Latest News
      1. मेनारिया समाज में अन्नकूट महोत्सव आज      2. युवा ब्रह्मशक्ति का राष्ट्रीय अधिवेशन ब्रह्मोत्सव उदयपुर में संपन्न      3. खो-खो में चार बालिकाओं का विश्व विद्यालय की टीम में चयन      4. मंत्री किरण माहेश्वरी ने किया ग्रामीण क्षैत्रों में सघन जनसम्पर्क      5. निर्वाचन से जुड़ी मशीनरी प्रोएक्टिव होकर करें चुनावी कामकाज का सम्पादन: मारुत त्रिपाठी      6. कांग्रेस द्वारा प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी नहीं होने पर जिले में दावेदारों की बढ़ी धडक़ने

देश में चर्चित विधायकों से अच्छे हैं शराब मुक्त मंडावर के मतदाता

paliwalwani     Category: राजसमन्द     24 Jan 2018 (12:38 PM)

मंडावर। राज्य सरकार के आदेशानुसार मतदान के जरिये शराबबंदी को लेकर पूरे देश में चर्चित मण्डावर गांव एक बार फिर चर्चा में है क्योंकि हुए शराबबंदी के मतदान में 2711 मतदाताओं में से मात्र 55 मत ही खारिज हुए। हालांकि गांव की आधे से अधिक मतदाता महिला है एवं महिला मतदाता अनपढ़ है। वही शराबबंदी के हुए मतदान में मतपत्र में कोई चुनाव चिन्ह भी नहीं था।

उपराष्ट्रपति के चुनाव में 168 मत खारिज

इसी तरह पिछले वर्ष हुए उपराष्ट्रपति के चुनाव में 168 मत खारिज हुए । ज्ञातव्य है कि उपराष्ट्रपति के चुनाव में पूरे भारत देश के विधायक अपने मत का प्रयोग करते हैं वो भी मंडावर की अनपढ़ जनता से भी कम समझदार हैं। मंडावर के कुल मतदाता के प्रतिशत के हिसाब से 2.02 % ही मतदाता अपने मत का सही प्रयोग नहीं कर पाए । उपराष्ट्रपति के चुनाव में पूरे देश के 4215 विधायकों में से 168 विधायकों ने अपने मत का सही प्रयोग नहीं करते हुए मत को खारिज किया था । इस तरह 3.98 % यानि लगभग 4% विधायक अपने मत का प्रयोग करना नहीं जानते हैं।

अनपढ़ जनता ने विधायकों से अच्छा प्रदर्शन किया

मंडावर सरपंच प्यारी रावत कहती है कि हमने हमारे देश के लोकतंत्र को बचाने के लिए ऐसे लोगों को सत्ता हाथ में सौंपी है, जो अपने मत का भी सही प्रयोग करना तक नही जानते है। हमें इस तरह की खबरों पर शर्म आती है। इधर जिला मुख्यालय से काफी दूर पहाड़ी, ग्रामीण परिवेश के गांव मंडावर की अधिकतर अनपढ़ जनता ने पुरे भारत भर के विधायकों से अच्छा प्रदर्शन किया और मात्र 55 मत ही खारिज हुए। सरपंच कहती है कि हमें मंडावर की जनता पर नाज है । हमारे लोकतंत्र के रखवालों से अच्छा प्रदर्शन करके शराबबंदी में विजय दिलाने के साथ एक और गौरव हासिल किया है और मंडावर का नाम रोशन किया है।

*इनका कहना

#शराबबंदी की मुहिम में बिना चुनाव चिन्ह के अनपढ़ महिलाओं के द्वारा सटीक वोट देकर मंडावर को विजय बनाने के साथ उपराष्ट्रपति के चुनाव में विधायकों के खारिज मतों की तुलना में बहुत कम मतदान खारिज होने पर मंडावर की जनता का आभार।
जसवन्त सिंह मंडावर
अध्यक्ष- मगरा विकास मंच राजस्थान
#हमारी ग्रामीण, अनपढ़, महिलाएं भी उन विधायकों से अच्छी है जिनके मत खारिज हुए। खारिज मतों वाले विधायकों को इस्तीफा दे देना चाहिए। यह कैसे लोकतंत्र रक्षा करेंगे।
प्यारी रावत
सरपंच- मंडावर

पालीवाल वाणी ब्यूरो-महावीर व्यास
आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए
E-mail.paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...

Paliwal Menariya Samaj Gaurav