Latest News
      1. पालीवाल समाज का अन्नकूट महोत्सव 3 नवंबर को इंदौर में      2. कार्तिक महोत्सव पर श्री चारभुजानाथ मंदिर में प्रतिदिन विशेष आयोजन-सहपरिवार सादर आमंत्रित      3. पालीवाल समाज में कार्तिक महोत्सव की धूम-प्रतिदिन हो रहे दीप माला के साथ भजन कीर्तन के आयोजन      4. पालीवाल समाज के वरिष्ठ समाजसेवी श्री भेरूलाल बागोरा का निधन-अंतिम यात्रा कल      5. जरा हट के खबर... श्री सांई ज्योति फाउंडेशन ने दीवावली के पूर्व दी छोटे बच्चों की जिंदगी में मुस्कान      6. शामगढ़ के नगर सेठ पंड़ित मदनलाल पुरोहित का निधन-शोक में डुबा नगर

पालीवाल समाज ने श्रावणी पूर्णिमा पर विधि विधान से सामूहिक तर्पण किया

sanjay paliwal     Category: राजस्थान     19 Aug 2016 5:43 AM

पाली (राज.)। पाली हमारी आस्था नहीं काशी है हम चाहे भारत के किसी भी राज्य में रहे हम पहले राजस्थानी हैं। हमारी उत्पत्ति इसी धरती से हुई है, 722 वर्षों पहले हमारे पूर्वजों ने जो त्याग दिया था, आज उसी का नतीजा है कि पालीवाल ब्राह्मण पूरे अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

पालीवाल ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सम्मेलन संपन्न

पालीवाल ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सम्मेलन के दूसरे दिन दिनांक 18 अगस्त गुरुवार को पालीवाल समाज के विभिन्न कार्यक्रम संपन्न हुए। कार्यक्रम के दूसरे दिन तर्पण, पूजा अर्चना और समापन का दौर का चलता रहा। पालीवाल ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सम्मेलन कार्यक्रम में समाज के सभी लोगों ने उत्साह पूर्वक के साथ भाग लिया। ब्रह्मम मुहूत में सामूहिक तर्पण से कार्यक्रम की शुरूआत की गई। जिसमें पालीवाल समाज बंधुओं ने श्रावणी पूर्णिमा के अवसर पर विधि विधान से सामूहिक तर्पण, पूजन किया। इस अवसर पर जयपुर से आए श्री देवकीनंदन पालीवाल ने सभी ब्राह्मणों को विधि विधान से सामूहिक तर्पण पूजन करवाया। करीब 2 घंटे चले इस कार्यक्रम में तीन पारी में तर्पण कार्यक्रम संपन्न हुआ।

पालीवाल ब्राह्मण धोला चैतरा स्थित शहीद स्मारक पहुंचे

तर्पण कार्यक्रम के बाद पालीवाल बंधु समाज के लोग पालीवाल ब्राह्मण धोला चैतरा स्थित शहीद स्मारक पहुंचे। जहां उन्होंने झुझार महाराज की पूजा अर्चना की। सुबह 11 बजे समापन कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जिसमें समाज भवन बनाने सहित समाज विकास एवं शिक्षा स्तर पर जोर दिया गया। समापन समारोह कार्यक्रम में सर्वश्री विद्यानंद, पूर्व अध्यक्ष ललित कुमार, जयपाल, सुरेश कुमार, महिला अध्यक्ष मीना, प्रतिभा, महामंत्री कृष्ण कुमार मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। इस अवसर पर समाज के सैंकड़ों समाज बंधु भी कार्यक्रम के साक्षी बने।

रुक्मणी देवी का मंदिर, 17 बीघा जमीन पर तैयार होगा गौरव स्मारक

कार्यक्रम में भाग लेने के लिए कई शहरों से समाज के लोग पाली, राजस्थान पहुंचे थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय महामंत्री श्री आनंद पालीवाल ने कहा कि नागपुर में चिंतन शिविर के पश्चात पालीवाल एकता दिवस मनाने पर खुब चर्चा हुई। श्री पालीवाल ने पालीवाल वाणी संवाददाता को बताया कि आगामी दिनों में पाली में समाज भवन बनकर तैयार होगा। जिसमें देश के समाज बंधु इसके लिए सहयोग देंगे। कार्यक्रम में पूना से आई मातृशक्ति विजया पालीवाल ने भी बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की बात पर गंभीरता से जोर दिया। इस अवसर पर सर्वश्री कृष्णा कुमार, जयपाल पालीवाल, चेतन कुमार पालीवाल, विद्याधर, मोहनलाल पालीवाल ने भी संबोधित किया। सम्मेलन को सफल बनाने में पालीवाल समाज के भुराराम पालीवाल, महामंत्री रमेश कुमार पालीवाल, शंभुलाल शर्मा, गणपत पालीवाल, मोहनलाल पालीवाल, देवकीनंदन पालीवाल आदि का अतुल्य सहयोग रहा। कार्यक्रम के बाद कार्यकारिणी के सदस्य पुनाघर भाखरी स्थित समाज की भूमि पर पालीवाल समाज की ओर से बनेगा रुक्मणी देवी का मंदिर, 17 बीघा जमीन पर तैयार होगा गौरव स्मारक की जगह का भी अवलोकन किया। जिसमें सभी राज्य से आये हुए समाज बंधुओं ने शिरकत की।

चैराई में पालीवाल समाज ने शहीद दिवस मनाया 

शहीद दिवस पर 722 वर्षों पहले हमारे पूर्वजों ने जो त्याग किया था उसको याद कर चैराई में पालीवाल समाज ने शहीद दिवस मनाया 

पालीवाल वाणी ब्यूरो से संजय पालीवाल
फोटो:- श्रावणी पूर्णिमा के अवसर पर विधि विधान से सामूहिक तर्पण करते हुए पालीवाल समाज बंधु

Karwa Chauth Compitition