Latest News
      1. श्री श्यामसुंदर नागदा का निधन-अंतिम यात्रा आज      2. मेनारिया समाज में अन्नकूट महोत्सव आज      3. युवा ब्रह्मशक्ति का राष्ट्रीय अधिवेशन ब्रह्मोत्सव उदयपुर में संपन्न      4. खो-खो में चार बालिकाओं का विश्व विद्यालय की टीम में चयन      5. मंत्री किरण माहेश्वरी ने किया ग्रामीण क्षैत्रों में सघन जनसम्पर्क      6. निर्वाचन से जुड़ी मशीनरी प्रोएक्टिव होकर करें चुनावी कामकाज का सम्पादन: मारुत त्रिपाठी

ग्रामीण आगे आकर ग्राम पंचायत को ओडीएफ बनवाए - सिंह

Suresh Bhatt     Category: राजसमन्द     07 Feb 2017 (12:34 AM)

राजसमंद। कलक्टर अर्चना सिंह ने ग्रामीणों का आह्वान किया है कि वे स्वच्छता के प्रति जागरूक रहकर अपनी ग्राम पंचायत को खुले में शौचमुक्त घोषित करावें। उन्होंने कहा कि 90 फीसदी बीमारियों का कारण खुले मे शौच करना होता है। इसलिए ग्रामीण आगे आकर गांव के घर-घर में शौचालय बनवाए। कलक्टर बुधवार को खमनोर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत सालोर में चौपाल लेकर आम ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान कर रही थी। उन्होंने आयोजित चौपाल में प्रमुखतया ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित कराने पर बल दिया। उन्होंने शौचालय बनाने की तकनीक की ग्रामीणों को जानकारी दी। उन्होंने ग्राम पंचायत से कहा कि कोई भी एक तिथि निर्धारित करें और उसे लक्ष्य मानते हुए उस तिथि तक ग्राम पंचायत को पूर्ण रूप से खुले में शौचमुक्त करें। ग्राम स्तर पर सरकारी कार्मिकों की टीम बनाकर स्वच्छता गतिविधियों की कार्यवाही होगी। इसके अलावा कलक्टर ने चौपाल में पेंशन के पीपीओ जारी किए तथा मनरेगा, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना सहित सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की ग्रामीणों को जानकारी दी। इस दौरान ग्रामीणों की मूलभूत सुविधाओं जैसे पानी, बिजली, सडक़, रास्ते खुलवाने आदि समस्याओं को सुना तथा इनके निस्तारण के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। चौपाल में उपखण्ड अधिकारी इन्द्राराम मेघवंशी, प्रधान खमनोर शोभा पुराहित, सालोर सरंपच प्रमिला पालीवाल, पुलिस उपाधीक्षक सवाई सिंह भाटी सहित ग्रामीणजन उपस्थित थे।

अधिकारियों को दिए आवश्यक निर्देश

चौपाल में कलक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं को बड़े इत्मिनान से सुना तथा उनके निराकरण के लिए संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। चौपाल में एक गंभीर बीमार व्यक्ति के ईलाज के लिए कलक्टर ने उसे उदयपुर के महाराणा भुपाल चिकित्सालय भेजकर ईलाज करवाने के निर्देश चिकित्सा विभाग के अधिकारी को दिए। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि वे श्रमिक पंजीयन के प्रति गंभीर रहें और अपना श्रमिक कार्ड अवश्य बनाएं। उन्होंने इसके लिए ग्राम पंचायत को निर्देश दिए कि वे इस योजना में अधिक से अधिक श्रमिकों का पंजीयन करवाकर उन्हें लाभान्वित करें।

बजरी से भरे ओवर लॉड वाहन को

चौपाल के दौरान सडक़ से गुजर रहे बजरी से भरे ऑवरलोड दो डम्परों को रूकवाया तथा उनका तोल करवाकर उनके खिलाफ आवश्यक कार्यवाही के लिए पुलिस उपाधीक्षक आदेश दिए तथा मौके पर ही परिवहन विभाग की टीम को भी बुलवायां। तथा बजरी सेभरे ऑवरलोड वाहनों को जब्त करने के आदेश दिए। ग्रामीणों ने खमनोर पंचायत समिति क्षेत्र सहित जिलेभर में बजरी खनन का अवेध कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है।

फोटो- ग्राम पंचायत सालोर में जनसमस्या सुनती कलक्टर।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav