Breaking News

इंदौर / इंदौर अपडेट : इंदौर नगर निगम की गुंडागर्दी...प्रेस की आजादी पर हमला...खुलासा फर्स्ट अखबार के कार्यालय में तोड़फोड, स्टाफ से की मारपीट

इंदौर अपडेट : इंदौर नगर निगम की गुंडागर्दी...प्रेस की आजादी पर हमला...खुलासा फर्स्ट अखबार के कार्यालय में तोड़फोड, स्टाफ से की मारपीट
paliwalwani.com April 03, 2021 11:03 PM IST

इंदौर । (मनोज जोशी) निगम के 40 से 50 कर्मचारियों ने खुलासा फर्स्ट अखबार के कार्यालय में जबरन घुसकर की तोड़फोड, स्टाफ से की मारपीट खुलासा फर्स्ट, इंदौर के समर्थन में एक फिर इंदौर वासियों ने दिखाया साहस और निगम के कामों पर प्रश्नचिंह लगाते हुए पुछ रहे कि क्या हमने इंदौर को नंबर वन इसलिए बनाया था कि जबारिया टैक्स का भार भोली भाली जनत को सहन करना पड़े जब इंदौर की आवाज मीडिया के साथ जनप्रतिधियों ने एक स्वर में निगम अफसरों मुंसबे ध्वस्त किए उसके बाद यकायक जनता पर मास्क के नाम पर पीली गाड़ी में बैठ निगम कर्मचारी मास्क के नाम पर गुंडागिर्दी पर उतार आए...जब उससे भी मन नहीं भरा तो इंदौर की आवाज बनकर खुलासा फर्स्ट इंदौर वासियों के विरोध को सरकार तक पहुंचने का प्रयास किया गया तो लोकतंत्र के चौथे स्तंभ खुलासा फर्स्ट अखबार के कार्यालय पर जबरन घुसकर लाखों रूपए की क्षति करते हुए कई कर्मचारियों के साथ मारपीट की गई। विधायक श्री संजय शुक्ला एक फिर खुलकर मीडिया का साथ देते हुए लोकतत्र के चौथे स्तंभ पर हमले की कड़े शब्दों में निंदा की। 

इंदौर नगर निगम की गुंडागर्दी लगातार जारी है। निगम के कर्मचारियों और अधिकारियों ने अब प्रेस की आजादी पर हमला किया है। शनिवार दोपहर करीब 1 बजे नगर निगम के लगभग 50 कर्मचारी और अधिकारी  अखबार के शॉपिंग कॉम्पलेक्स एबी रोड स्थित कार्यालय में जबरन घुस गए। निगम कर्मचारियों द्वारा अखबार के कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। अखबार के कर्मचारियों ने जब निगम की इस गुंडगर्दी का विरोध किया तो निगम कर्मचारियों व अधिकारियों ने अखबार के स्टाफ के साथ मारपीट की। 

गौरतलब है कि अखबार द्वारा नगर निगम द्वारा की जा रही गुंडागर्दी के विरोध में लगातार खबरें प्रकाशित की जा रही है। शायद इसी से बौखलाकर इंदौर नगर निगम ने उक्त शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया है। निगम की यह शर्मनाक हरकत अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और प्रेस की आजादी पर हमला है। इस समय थाना एम आई जी पर प्रेस और निगम कर्मचारियों का हुजूम लगा हुआ है पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी जिसमें एडिशनल एसपी एवं पुलिस अधीक्षक थाने पर मौजूद है और दोनों पक्षों की बात सुनी जा रही है जहां निगम कर्मचारियों ने थाने के सामने ही गाड़ियों की लाइन लगा दी है वही पत्रकार साथी थाने पर मौजूद थें। गौरतलब है की निगम कर्मचारियों की गुंडागर्दी इन दिनों शहर में चरम पर है मास्क नहीं पहनने पर या ठीक से नहीं पहनने पर चालानी कार्रवाई का प्रावधान है लेकिन निगम गुंडागर्दी करने पर और गाली गलौज करने से पीछे नहीं हटती पिछले कई दिनों से निगम कर्मचारियों की गुंडागर्दी के वीडियो एवं फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होते नजर आए हैं जहां पूर्व में पुलिसकर्मी से विवाद में पुलिस ने तत्काल एफ आई आर दर्ज करते हुए कार्यवाही की थी लेकिन प्रेस पर हुए इस हमले पर पुलिस का रवैया भी ढीला है

बाइट, आशुतोष बागरी पुलिस अधीक्षक

● पालीवाल वाणी ब्यूरों-...✍️

RELATED NEWS