Breaking News

इंदौर / दा ग्रैंड माचल पिकनिक स्थल व होटल सील...कोरोना फैलाने वाले संचालक पर हो रासुका

दा ग्रैंड माचल पिकनिक स्थल व होटल सील...कोरोना फैलाने वाले संचालक पर हो रासुका
paliwalwani.com March 30, 2021 12:25 AM IST

●  उमेश शर्मा के बाद अब महापौर मालिनी गौड़ बोली ग्रैंड माचल अपना स्वीट्स संचालकों पर रासुका हो...कलेक्टर इदौंर के जांबाज सिपाही

इंदौर । कोरोना फैलने के बाद देश मे पहला ऐसा मामला है, जब प्रतिबंध के बाद भी 2000 लोग पार्टी करते अवैध दा ग्रैंड माचल  (अपना स्वीट्स) पर मिले, सोमवार के दिन जब पुरा शहर त्यौहार के पर्व पर घर ही होली महोत्सव मनाया जा रहा है, ऐसे में इंदौर शहर को कुछ भी नहीं समझने वाले दा ग्रैंड माचल में खुल्ले आम कोरोना संक्रमित बीमारी को फैलते हुए कोविड-19 का उल्लंघन किया गया, बेटमा क्षेत्र के माचल गांव में बने द ग्रैंड माचल पिकनिक स्थल, होटल और गेम जोन में सोमवार की रात कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही थी। कलेक्टर को जैसे ही खबर लगी, उन्होंने तत्काल कार्यवाही के निर्देश देते हुए दा ग्रैंड माचल  पर सख्त कार्यवाही के संकेत देते हुए सील कर दिया। दा ग्रैंड माचल  के संचालकों पर चौतरफा कार्यवाही की मांग उठने लगी। वही भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा ने दा ग्रैंड माचल के संचालक पप्पू उर्फ प्रकाश राठौर, भूपेंद्र राठौर, चंद्र प्रकाश पुरोहित ओर ट्विंकल जैन पर हो रासुका की मांग उठाई थी। उसके बाद महापौर एवं विधायक मालिनी गौड़ ने भी रासुका की मांग की है। वही कलेक्टर मनीष सिंह की इस कार्यवाई को काबिले तारीफ बताया है। इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को कोरोना गाईड़ लाईन और निर्देशों के उल्लंघन की मिली थी शिकायत... संचालकों पर FIR दर्ज करने, रासुका लगाने ओर अवैध दा ग्रैंड माचल को तोड़ने की मांग, शहर को कोरोना से बचाना हैं, ऐसे लोगो पर रासुका की कार्यवाई होनी चाहिए। क्योकि दो बार पहले भी अपना स्वीट्स पर धारा 188 सहित कोरोना फैलने की धाराओ में कार्यवाई हो चुकी हैं, राजनीति दलों के साथ गहरी दोस्ती उन नेताओं पर भी भारी पड़ गई जब संचालको ने कोरोना गाइडलाइन के सारे नियम तोड़ दिए...दबंगता दिखाते हुए 2000 के लगभग लोग पार्टी मनाते हुए होली का जश्न मनाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का मजाक बना रहे थे...दा ग्रैंड माचल में जितने भी लोग शामिल थे उनके विरूद्व कठोर कार्यवाही करते हुए भारी जूर्माना लगाया जाना चाहिए।

●   कोरोना के खिलाफ मुख्यमंत्री शिवराज का सरकारी अभियान क्या नोटंकी है...! 

मुख्यमंत्री लोगो से अपील कर रहे हैं कि होली घर पर मनाये उधर इंदौर के दा ग्रैंड माचल  अपना स्वीट्स पर जब पूरा इंदौर होली का जबरिया लॉक डाउन मना रहा था ऐसे में बड़ी संख्या में लोग कैसे खाना खाने पहुंचे ...! स्थानीय थाना प्रभारी और प्रशासन की भूमिका पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं ...! आम लोगो पर कार्यवाही और प्रभावी लोगो को छूट...! नियमानुसार लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर जितने लोग खाना खाते पाये गये... उन सभी लोगो के विरुद्ध भी प्रकरण दर्ज कर जेल भेजने की कार्यवाही होना चाहिए ...! ग्रेंट माचल में सैकड़ों लोगों को लॉक डाउन के दौरान खाना परोसना कलेक्टर मनीष सिंह, डी आईजी मनीष कपूरिया सहित पूरे प्रशासन को चुनौती है ...! मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के माफियाओं के विरुद्ध कार्यवाही पर भी सवाल खड़े हो रहे कि लोगो को होली पूजन होली जलाने की अनुमति मुश्किल से दी गयी ...! और रेस्टोरेंट को खुली छूट ने बढ़ते कोरोना पर प्रशासन की पोल खोल दी... लोगो में किस तरह कानून का ख़ौफ़ है...! धन्य है मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री जो कोरोना को लेकर होली जलाने ,पूजने की छूट बड़ी मुश्किल से देते हैं और जो नियम तोड़ रहे उन पर प्रशासन मेहरबान...!

!● !  भाजपा नेताओं ने दिखाया आक्रोश....रासुका की कार्यवाही की मांग

   भाजपा के वरिष्ठ नेता कृष्ण मुरारी मोघे बोलो दा ग्रैंड माचल के संचालकों पर जिला प्रशासन कठोर से कठोर कार्यवाई करे : कृष्ण मुरारी मोघे

   कलेक्टर मनीष की कार्यवाई को बताया शानदार...भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता का बोले कोरोना फैलाने वाले दा ग्रैंड माचल के संचालक पप्पू उर्फ प्रकाश राठौर , भूपेंद्र राठौर , चंद्र प्रकाश पुरोहित ओर  ट्विंकल जैन पर हो रासुका : उमेश शर्मा फिर हुए मुखर

RELATED NEWS