Breaking News

आपकी कलम / प्रकृति...रेशमा त्रिपाठी...✍

प्रकृति...रेशमा त्रिपाठी...✍
Pulakit Purohit-Pushpendra Paliwal ... ✍ June 04, 2019 07:36 PM IST

हरियाली एक प्रकृति दृश्य हैैं
जिससे हम सिंचित होते हैं।
तन– मन से आह्लादित होते
उनकी शुद्ध हवाओं से ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
यह धरा हमारा एक घर हैं
और पर्यावरण हमारी छत ।
उनको काटते हो क्यों तुम
जो सबको हैं छाया देते ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
हरियाली देखें तो रोशनी बढ़ती
चलें हरी दूब पर नंगे पांव तो ।
चिन्ता की बीमारी कम हैं होती
और छाया,लकड़ी, फल तो इनका
मानो हम सब कुछ भुलाए बैठें हैं ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
मानव,पशु और जीव– जन्तु को
सबको वह तृप्ती देते हैं ।
मानव और प्रकृति के बीच
वह सन्तुलन बनाते हैं ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
कितने निर्धन के घर में वह
वह जल कर भोजन पकाते हैं ।
इतने उपयोगी वृक्षों को
हे! मानव क्यों तुम नित काट रहे हो।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
इनके कट जाने से मानव
तुम अंधे हो जाओगे ।
धीरे –धीरे तेरा जीवन
अन्धकार में डूब रहा हैं अब ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●
प्रकृति बचाओ अब तुम मानव
वृक्ष लगाओ अब तुम मानव।
यह पर्यावरण तुम्हारा हैं
और अब बनों तुम इसके संरक्षक ।।
●▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬●

● लेखिका –रेशमा त्रिपाठी...✍

प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश
● पालीवाल वाणी ब्यूरो...
🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news लिखकर भेजें...
🔹 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
▪ एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...
▪ नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ....

RELATED NEWS