Latest News
      1. मध्यप्रदेश स्थाई कर्मी कल्याण संघ का धरना कल-नीलमपार्क में मंत्री को देगें ज्ञापन      2. श्री चारभुजा की भव्य प्रसादी में इंदौर से पहुंचे सैकड़ो श्रद्वालुजन      3. देशभर के 90 प्रतिशत अखबार होंगे बंद, लाखों अखबार कर्मी होंगे बेरोजगार-डीएवीपी का अंधा कानुन-अखबार बचाओ मंच      4. पालीवाल समाज भवन में 22 जुलाई से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन-भव्य कलश यात्रा निकलेगी      5. आमेट सडक सुरक्षा के तहत जिला परिवहन अधिकारी ने बनाये 20 वाहनों के चालान      6. आमेट वीरवर पत्ता को नमन कर मनाया स्थापना दिवस

गोमती से हटे अवरोधक, भस्मी घाटो से मलबा निकालना जारी

Sureh Bhat/Ayush Paliwal     Category: राजसमन्द     18 Jun 2015 5:08 PM

राजसमंद। राजसमन्द झील को स्वच्छ पर्यावरणमय रखने के मानस से जिला प्रशासन ने नदी के बहाव क्षेत्र के बीच में आर रहे अवरूद्धको हटाकर बहाव मार्ग को दुरस्त किया जा रहा है। नदी के 38 किलोमीटर लम्बे रास्ते में आ रहे अवरोधको का कार्य रामदरबार गोमती उदगम स्थल से प्रारम्भ किया। जो ग्राम पंचायत सेवंत्री की परिसर की सीमा मेें अन्तिम चरण में चल रहा है। एक ही प्रभावशाली व्यक्ति के द्वारा 7 जगह बंधे बनाकर के कई सालो से रोक रखे पानी के सभी अवरोधको को जेसीबी द्वारा हटा दिया गया। पंचायत के द्वारा क्षेत्र में आरहे अवरोधको को भी हटा दिया गया। इसके बाद के अवरोधक ग्राम पंचायत जनावद की सीमा में है। गुरूवार को पंचायत ने जेसीबी के द्वारा सबसे बडा भस्मी घाट में 4फीट गहराई तक जाम हो रहा मलबे हटा साफ किया। इस घाट में समाजजन अपने मृतको की अस्थिया व भस्मी यही पर डालते है। तीनो भस्मीघाटो की सफाई की गई। सफाई के बाद रादरबार गोमती नदी के पानी का प्रवाह भरने के बाद सीधे वेग से जायेगा। आज तक रामदरबार से 5 किलोमीटर लम्बाई तक गोमती की सफाई की गई। मौके पर नोडल प्रभारी व विकास अधिकारी महेश चौहान, सरपंच विकास दवे, सचिव भगवान सहाय उपस्थित थे ।

फोटो- गोमती नदी के बहाव क्षेत्र में अरूद्ध को हटाती जेसीबी।