Latest News
      1. उर्त्षक जोशी, प्रखर जोशी का गोताखोर में दोनो भाई की कोई होड़ नही...इसका श्रेय श्री रमेश व्यास को       2. उर्त्षक जोशी, प्रखर जोशी का गोताखोर में दोनो भाई की कोई होड़ नही...इसका श्रेय श्री रमेश व्यास को       3. उर्त्षक जोशी, प्रखर जोशी का गोताखोर में दोनो भाई की कोई होड़ नही...इसका श्रेय श्री रमेश व्यास को       4. अच्छी बारिश और खुशहाली की कामना को लेकर मेनार में विशाल कावड़ आज      5. श्री हीरालाल जोशी, मनोज जोशी का जन्मदिन एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लेकर मनाया       6. समाजसेवी श्री सुरेश दवे का जन्मदिन संस्था ब्राह्मण परिवार ने मनाया
जमीन विवाद में युवक फतहलाल मेनारिया की हत्या-ग्रामीणों ने आरोपियों के आंगन में जलाया शव - Paliwalwani.com

जमीन विवाद में युवक फतहलाल मेनारिया की हत्या-ग्रामीणों ने आरोपियों के आंगन में जलाया शव

paliwalwani...✍️     Category: उदयपुर     09 Jul 2018 (2:01 AM)

उदयपुर। जिले के खैरोदा थाना क्षेत्र में खरसाण गांव में जमीन विवाद को लेकर एक अधेड़ ने अपने दो पुत्रों के साथ मिलकर अपने चचेरे भतीजे की पीट-पीटकर हत्या कर दी। ग्रामीणों ने शव का आरोपियों के घर के आंगन में ले जाकर अंतिम संस्कार कर दिया। घटना की जानकारी पर मौके पर भारी पुलिस बल पहुंचा। परन्तु हजारों की संख्या में आक्रोशित ग्रामीणों को देखकर पुलिस बल भी कुछ नहीं कर पाया उक्त घटना ने मेनारिया समाज को हिला कर रख दिया। घटना की जानकारी पर सुबह खैरोदा थानाधिकारी पूनाराम गुर्जर पूलिस जाब्ते के साथ पहुंचे। पालीवाल वाणी को पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार खरसाण निवासी फतहलाल भीमावत (40) पुत्र मोहनलाल मेनारिया 5 जूलाई 18 गुरूवार को दोपहर 4 बजे अपने ट्रेक्टर चालक भटेवर निवासी कालू गमेती के साथ रेल्वे पुल के पास मालेवाले खेत में हकाई कर रहा था। जुताई के दौरान फतहलाल का ट्रैक्टर अपने काका की पाली की ओर चला गया जिससे वहां खड्डे हो गए. इस बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया, इस पर चाचा खरसाण निवासी ओमकार पुत्र भंवरलाल मेनारिया ने अपने दोनों बेटे जसवंत मेनारिया व जगदीश मेनारिया के साथ मिलकर फतहलाल पर हमला कर दिया। यह देखकर कालूलाल मौके से भागकर अपने मालिक के घर गया और उनकी पत्नी व बेटे को घटना की जानकारी दी। आरोपियों ने फतहलाल के सिर में पहले वार किए गए उसके बाद लोहे की सब्बल और नुकीली चीजें कमर के नीचे वाले हिस्से में घुसा दी गई। इसके बाद फतहलाल के पांवों के उपर से ट्रेक्टर का पहिया निकाल दिया और बाद में 108 को फोन कर आरोपियों ने ही बुलाया और फतहलाल मेनारिया के ट्रेक्टर से गिरने की जानकारी देकर उसे चिकित्सालय में रवाना कर दिया। इधर फतहलाल मेनारिया के चालक कालूलाल के साथ फतहलाल मेनारिया की पत्नी निर्मला मेनारिया अपने बेटे ओमप्रकाश मेनारिया के साथ भागकर खेत पर आई। गंभीर घायलावस्था में फतहलाल को उदयपुर एमबी चिकित्सालय लाए जहां उसकी रात्रि में उपचार के दौरान मौत हो गई।

