Latest News
      1. मध्यप्रदेश स्थाई कर्मी कल्याण संघ का धरना कल-नीलमपार्क में मंत्री को देगें ज्ञापन      2. श्री चारभुजा की भव्य प्रसादी में इंदौर से पहुंचे सैकड़ो श्रद्वालुजन      3. देशभर के 90 प्रतिशत अखबार होंगे बंद, लाखों अखबार कर्मी होंगे बेरोजगार-डीएवीपी का अंधा कानुन-अखबार बचाओ मंच      4. पालीवाल समाज भवन में 22 जुलाई से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन-भव्य कलश यात्रा निकलेगी      5. आमेट सडक सुरक्षा के तहत जिला परिवहन अधिकारी ने बनाये 20 वाहनों के चालान      6. आमेट वीरवर पत्ता को नमन कर मनाया स्थापना दिवस

जल स्वावलम्बन अभियान के तीसरे चरण में भी सहयोग करें : कृष्णेन्द्र कौर दीपा

सुरेश भाट     Category: राजसमन्द     10 Jun 2017 4:24 AM

राजसमंद। जिले की प्रभारी एवं कला एवं संस्कृति, पुरातत्व एवं संग्रहालय, पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री कृष्णेन्द्र कौर दीपा ने गुरुवार को जिला परिषद में जल स्वावलम्बन सप्ताह के तहत आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला में भाग लिया और उपस्थित उद्योगिक गराने के प्रतिनिधियों, संतप्रवरों, जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों को आगे भी सहयोग करने की बात कही। अभियान के तहत जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों की आयोजित संयुक्त कार्यशाला को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश में जल संरक्षण को लेकर शुरू किए गए। अभियान में आमजन सहित धर्म गुरूओं के जुडऩे से इसके खास परिणाम सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हित में आए इन परिणामों को देखते हुए अभियान के तीसरे चरण की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है। मंत्री ने कहा कि अभियान के तहत जिले में आशातीत परिणाम आए हैं। विभाग द्वारा करवाये गए जल संरक्षण, चारागाह विकास सहित अन्य कार्योंं से कृषि उत्पादन में वृद्धि के साथ-साथ जल स्तर मेंं भी सुधार हुआ है। मुख्यमंत्री के इस महत्वूपर्ण अभियान की सफलता के पीछे उनका स्वयं का नियमित रुप से मॉनिटरिंग करना एवं आम लोगों का सहयोग रहा है। जिले के प्रभारी सचिव आनन्द कुमार ने कहा कि दो चरणों में प्रदेश में हुए विभिन्न जल संरक्षण के कार्य एवं इसके पश्चात् आये बदलाव से प्रदेश में पानी के स्तर में इजाफा हुआ है। जिला प्रमुख प्रवेशकुमार सालवी ने ग्राम पंचायतों में निर्मित परिसम्पतियों तथा जल स्तर में आए बदलाव के लिए अभियान से जुड़े सभी लोगों का धन्यवाद दिया। जिला कलक्टर प्रेमचंद बेरवाल ने कार्यशाला में कहा कि अभियान के तहत हुए कार्यों से जल स्तर में हुई वृद्धि को देश विदेश में भी सराहना मिली है। उन्होंने कहा कि दूसरे अभियान के तहत दिए गए लक्ष्यों को समय पर पूर्ण करवाए जाएंगे। इस अवसर पर नाथद्वारा विधायक कल्याणसिंह चौहान, पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार, सभापति सुरेशचन्द्र पालीवाल, सीईओ सीआर मीणा, एसीईओ रौनक बेरागी, एडीएम ब्रजमोहन बैरवा, एसडीएम राजेन्द्रप्रसाद अग्रवाल, प्रधान भीम नरेन्द्र बागड़ी, उम्मेद सिंह, बाबूसिंह सहित विभिन्न स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

श्यामसुन्दर पालीवाल भामाशाहों का हुआ सम्मान

कार्यशाला में अभियान में सहयोग करने वाले भामाशाह मन्दिर मण्डल नाथद्वारा, पर्यावरण विकास संस्थान, राजस्थान पुलिस, जेके टायर, वेदान्ता समूह, श्यामसुन्दर पालीवाल, माधवलाल, रामेश्वर लाल, द्वारिकाधीश मन्दिर, वणाई आश्रम, सेवन्त्री रामदरबार आदि को पर्यटन राज्यमंत्री ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

पानी का करना होगा सदुपयोग

सांसद हरिओम सिंह राठौड़ ने कहा कि राज्य सरकार ने अभियान को प्राथमिकता से लिया है और विधायकों ने 50-50 लाख रुपये तथा सांसद ने एक करोड़ रुपये दिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रथम एवं द्वितीय चरण में जिले में चारागाह विकास एवं कृषि उत्पादन वृद्धि से तृतीय चरण को बल मिला है। वर्षाजल एवं सतही जल की बूंद-बूंद के सदुपयोग करने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि सभी ग्राम पंचायतों को अपने वार्षिक प्लान में जल स्वावलम्बन के कार्यों को आवश्यक रूप से सम्मिलित करना होगा।


राजसमंद। जिला परिषद सभागार में आयोजित एमजेएसए के अंतर्गत आयोजित कार्यशाला को सम्बोधित करते सांसद व उपस्थित संभागी। फोटो-सुरेश भाट

पालीवाल वाणी ब्यूरो

09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड...
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...