Latest News
      1. देशभर के 90 प्रतिशत अखबार होंगे बंद, लाखों अखबार कर्मी होंगे बेरोजगार-डीएवीपी का अंधा कानुन-अखबार बचाओ मंच      2. पालीवाल समाज भवन में 22 जुलाई से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन-भव्य कलश यात्रा निकलेगी      3. आमेट सडक सुरक्षा के तहत जिला परिवहन अधिकारी ने बनाये 20 वाहनों के चालान      4. आमेट वीरवर पत्ता को नमन कर मनाया स्थापना दिवस      5. आमेट महाविद्यालय में हरित राजस्थान सप्ताह-प्रतियोगिता दक्षता कक्षाएँ 15 जुलाई से      6. महाकाल मंदिर में फर्जी पत्रकारों के प्रवेश पर पूरी तरह लगेगा प्रतिबंध- कलेक्टर

राविमि शिक्षक संघ की बैठक आयोजित

Suresh Bhat     Category: राजसमन्द     12 Aug 2015 5:43 PM

राजसमंद। राजस्थान विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ राजसमंद की जिला स्तरीय बैठक कलेक्ट्रेट स्थित आरके गार्डन में जिलाध्यक्ष भगवत सिंह राठौड़ की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में विद्यार्थी मित्रों के हित संबंधी एवं विद्यालय सहायक पदों में बढोत्तरी करने सहित विभिन्न मांगों के संबंध में चर्चा की गई। इसके बाद उन्होंने जिला कलक्टर को मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे एवं शिक्षा निदेशक प्रारंभिक के नाम अपनी मांगों के संबंध में ज्ञापन दिया। बैठक को संबोधित करते हुए राठौड़ ने कहा कि सरकार ने हमारे दु:ख दर्द को समझा और विद्यालय सहायक भर्ती निकाली। इसका संघ स्वागत करता है। अब हमारा लक्ष्य है कि प्रत्येक विद्यार्थी मित्र का अपने गृह जिले में विद्यालय सहायक पद पर चयन हो और स्थायी रोजगार मिले इसके लिए हम सभी को मिलकर संयुक्त प्रयास करना है। इस दौरान नरेश टेलर, भंवरसिंह राजपुरोहित, विनोद श्रीमाली, निर्मल पालीवाल, वीकेश शर्मा, खुशकुमार श्रीमाली एवं कमलेन्द्र सिंह सहित कई विद्यार्थी मित्र उपस्थित थे।

ये हैं प्रमुख मांगें-ज्ञापन में मांग की है कि साक्षात्कार में विद्यार्थी मित्रों को वरीयता दें, अनुभव प्रमाण-पत्र पारदर्शिता एवं निजी विद्यालयों के दस्तावेजों की गहनता से जांच कर बनावें, चयन प्रक्रिया ऐसी हो जिसमें कोई भी विद्यार्थी मित्र विद्यालय सहायक बनने से वंचित ना हो एवं विद्यार्थी मित्र के निधन होने पर उनकी जगह विधवा के आरक्षित पदों पर उनकी पत्नी को प्राथमिकता से लगाने की मांग की है।