Latest News
      1. देशभर के 90 प्रतिशत अखबार होंगे बंद, लाखों अखबार कर्मी होंगे बेरोजगार-डीएवीपी का अंधा कानुन-अखबार बचाओ मंच      2. पालीवाल समाज भवन में 22 जुलाई से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन-भव्य कलश यात्रा निकलेगी      3. आमेट सडक सुरक्षा के तहत जिला परिवहन अधिकारी ने बनाये 20 वाहनों के चालान      4. आमेट वीरवर पत्ता को नमन कर मनाया स्थापना दिवस      5. आमेट महाविद्यालय में हरित राजस्थान सप्ताह-प्रतियोगिता दक्षता कक्षाएँ 15 जुलाई से      6. महाकाल मंदिर में फर्जी पत्रकारों के प्रवेश पर पूरी तरह लगेगा प्रतिबंध- कलेक्टर

पैंथर का आतंक- ग्रामीणों में भय का वार्तावरण

Narendra Paliwal     Category: राजसमन्द     13 Jul 2016 2:28 PM

बागोल (राज.)। 

नाथद्वारा शहर के पास बागोल में इन दिनों पैंथर का आतंक बढ़ता जा रहा है। बागोल नोहरा में गत 5 दिनों में पैंथर ने 3 मवेशियों का शिकार बना लिया । बागोल नोहरा निवासी श्री छगन पुरोहित ने पालीवाल वााणी के संवाददाता श्री जुगलकिशोर पालीवाल को बताया कि गत दिनों से गनी आबादी क्षेत्र के पास पैंथर की चहल-पहल काफी बढ़ गई है। श्री छगन पुरोहित के बाड़े में बंधे बछड़े और गाय को दो दिनो में पैंथर ने अपने भोजन का शिकार बना लिया। इससे पूर्व वहीं के निवासी श्री पुरुषोत्तम पुरोहित की गाय को भी पैंथर ने अपना शिकार बना दिया। श्री छगन पुरोहित की शिकायत पर नाथद्वारा वनकर्मी मौके पर पहुंचे। वनकर्मियों ने गांव के लोगों को पैंथर से बचाव के तौर तरीके बताएं। वही इदंौर से बागोल गए प्रतिनिधि श्री देवीलाल जोशी ने बताया कि बागोल में पालीवाल समाज के साथ ग्रामीणों में पैंथर का आतंक साफ दिखाई दे रहा है। श्री मोहन ने कहा कि हमारे यहां कोई सुनवाई नहीं होने से पैंथर का खौफ बहुत हो रहा है। हमें शंका है कि कई ग्रामीणों को ही शिकार न बना ले।