Latest News
      1. श्री भुपेश पुरोहित का दुःखद निधन-अंतिम यात्रा आज       2. पालीवाल समाज 24 खेङा ने किया तीन दिवसीय गंगा प्रसादी महोत्सव का समापन      3. पालीवाल समाज 24 खेङा ने किया तीन दिवसीय गंगा प्रसादी महोत्सव का समापन      4. पालीवाल समाज 24 खेङा ने किया तीन दिवसीय गंगा प्रसादी महोत्सव का समापन      5. अन्नकूट महोत्सव एवं छप्पन भोग दर्शन कल-आज सुंदर काण्ड का आयोजन      6. श्री श्यामसुंदर नागदा का निधन-अंतिम यात्रा आज

समस्त व्यापार महासंघ राजसमंद का वार्षिक अधिवेशन सम्पन्न

Suresh Bhat     Category: राजसमन्द     23 Sep 2015 (5:04 PM)

राजसमंद। समस्त व्यापार महासंघ राजसमंद का वार्षिक अधिवेशन एवं चुनाव रामेश्वर महादेव मंदिर परिसर में आयोजित किया गया। अधिवेशन के प्रारंभ में महासंघ के अध्यक्ष ख्यालीलाल मेहता एवं संरक्षक महेन्द्र देवपुरा ने भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया। महामंत्री प्रदीप खत्री ने बताया कि अधिवेशन में स्वागत उद्बोधन देते हुए संरक्षक महेन्द्र देवपुरा ने कहा कि आज हमारा महासंघ व्यापारियों के साथ व्यावसायिक हितों को ध्यान में रखते हुए इस नगर के विकास एवं सामाजिक कार्यों के प्रति भी हर समय तैयार खडा है और इसके लिए सभी व्यापारियों को हर समय तैयार रहना है। यही संगठन में शक्ति है। इसके बाद महामंत्री खत्री ने गत दो वर्षों में महासंघ द्वारा किए गए कार्यों की रूपरेखा प्रस्तुत की। महासंघ कोषाध्यक्ष शिवलाल पालीवाल ने आय-व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत किया। इस दौरान अभय महात्मा, नारायण खींची, रमेश माण्डोत एवं लीलेश खत्री ने भी विचार व्यक्त किए। अधिवेशन की अध्यक्षता करते हुए महासंघ अध्यक्ष ख्यालीलाल मेहता ने सभी कार्यकारिणी सदस्यों एवं व्यापारियों का आभार प्रकट किया। साथ ही कार्यकाल की समाप्ति एवं नए चुनाव के लिए कार्यकारिणी को भंग किया। दो वर्ष के लिए अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव के लिए अभय महात्मा एवं मधुप्रकाश लढ्ढा को चुनाव अधिकारी नियुक्त किया। इस दौरान अध्यक्ष पद के लिए छह नाम आए। जिसमें सर्वसम्मति से महेन्द्र देवपुरा को दो वर्ष के लिए अध्यक्ष घोषित किया गया। अध्यक्ष बनने पर देवपुरा को व्यापारियों ने फूल-मालाओं से लाद दिया। देवपुरा ने मौजूद व्यापारियों को मिलजुलकर महासंघ को नई उंचाइयों पर ले जाने में सहयोग करने का आह्वान किया। इस अवसर पर दिनेश पालीवाल, पदमसिंह राजपुरोहित, कुशलेन्द्र दाधीच एवं गोपाल सेन सहित कई व्यापारी उपस्थित थे। 

Paliwal Menariya Samaj Gaurav