Latest News
      1. उर्जित पटेल के पीछे छिपा इस्तीफा का राज      2. राधाकृष्ण सीरियल में गजब के दिख रहे है धनबाद के आलोक शर्मा      3. श्री गुलाबचंद्र व्यास का निधन-अंतिम यात्रा आज      4. इंदौर में भाजपा को हो रहा है नुकसान-सर्वे में कांग्रेस जीत की ओर      5. श्री बबलु बागोरा का दुःखद निधन-अंतिम यात्रा कल       6. श्रीमती बारैया सुंदरबेन का 102 वर्ष की आयु में निधन-छाई शोक की लहर

मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्यामसुंदर पालीवाल की तारीफ की

Devnarayan Paliwal ... ✍️     Category: राजसमन्द     21 Jul 2018 (12:58 PM)

जयपुर/राजसमंद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जनसंवाद कार्यक्रम में राजस्थान, राजसमंद जिले के पालीवाल ब्राह्मण समाज 24 श्रेणी राजस्थान के वरिष्ठ समाजसेवी, पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल का दिलो जान से प्यारा पीपलांत्री में जलस्वावलंबन और हरियाली बढ़ाने के मॉडल का जिक्र हुआ। मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने जलस्वावलंबन और माइनिंग क्षेत्र में हरियाली बढ़ाने के लिए पीपलांत्री में हुए कामों की तारीफ की। प्रदेश के अन्य जिलों के जनप्रतिनिधियों से भी अपने क्षेत्र में इस तरह का काम करवाने का आह्वान किया। मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने यहां जलसंरक्षण के काम गिनाते हुए पूर्व सरपंच श्यामसुंदर पालीवाल की तारीफ की। मंच पर लगी स्क्रीन पर पीपलांत्री के कामों की वीडियो क्लिप भी दिखाई।

पिपलांत्री में बहुत ही अच्छा व प्रेरणादायक काम हुआ

एक घंटे 19 मिनट के भाषण में मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं के फायदे बताए । जलस्वावलंबन के कामों का जिक्र करते वक्त मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल राजसमंद के पीपलांत्री गांव में हुए काम को का जिक्र किया। सीएम ने बताया कि जल संरक्षण के क्षेत्र में पिपलांत्री में बहुत ही अच्छा व प्रेरणादायक काम हुआ है। उन्होंने कहा, ऐसे क्षेत्र में जहां माइनिंग का काम जोरों पर होता है। इससे भूजल स्तर काफी नीचे गिर गया, लेकिन जल संरक्षण के तहत पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल ने बारिश के पानी को रोककर पौधरोपण करवाया। ऐसे में भूजलस्तर को बढ़ने में मदद मिली है। बाद में यहां के पूर्व सरपंच की वो वीडियो क्लिप दिखाई, जिसमें वे यहां हरियाली और जल संरक्षण के काम की प्रक्रिया को विस्तार से बता रहे हैं।

paliwalwani

paliwalwani

सभा में वीडियो क्लिप दिखाई, पीएम से मिले पूर्व सरपंच

जनसंवाद कार्यक्रम में 13 जिलों के प्रगतिशील किसान व योजनाओं के लाभार्थी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल अपने साथियों के साथ मंच पर जाकर मिले। इनमें जयपुर, बीकानेर, जैसलमेर, झुंझुनू, नागौर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा आदि जिलों से विभिन्न योजनाओं के लाभार्थी शामिल थे। राजसमंद से एकमात्र पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल को सरकारी योजनाओं को प्रभावी तरीके से लागू करने, जल संरक्षण व पौधरोपण के कार्यक्रम को प्रभावी ढंग से लागू कर बेहतर परिणाम देने के लिए मंच पर बुलाया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में इस कार्यक्रम की तारीफों के जमकर पुल बांधे. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह का कार्यक्रम जयपुर में आयोजित किया गया है वह सराहनीय है. लाभार्थियों को सुनना अद्भुत है. कुछ लोग ऐसे हैं जो कभी भी अच्छे काम की सराहना नहीं करते, लेकिन सभी को लाभार्थियों की खुशी यहां देखनी चाहिए

बेटी किरण पालीवाल के निधन पर अनूठी पहल शुरू

पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल की बेटी किरण पालीवाल के निधन पर उन्होंने कन्या जन्म पर 111 पौधे लगाने की अनूठी पहल शुरू की। बाद में पहल से पूरी पंचायत को जोड़ा। अब पंचायत में बेटी जन्म पर 111 पौधे लगाते हैं। रक्षाबंधन पर बेटियां पेड़ों को राखी बांधती हैं। पहाड़ियों पर साल 2010 के बाद हरियाली दिखाई देने लगी। 

अब तक कई पुरस्कार मिले

तत्कालीन राष्ट्रपति ने निर्मल ग्राम पंचायत पुरस्कार से सम्मानित किया। पीपलांत्री प्रदेश की पहली ऐसी ग्राम पंचायत है, जिसे साल 2007 में पहली बार तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने निर्मल ग्राम पंचायत पुरस्कार से सम्मानित किया था। इसके बाद जल संरक्षण के लिए विशेष उपलब्धि के लिए साल 2016 में राजीव गांधी पर्यावरण पुरस्कार मिल चुका है। पीपलांत्री के पूर्व सरपंच श्री श्यामसुंदर पालीवाल को पालीवाल समाज 24 श्रेणी इंदौर के आयोजन में पालीवाल वाणी समूह सहित विभिन्न संगठनों की ओर से भी सम्मानित किया गया।

paliwalwani


▪ 13 साल में लगा दिए 3 लाख पौधे : जयपुर में पीएम श्री नरेन्द्र मोदी ने की तारीफ
▪ पीएम बोले-देशभर में लागू करेंगे यह मॉडल
▪ ख्याति पाई : बेटी जन्म पर लगाते हैं 111 पौधे, रक्षाबंधन पर बेटियां पेड़ों को बांधती है रक्षासूत्र
▪ साल 2005 में श्याम सुंदर पालीवाल के सरपंच बनने पर योजना की तरफ काम शुरू हुआ।
▪ अधिकांश सरकारी जमीन, चरागाह पर अतिक्रमण थे।
▪ माइनिंग क्षेत्र में डंपिंग यार्ड बनाने, सरकारी जमीन पर मलबा आदि डालने से पहाड़ बंजर हो गए थे।
▪ श्री श्यामसुंदर पालीवाल की योजना पर खान मालिकों व लोगों ने सहयोग दिया।
▪ माइनिंग क्षेत्र में हरियाली बढ़ाने, चरागाह पर पौधरोपण, जलसंरक्षण के काम हुए।
▪ वसुंधरा राजे ने पीपलांत्री में जल संरक्षण के क्षेत्र में अच्छा व प्रेरणादायक काम होना बताया।

पालीवाल वाणी समाचार पत्र ब्यूरो- देवनारायण पालीवाल...✍️
🔹Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-
Whatsapp no- 09039752406
पालीवाल वाणी हर कदम... आपके साथ...
*एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...*


Paliwal Menariya Samaj Gaurav