Breaking News

इंदौर / इंदौर अपडेट : कोरोना प्रकोप के चलते पालीवाल समाज इंदौर की साधारण सभा स्थगित

इंदौर अपडेट : कोरोना प्रकोप के चलते पालीवाल समाज इंदौर की साधारण सभा स्थगित
Sunil Paliwal-Anil Bagora April 08, 2021 01:38 AM IST

इंदौर । श्री पालीवाल ब्राह्मण समाज 44 श्रेणी इंदौर अध्यक्ष श्री अखिलेश पुरोहित के आदेशानुसार समस्त सदस्यों को सूचित करने में आता है कि कल दिनांक 7 अप्रैल 2021 बुधवार को प्रबंध कार्यकारिणी समिति इंदौर की बैठक आहुत की गई, जिस पर गंभीरता पूर्वक चर्चा हुई, जिसमें बताया गया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 कोरोना संक्रमित वायरस इंदौर में तेजी से फैल रहा है, और शासन की गाइडलाइन के निर्देशानुसार साधारण सभा तय समय में आयोजित की जाना संभव नहीं हैं. प्रबंध कार्यकारिणी ने सर्वसहमति से निर्णय लिया है कि दिनांक 14 अप्रैल 2021 रविवार को होने वाली संस्था की साधारण सभा आगामी सूचना तक स्थगित की जाए. अध्यक्ष एवं मंत्री महोदय ने सहमति जताते हुए श्री पालीवाल ब्राह्मण समाज 44 श्रेणी इंदौर-पालीवाल समाज भवन, श्री चारभुजा मंदिर इंदौर में आयोजित होने वाली साधारण सभा स्थगित की जाती हैं. कोरोना संक्रमित बीमारी के कम होते ही शासन के निर्देश एवं गाइडलाइन के आदेशानुसार समाज की साधारण सभा आहुत की जाएगी. जिसकी सूचना नियमानुसार भविष्य में तिथि निर्धारित कर आपको समाचार के माध्यम से पुन : सुचित किया जाएगा. समस्त सदस्यों को होने वाली असुविधा के लिए प्रबंधकार्यकारिणी को खेद है. उक्त जानकारी समाज के मंत्री श्री लक्ष्मीनारायण बागोरा (एव्डवोकेट) ने पालीवाल वाणी को दी.

●  साधारण सभा को लेकर हुई थी आपत्ति : पालीवाल समाज इंदौर के द्वारा कोरोना संक्रमित महामारी के बीच साधारण आयोजित करना किसी को समझ में नहीं आ रहा था कि शासन की गाइडलाइन का समाज कैसे उल्लंघन करते हुए इतने सदस्यों को कैसे बुला सकता है. जबकि शासन की ओर से सार्वजनिक एवं धार्मिक एवं अन्य गतिविधियां की अनुमति प्रतिबंधित थी. जिसको लेकर कई सदस्यों ने अपनी राय सोशल मीडिया पर जाहिर करते हुए होने वाली साधारण सभा पर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए अपनी-अपनी राय व्यक्त करते हुए आपत्ति दर्ज कराई थी. पूर्व कार्यकारिणी सदस्य श्री नारायण दवे ने भी करोना काल के चलते ओर इस महामारी के विकराल रूप को देखते हुए कैसे साधारण सभा आहुत होगी...! शासकीय आदेशो की अवहेलना कैसे कि जा सकती है. आपको बताना उचित होगा की आप आप रजिस्टर्ड संस्था के रूप में संचालन कर रहे हैं. किसी भी सदस्य या सदस्यों के द्वारा आपत्ति लेने पर आपके लिए असमंजस की स्थित निर्मित हो सकती हैं. जैसे कई साथियों ने साधारण आहुत करने पर असहमत थे. प्रबंधकार्यकारिणी के द्वारा समय के पूर्व लिया गया निर्णय स्वागत योग्य कदम हैं. भविष्य में सभी परिस्थितियों का अध्ययन करते हुए. साधारण सभा आहुत होगी. ऐसी अप्रेक्षाएं है.

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-Sunil Paliwal-Anil Bagora..✍️

RELATED NEWS