Latest News
      1. मेनारिया समाज में अन्नकूट महोत्सव आज      2. युवा ब्रह्मशक्ति का राष्ट्रीय अधिवेशन ब्रह्मोत्सव उदयपुर में संपन्न      3. खो-खो में चार बालिकाओं का विश्व विद्यालय की टीम में चयन      4. मंत्री किरण माहेश्वरी ने किया ग्रामीण क्षैत्रों में सघन जनसम्पर्क      5. निर्वाचन से जुड़ी मशीनरी प्रोएक्टिव होकर करें चुनावी कामकाज का सम्पादन: मारुत त्रिपाठी      6. कांग्रेस द्वारा प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी नहीं होने पर जिले में दावेदारों की बढ़ी धडक़ने

बजरंग दल का शौर्य तप, त्याग एवं बलिदान की प्रेरणा देता है भारतीय जीवन- श्री लक्ष्मीनारायण वैद्य

देवनारायण पालीवाल     Category: राजसमन्द     23 Jan 2017 (2:35 AM)

राजसमंद (राज.)। भारतीय संस्कृति एवं परम्परा अपने राष्ट्र में ही नहीं अपितु सम्पूर्ण विश्व में पूजनीय है। हमारी संस्कृति की छाप विश्व पटल पर नजर आती है। लेकिन हमारे आज के युवा पाश्चात्य संस्कृति के दिखावे की ओर भाग रहे है साथ ही हिन्दू धर्म विरोधी ताकते भी युवाओं को धर्म से विमुख कर खोखला बनाने का कार्य कर रही है, जिससें युवाओं के सामाजिक जीवन स्तर में गिरावट आ रही है। भारत के संतो ने तलवार की ताकत के बल पर नहीं अपितु जीवन जीने की कला से सभी के दिलो में जगह बनाई है। भारतीय जीवन भोगवादी नहीं तप, त्याग एवं बलिदान की प्रेरणा देता है। जिसको हमें अपने जीवन में उतारकर राष्ट्रप्रेम एवं गौरवमयी संस्कृति की पताका सम्पूर्ण विश्व में लहरानी है। यह विचार विद्या निकेतन कांकरोली में विश्व हिन्दू परिषद एवं बजरंग दल के तत्वावधान में आयोजित किए जा रहे प्रान्त स्तरीय शौर्य प्रशिक्षण शिविर में प्रान्त उपाध्यक्ष श्री लक्ष्मीनारायण वैद्य ने व्यक्त कर भारतीय संस्कृति एवं हिन्दू धर्म का परचम विश्व पटल पर लहराने का आह्वान किया। भारतीय संस्कृति के उत्थान के प्रयास के मद्देनजर सात दिवसीय इस शिविर का उद्घाटन ओम के जाप व दीप प्रज्वलन से हुआ।

भारत माता एवं बालाजी की छवि के समक्ष  दीप प्रज्वलित

महंत बिहारीदास महाराज राजनगर, डॉ. बलरामदास महाराज कुंवारिया, विहिप प्रांतीय उपाध्यक्ष श्री लक्ष्मीनारायण वैद्य, बजरंग दल प्रांतीय संयोजक श्री ओम प्रजापति एवं वर्गाधिकारी श्री ओम पुरोहित ने भारत माता एवं बालाजी की छवि के समक्ष संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित किया। मीडिया संयोजक गिरिश पालीवाल ने बताया कि शौर्य प्रशिक्षण वर्ग में कार्यकर्ताओं को प्रेरणा देते हुए संत डॉ. बलरामदास महाराज ने कहा कि हमें अपने धर्म की रक्षा करने के लिए हमेशा तत्पर रहना है। हमारी भूमी देव भूमी है। यहां देवों ने अनेक रूपों में अवतार लिया तथा जहां धर्म है वही ईश्वर का निवास है। शौर्य प्रशिक्षण वर्ग में प्रान्त भर से अनेक कार्यकर्ता प्रशिक्षण ले रहे है। इस दौरान सर्वश्री संत बिहारीदास महाराज, विहिप प्रान्त संयोजक ओम प्रजापती, वर्ग कार्यकारी अधिकारी ओम पुरोहित, भगवतीलाल पालीवाल, गजेन्द्र पालीवाल, मनीष छापरवाल, जीवनसिंह चारण, राकेश हिगड़ आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। संचालन प्रान्त सहसंयोजक श्री रामेश्वरलाल धाकड़ ने किया। इस दौरान प्रांत सह संयोजक श्री रामेश्वलाल धाकड़, श्री मुकेश जोशी, विभाग संगठन मंत्री श्री भंवरसिंह चैहान एवं विभाग संयोजक श्री गजेन्द्र पालीवाल सहित कई प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे। उक्त जानकारी पालीवाल वाणी संवाददाता को श्री भगवतीलाल पालीवाल, राजेश पालीवाल ने दी।
फोटो - राजसमंद। प्रांत स्तरीय शौर्य प्रशिक्षण शिविर में प्रशिक्षणार्थियों को सम्बोधित करते अतिथि एवं उपस्थित प्रशिक्षणार्थी।


पालीवाल वाणी ब्यूरो से देवनारायण पालीवाल


Paliwal Menariya Samaj Gaurav