Latest News
      1. श्री पालीवाल ब्राह्मण समाज 24 श्रेणी इंदौर नवरात्री सांस्कृतिक महोत्सव का रंग चढ़ा परवान पर       2. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      3. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      4. केलवा में श्री अंबा माताजी का नवरात्रि जागरण सातम 16 अक्टूबर को      5. श्री अंबा माताजी के नवरात्रि जागरण का कार्यक्रम 16 अक्टूबर को-सपरिवार सादर आमंत्रित      6. कुंवारिया मेले में उमड़े मेलार्थी-विशाल भजन संध्या भौंर तक जमे दर्शक

परशुराम जयंती पर मंत्री ने पूजा भी करवाई-पाठ्यक्रम का हिस्सा बनेगी परशुराम की जीवनी

एस.पी.मित्तल     Category: राजस्थान     29 Apr 2017 (3:24 PM)

अजमेर। कथित टिप्पणी को लेकर अजमेर का ब्राह्मण समुदाय भले ही स्कूली शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी का विरोध कर रहा हो, लेकिन 28 अप्रैल को भगवान परशुराम जयंती पर पंडितों ने न केवल देवनानी को पूजा करवाई, बल्कि सार्वजनिक मंच से प्रशंसा भी की। देवनानी ने भी भगवान परशुराम की शिक्षा को आज भी समाज में प्रसंगिक बताया। यूं तो परशुराम जयंती पर ब्राह्मण समाज ने शहर भर में अनेक कार्यक्रम किए।

संस्कृत के संभाग स्तरीय भवन का शिलान्यास किया

इसी क्रम में दो महत्वपूर्ण कार्यक्रम अजमेर के तोपदड़ा स्थित शिक्षा संकुल के परिसर में शिक्षा विभाग की ओर से भी आयोजित हुए। इन दोनों कार्यक्रमों में देवनानी मुख्य अतिथि थे। देवनानी ने संस्कृत के संभाग स्तरीय भवन का शिलान्यास किया, भामाशाह नेमीचंद तोषनीवाल के सहयोग से बनने वाले भवन का भूमि पूजन पंडित गौरव शर्मा ने उत्साह के साथ करवाया। पंडित जी ने मंत्री देवनानी के माथे पर तिलक लगाया और हाथ में धागा भी बांधा। पंडित जी ने देवनानी के उज्ज्वल भविष्य के लिए मंत्रोच्चारण भी किया। समारोह के विशिष्ट अतिथि अजमेर के कड़क्का चौक स्थित लक्ष्मी मंदिर के प्रमुख श्याम सुंदर देवाचार्य ने कहा कि देवनानी समाज के सभी वर्गों का सम्मान करते हैं। देवनानी ने शिक्षा विभाग में आमूलचूल बदलाव किए हैं। यह अच्छी बात है कि संस्कृत के संभाग स्तरीय कार्यालय के भवन का शिलान्यास भगवान परशुराम की जयंती पर हो रहा है। देवाचार्य ने उम्मीद जताई कि भगवान परशुराम का आशीर्वाद देवनानी पर हमेशा बना रहेगा। शिक्षा संकुल के परिसर में ही दूसरा बड़ा कार्यक्रम भारतीय शिक्षण मंडल की ओर से आयोजित किया गया। इस समारोह के मुख्य अतिथि भी देवनानी ही रहे। समारोह में सुविख्यात शिक्षाविद् डॉक्टर बद्री प्रसाद पंचोली और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अजयमेरु महानगर के संघचालक सुनील दत्त जैन अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। डॉक्टर पंचोली और जैन ने अपने संबोधन में कहा कि आज ऐसी शिक्षा की जरूरत है जो देश भक्ति से ओतप्रोत हो। राजस्थान में इस काम को शिक्षा मंत्री देवनानी बखूबी कर रहे हैं। समारोह में देवनानी ने घोषणा की कि स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम में भगवान परशुराम की जीवनी को शामिल किया जाएगा। देवनानी की इस घोषणा का उपस्थित लोगों ने स्वागत किया।

युवा ब्राह्मणों ने किया स्वागत

परशुराम जयंती पर विप्र फाउंडेशन युवा मंच के जिला अध्यक्ष श्याम कृष्ण पारीख के नेतृत्व में युवाओं ने मंत्री देवनानी का स्वागत किया। इस अवसर पर युवा मंच ने मांग की कि परशुराम की जीवनी को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा। जिला अध्यक्ष पारीख ने इस बात पर संतोष जताया कि हमने जो मांग की थी, उसे देवनानी ने पूरा कर दिया है।

भदेल ने किया जुलूस का स्वागत 

परशुराम जयंती पर निकले जुलूस का स्वागत महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री श्रीमती अनिता भदेल ने सोनी जी की नसिया के निकट किया। इस अवसर पर भदेल ने भगवान परशुराम की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर पंडितों से आशीर्वाद ग्रहण किया।

नाराज हैं ब्राह्मण समाज

पंडितों पर कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी करने से ब्राह्मण समुदाय मंत्री देवनानी से नाराज चल रहा है। हालांकि देवनानी ने अपमानजनक टिप्पणी करने से इनकार किया है।
एस.पी.मित्तल

09977952406,09827052406
’पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड’
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...

www.paliwalwani.com


Paliwal Menariya Samaj Gaurav