आरोपियों के घरों में दाह संस्कार

इस हत्याकांड के बाद आक्रोशित लोगों ने आरोपियों के घर में ही मृतक का दाह संस्कार कर डाला। भारी पुलिस बल के मौके पर होने के बावजूद पुलिस मूक दर्शक बनकर रह गई और भीड़ ने आरोपियों के घरों में दाह संस्कार करते हुए एक ट्रेक्टर को भी जला डाला। इस पूरे घटनाक्रम का किसी को भी वीडियो नहीं बनवाने दिया और ना ही मोबाइल पर उस दरमियान किसी को बात करने दी गई। वही आरोपी परिवार वारदात करके रात में ही फरार हो गया। खरसाण निवासी फतहलाल पुत्र मोहनलाल भीमावत मेनारिया की हत्या के मामले में गिरफ्तार आरोपी उसके काका खरसाण निवासी उंकारलाल पुत्र भंवरलाल मेनारिया तथा उसके दो बेटों जसवंत मेनारिया और जगदीश मेनारिया को वल्लभनगर में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सावित्री आनंद निर्भीक के समक्ष पेश किया।

नृशंस हत्या- आरोपियों ने ट्रेक्टर भी चढाया

पालीवाल वाणी को मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया। यह एक नृशंस हत्या बताई जा रही है। मृतक फतहलाल मेनारिया के सिर में पहले वार किए गए उसके बाद लोहे की सब्बल और नुकीली चीजें शरीर के कमर के नीचे वाले हिस्से में घुसा दी गई। गांव में भारी पुलिस बल तैनात है। पालीवाल वाणी को सूत्रों ने बताया कि फतहलाल मेनारिया तथा उसके चचेरे भाइयों के बीच जमीन को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। वही मृतक के ऊपर आरोपियों ने ट्रेक्टर भी चढा़। जिससे उसके पैरों की हड्डीयां चकनाचूर हो गई। गौरतलब है कि वारदात रात को हुई पुलिस को सुबह सूचना मिली तो शव कब्जे में लेकर मृतक का एमबी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया। अब तक की मिली जानकारी के अनुसार शाम को फतहलाल मेनारिया अपने खेत पर काम कर रहा था। तभी उसके पास ही खेतों मे काम कर रहे चचेरे भाइयों से किसी बात को लेकर गहरा विवाद हो गया। जिस पर फतहलाल मेनारिया को बेदर्दी से मारा गया। बाद में एम्बुलेंस के जरिये गंभीर घायल अवस्था में फतहलाल मेनारिया को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां रात को उसकी मौत हो गई। अलसुबह पुलिस को सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और हत्या का मामला दर्ज किया। पालीवाल वाणी सूत्रों के अनुसार पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। लेकिन बाद में लोगों ने मृतक फतहलाल मेनारिया के शव का आरोपयिं के घर में दाह संस्कार कर दिया। इसके बाद पूरे क्षेत्र में तनाव फैल गया।

तीनों आरोपियों को पुलिस ने चार दिन के रिमांड

खेरोदा थाना क्षेत्र के खरसाण में चचेरे भाईयों के बीच जमीन विवाद के बाद युवक की हत्या और उसके बाद हुए बवाल के मामले में हत्या के आरोप में गिरफ्तार तीनों आरोपियों को पुलिस ने चार दिन के रिमांड पर लिया है। इनसे हत्या में प्रयुक्त हथियारों की बरामदगी बाकी है। फिलहाल खरसाण गांव में अब षांति का माहौल दिखाई दिया। खरसाण निवासी फतहलाल पुत्र मोहनलाल भीमावत की हत्या के मामले में गिरफ्तार आरोपी उसके काका खरसाण निवासी उंकारलाल पुत्र भंवरलाल मेनारिया तथा उसके दो बेटों जसवंत मेनारिया, जगदीश मेनारिया को वल्लभनगर में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सावित्री आनंद निर्भीक के समक्ष पेश किया। जहां तीनों आरोपियों को पुलिस ने चार दिन के रिमांड पर लिया।

