Latest News
      1. मेनारिया समाज में अन्नकूट महोत्सव आज      2. युवा ब्रह्मशक्ति का राष्ट्रीय अधिवेशन ब्रह्मोत्सव उदयपुर में संपन्न      3. खो-खो में चार बालिकाओं का विश्व विद्यालय की टीम में चयन      4. मंत्री किरण माहेश्वरी ने किया ग्रामीण क्षैत्रों में सघन जनसम्पर्क      5. निर्वाचन से जुड़ी मशीनरी प्रोएक्टिव होकर करें चुनावी कामकाज का सम्पादन: मारुत त्रिपाठी      6. कांग्रेस द्वारा प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी नहीं होने पर जिले में दावेदारों की बढ़ी धडक़ने

मंत्री माहेश्वरी नें की पर्यावरण मंत्री से भेंट

Ayush Paliwal     Category: राजसमन्द     08 Jun 2015 (7:00 PM)

राजसमंद। प्रदेश सरकार की जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी माहेश्वरी ने बुधवार को राजसमंद माइन ऑनर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मण्डल के साथ केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर से भेंट की। किरण नें उन्हें राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण के दिए निर्देशों के कारण लघु खनन इकाईयों को आ रही कठिनाईयों से अवगत करवाया। 15 जुलाई 2015 तक प्रत्येक खनन इकाई को पर्यावरण सहमति लेने एवं इसके लिए जन सुनवाई की अनिवार्यता के संबंध में आ रही व्यावहारिक कठिनाईयों के बारे में केन्द्रीय मंत्री को अवगत करवाया। किरण नें बताया कि राजस्थान में 32 हजार खनन पट्टे स्वीकृत है। इनमें से 90 प्रतिशत 5 हेक्टर से कम के है। केवल राजसमन्द जिले में ही दो हजार दोसो दो मार्बल खनन पट्टे 5 हेक्टर से कम के है। इतनी बड़ी संख्या में पर्यावरण सहमति के लिए जनसुनवाई करना अत्यंत दुष्कर कार्य है। 15 जुलाई की समय सीमा भी बहुत कम है एवं इसे बढ़ाया जाना चाहिए। केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री नें कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार मिल कर न्यायाधिकरण के समक्ष व्यवहारिक कठिनाईयों पर पक्ष रखेंगे एवं खनन कर्ताओं को राहत दिलवाने का प्रयास करेंगे। प्रतिनिधि मण्डल में एसोसिए अध्यक्ष तनसुख बोहरा, महामंत्री दिनेश बडाला, मधुसुदन व्यास, बाबुलाल कोठारी, जगमोहन अरोड़ा, लवेश मादरेचा, रणवीर सिंह शेखावत आदि सम्मिलित थे।

फोटो- केन्द्रीय मंत्री से मुलाकात कर खनन सम्बंधित समस्या को लेकर मांग पत्र सौपते मार्बल माईन ऑनर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav