Latest News
      1. विधिक सेवा सप्ताह का शुभारंभ पर कार्यक्रम आयोजित      2. अणुव्रत विश्व भारती की नवगठित निदेशक परिषद की बैठक सम्पन्न      3. भाजपा के वरिष्ठ नेता सत्तन ने इंदौर में दिया बयान-भाजपा में मचा भूचाल       4. पालीवाल समाज के तरुण व्यास पर हुआ प्राणघातक तलवार से हमला-पुलिस बचा रही है आरोपियों को      5. पालीवाल समाज ने अन्नकुट महोत्सव चारभुजा मंदिर परिसर में मनाया-उमड़ी भक्तों की भीड़      6. आज 24 श्रेणी पालीवाल समाज की प्रथम कब्बड्डी प्रतियोगिता

महाराणा प्रताप से जुड़े स्थलों काचरणबद्ध रूप से विकास हो : राठौड़

Suresh Bhat     Category: राजसमन्द     18 Jan 2016 (5:22 PM)

राजसमंद। महाराणा प्रताप से जुड़े हल्दीघाटी सहित विभिन्न ऐतिहासिक स्थलों पर देशी विदेशी पर्यटकों की आवाजाही बढाने एवं उन्हें विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध कराने सहित जिले में पर्यटन स्थलों के विकास को लेकर शनिवार को मंदिर मण्डल सभागार में सांसद हरिऔम सिंह राठौड़ की अध्यक्षता में पर्यटन विकास पर चर्चा की गई। सांसद ने कहा कि केन्द्रीय पर्यटन मंत्री के नाथद्वारा प्रवास क दौरान हल्दीघाटी एवं महाराणा प्रताप से जुड़े सभी ऐतिहासिक स्थलों के विकास के लिये महाराणा प्रताप सर्किट बनाकर विकास करने पर भी चर्चा हुई। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार ने र्धािर्मक एवं आस्था स्थलों के विकास के लिये बुद्ध सर्किट, राम सर्किट और कृष्ण सर्किट बनाया है। उन्होंने बताया कि श्रीनाथजी एवं द्वारकाधीश वल्लभ सम्प्रदाय की पीठ है इसलिए इन्हें भी कृष्ण सर्किट में सम्मिलित किया जाएं इस पर पर्यटन मंत्री ने सैद्धांतिक सहमति दी है। जिला कलक्टर कैलाश चन्द वर्मा ने अधिकारियों से कहा कि धार्मिक पर्यटन नगरी में आने वाले देशी विदेशी मेहमान अच्छी छवि लेकर जाएं इसके लिये आवश्यक है कि नाथद्वारा एवं द्वारिकाधीश नगरी राजसमन्द स्वच्छ एवं सुन्दर बने। इसके लिये उन्होंने निकायों को क्षेत्र में नियमित साफ-सफाई करवाने के निर्देश दिए। बैठक में पर्यटन विभाग की उप निदेशक सुमिता सरोच ने मेवाड़ काम्प्लेक्स के तहत हल्दीघाटी रक्त तलाई हुए कार्यो एवं वर्तमान परिदृष्य में इसमें मास्टर प्लान बनाकर चरणवद्ध रूप से विकास करने का सुझाव दिया। उन्होंने बताया कि विभिन्न पर्यटन स्थलों के विकास के लिये 9 करोड़ रूपये के प्रस्ताव के प्रेषित किये गये थे। पहले चरण में एक करोड़ रूपये की राशि विभिन्न स्थलों के लिये स्वीकृत की गई ह,ै इनमें से हल्दीघाटी आदि स्थलों के विकास कार्य भी सम्मिलित किये गये है ।

नाथद्वारा में पर्यटन सूचना केन्द्र शुरू होगा

नाथद्वारा में आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को जिले के विभिन्न पर्यटन स्थलों की जानकारी देने एवं जिले के अन्य स्थलों की जानकारी देकर पर्यटको की सुविधा के लिये शीघ्र ही पर्यटन सूचना केन्द्र की सुविधा मिलने लगेगी। जिला कलक्टर ने मुख्यालय पर सेवाएं दे रहे सहायक पर्यटन अधिकारी सुजीत जोशी को केन्द्र पर सेवाएं देने के आदेश जारी करने के निर्देश दिए। सहा पर्यटन अधिकारी ने कहा कि उनका प्रयास रहेगा की प्रभु श्रीनाथजी, द्वाारिकाधीश की नगरी सहित महाराणा प्रताप के यश की जानकारी पर्यटकों को मिले और वे हल्दीघाटी, कुम्भंलगढ के बाद दीवेर, नौ चौकी पहुंचे ऐसे प्रयास किये जाएंगे। बैठक में विधायक कल्याण सिंह चौहान ने बताया कि यमुना प्रोजेक्ट के मॉडल सहित कई महत्वपूर्ण कार्य पूर्ण हो गये है यदि इसे आगे बढाया जाए तो क्षेत्र की प्रगति होगी। बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता एन.एल.वर्मा, जिला उद्योग केन्द्र के महरप्रबंधक जे.पी.गुप्ता, तहसीलदार नाथद्वारा सोहनलाल शर्मा, नाथद्वारा मंदिर मण्डल के पी.सी.छीपा आदि मौजूद रहे ।

फोटो - जिले के पर्यटन स्थलों के विकास को लेकर चर्चा करते सांसद व अन्य अधिकारी। 

Paliwal Menariya Samaj Gaurav