मृतक की पत्नी ने हत्या का मामला दर्ज कराया

घटना की जानकारी पर सुबह खैरोदा थानाधिकारी पूनाराम गुर्जर पूलिस जाब्ते के साथ पहुंचे, जहां पर मृतक की पत्नी निर्मला भीमावत मेनारिया की रिपोर्ट पर ऊंकारलाल मेनारिया, उसके बेटे जसवंत मेनारिया व जगदीश मेनारिया के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। घटना के बाद परिजन शव को लेकर गांव गए। आरोपी ओमकार इसके पुत्र जसवंत और जगदीश की दादागिरी से परेशान होकर ग्रामीण आक्रोशित हो गए और मृतक की अंतिम क्रिया के बाद शव को आरोपियों के घर के आंगन में लेकर गए । ग्रामीणों का कहना था कि आरोपियों ने मृत्युपूर्व युवक पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया जिससे उसकी हड्डियां टूट गई और इस घटना के बाद आरोपियों ने अपने रिश्तेदारों से भी झूठ कहा कि फतहलाल ट्रैक्टर से गिरकर घायल हो गया है । हालांकि पुलिस ने आक्रोशित लोगों की समझाइश के पूरे प्रयास किए, लेकिन उनहोंने एक न सुनी और शव को आरोपियों के मकान में रखकर शव को अंतिम संस्कार कर दिया।

paliwalwani

आंगन में शव का अंतिम संस्कार किया तो पुलिस अधिकारियों के होंश उड़ गए

इधर जैसे ही आंगन में शव का अंतिम संस्कार किया तो पुलिस अधिकारियों के होंश उड़ गए। परंतु हजारों ग्रामीणों के सामने वे थानाधिकारी भी कुछ नहीं कर पाए। ग्रामीणों ने वहां खड़े ट्रैक्टर को भी आग के हवाले कर दिया. आग से आरोपियों के घर में भी आग लग गई और घर का काफी हिस्सा जलकर नष्ट हो गया। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान पुलिस केवल मूकदर्शक बनकर देखती रही। पुलिस ने उच्चाधिकारियों को इस बारे में बताया और इस पर मावली, डबोक, कानोड़, भीण्डर, वल्लभनगर, प्रतापनगर सहित पुलिस लाईन, कंट्रोल रूम, एमबीसी, आरएसी का जाब्ता मौके पर पहुंचा। मौके पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणसिंह राजपुरोहित भी पहुच गए। पुलिस का जाब्ता मौके पर जाता तब तक शव का अंतिम संस्कार भी हो गया था और ग्रामीण भी वहां से निकल गए थे। पुलिस अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर मौके पर भारी जाब्ता तैनात कर दिया। इधर पुलिस ने इस प्रकरण मे हत्या का मामला दर्ज किया और इसके साथ ही पुलिस ने ग्रामीणो के खिलाफ घर में शव का अंतिम संस्कार करने, घर में आगजनी करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने हत्या में पिता और दोनों पुत्रों को गिरफ्तार कर लिया है।

paliwalwani

मोबाइल से फोटो ओर विडियो भी नहीं बनाने दिया

इस पूरे घटनाक्रम का किसी को भी वीडियो नहीं बनाने दिया और न मोबाइल पर उस दौरान किसी को बात करने दी गई। खेरोदा थानाधिकारी पूनाराम मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। जहां करीब तीन हजार लोगों की भीड़ देख जाब्ता बुलाया था। गांव मे भारी पुलिस बल तैनात है. के घर में ले जाकर जला दिया. इससे तनावपूर्ण स्थिति हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस भी आक्रोशित ग्रामीणों के सामने असहाय हो गई और शव को जलते देखती रही।

आरोपियों से पुरा गांव परेशान था

उदयपुर. जिले के खैरोदा थाना क्षेत्र में खरसाण गांव में जमीन विवाद को लेकर एक अधेड़ ने अपने दो पुत्रों के साथ मिलकर अपने भतीजे की पीट-पीटकर हत्या कर दी। चाचा खरसाण निवासी ओमकार पुत्र भंवरलाल मेनारिया, दोनों बेटे जसवंत मेनारिया व जगदीश मेनारिया से ग्रामीण जन भी काफी भयभीत रहते थे। जब देखो ग्रामीणों पर दादागिरी कर रौब जड़ाना, गाली-गालौच करना उनकी दिनचर्या थी। डर के मारे कोई भी पुलिस थाने में शिकायत नहीं कर पाता था।

पालीवाल वाणी समाचार पत्र ब्यूरो...✍️
🔹Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-
Whatsapp no- 09039752406
पालीवाल वाणी हर कदम... आपके साथ...

Paliwal Menariya Samaj Gaurav