Latest News
      1. देशभर के 90 प्रतिशत अखबार होंगे बंद, लाखों अखबार कर्मी होंगे बेरोजगार-डीएवीपी का अंधा कानुन-अखबार बचाओ मंच      2. पालीवाल समाज भवन में 22 जुलाई से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन-भव्य कलश यात्रा निकलेगी      3. आमेट सडक सुरक्षा के तहत जिला परिवहन अधिकारी ने बनाये 20 वाहनों के चालान      4. आमेट वीरवर पत्ता को नमन कर मनाया स्थापना दिवस      5. आमेट महाविद्यालय में हरित राजस्थान सप्ताह-प्रतियोगिता दक्षता कक्षाएँ 15 जुलाई से      6. महाकाल मंदिर में फर्जी पत्रकारों के प्रवेश पर पूरी तरह लगेगा प्रतिबंध- कलेक्टर

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान

Suresh Bhat     Category: राजसमन्द     10 May 2017 5:31 PM

राजसमंद। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत जिले के सभी राजकीय चिकित्सा संस्थानों में बड़ी संख्या में गर्भवती महिलाएं प्रसव पुर्व जांच करवाने पहुंची। चिकित्सा संस्थानों में गर्भवती महिलाओं की चिकित्सा अधिकारियों एवं विशेषज्ञ चिकित्सकों ने गर्भवती महिलाओं की जांच कर आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श दिया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पंकज गौड़ ने बताया कि अभियान के तहत ब्लॉक आमेट में 295, देवगढ़ में 324, केलवाड़ा में 219, राजसमंद में 368, खमनोर में 221, रेलमगरा में 229, भीम में 253 गर्भवती महिलाओं को गुणवत्ता पूर्ण प्रसव पूर्व जांच एवं परामर्श दिया गया। अभियान से अब गर्भवती महिलाओं का परीक्षण हो पा रहा है। इससे ग्रामीण एवं दुरस्थ क्षेत्रों में निवसरत गर्भवती महिलाओं को लाभ मिल रहा है। डॉ. गौड़ ने बताया कि निजी चिकित्सकों के स्वेच्छा से जुडऩे से अभियान को गति मिली है। उन्होंने बताया की जिलें में अभियान को और अधिक सफल बनाने के लियें निजी चिकित्सा संस्थानों से संपर्क किया जा रहा है। चिकित्सकीय परामर्श के अलावा चिकित्सा संस्थानों पर गर्भवती महिलाओं का ब्लड प्रेशर, तापमान, वजन, शुगर जांचा गया तथा रक्त अल्पता होने पर आयरन सुक्रोज दिया गया। गर्भवती महिलाओं को आवश्यक होने पर उच्च चिकित्सा संस्थानों पर रेफर भी किया गया है।
राजमसंद। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत पीएचसी मोही पर परीक्षण करते निजी प्रेक्टीशनर डॉ. गिरीराज राठी