाधीश बुलाकीदास व्याय, पारिवारिक जिला न्यायाधीश शिव कुमार शर्मा, मुख्य न्यायिक मजिस्टे्रट शैलेष जडिय़ा, जिला विधिक सेवा प्राधिकारण पूर्वकालिक सचिव नरेन्द्र कुमार, न्यायिक मजिस्टे्रेट अनिता शर्मा, बार एसोसिएशन अध्यक्ष जयदेव कच्छावा, दिनेश कुमार खटीक, संपत लढ्ढा, खुशवंतसिंह सहित कई अधिवक्ताओं एवं न्यायिक कर्मचारियों ने पक्षियों के लिए परिण्डे बांधे।
फोटो राजसमंद। जिला मुख्यालय पर आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में दंपती के मध्य आपसी राजीनामे के बाद माला पहनाकर स्वागत करते न्यायिक अधिकारीगण एवं लोक अदालत में उपस्थित पक्षकार।
फोटो । विश्व पृथ्वी दिवस पर जिला न्यायालय परिसर में पक्षियों के लिए परिण्डे बांधते न्यायिक अधिकारी एवं अधिवक्ता।
*एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...*
पालीवाल वाणी ब्यूरो-सुरेश भाट ✍️
*आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए-*
Email-paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
*पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...*

Paliwal Menariya Samaj Gaurav