Latest News
      1. श्री प्रभुशंकर पालीवाल ने अपने जन्मदिन दिया पर्यावरण का संदेश      2. श्री चारभुजानाथ की भव्य पदयात्रा इंदौर से 2 सिंतबर को निकलेगी      3. श्री महाकालेश्वर की शाही सवारी के साथ उदयपुर में नगर भ्रमण      4. उर्त्षक जोशी, प्रखर जोशी का गोताखोर में दोनो भाई की कोई होड़ नही...इसका श्रेय श्री रमेश व्यास को       5. अच्छी बारिश और खुशहाली की कामना को लेकर मेनार में विशाल कावड़ आज      6. श्री हीरालाल जोशी, मनोज जोशी का जन्मदिन एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लेकर मनाया
आदर्श ग्राम पंचायत बनेगी बिनोल-कन्या उपवन कार्यक्रम में पौधारोपण - Paliwalwani.com

आदर्श ग्राम पंचायत बनेगी बिनोल-कन्या उपवन कार्यक्रम में पौधारोपण

Suresh Bhat/Ayush Paliwal     Category: राजस्थान     24 Jul 2016 (11:31 PM)

राजसमंद। मनुष्य अपने उपवन में पेड़ लगाकर ही नहीं भुले उस पेड़ की बच्चों जैसी परवरिश करे ताकि समय पर वह पेड़ बड़ा होकर फल दे सके यह बात जिले की प्रभारी एवं पर्यटन कला एवं संस्कृति राज्यमन्त्री कृष्णेन्द्र कोर दीपा ने ग्रामीणजनो से कहा कि अपनी इस धरा पर जितने अधिक वृक्ष होंगे तो हरे भरे गांव एवं खेत खलियान होंगे। इससे पेयजल संकट भी दूर होगा और गावों शहरो में खुशहाली आएगी। हमें अधिक से अधिक पौधा रोपण करना चाहिए। राज्यमंत्री कोर को राजसमन्द पंचायत समिति की ग्राम पंचायत बिनोल में मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान एवं जिले में नवाचार के रुप में कन्या उपवन कार्यक्रम के अन्तर्गत आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम को मुख्य अतिथि पद से सम्बोधित कर रही थी। उन्होने कहा कि यह एक अच्छी पहल है। इसमें सभी की सामुहिक भागीदारी हो उन्होने कहा कि पौधा रोपण करना बड़ी बात नही है। बल्कि वह जिवित रहे और वृक्ष बने इसके लिए उसका संरक्षण ओर देखभाल जरुरी है। इस अवसर पर कलक्टर अर्चना सिंह, उप जिला प्रमुख सफलता गुर्जर, उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रप्रसाद अग्रवाल, डीएफओ कपिल चन्द्रावल, विकास अधिकारी प्रदीपकुमार इनाणिया, प्रधान रीना कुमावत, उप प्रधान भरतपालीवाल, भाजपा ग्रामीण मंण्डल अध्यक्ष महेश आचार्य, कालुसिंह राठौड़, ग्रामसेवक राजेश जोशी, जलग्रहण के अधीक्षण अंभियता भुपैन्द्र जैन, पीईओ हरनारायण पालीवाल, अनिल आचार्य सहित कई जन प्रतिनिधि एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे। कार्यक्रम के पश्चात अतिथियों ने नीम का पौधारोपण किया। संयोजन दिनेश श्रीमाली ने किया।

पौधो का सरंक्षण जरूरी है

कलेक्टर अर्चनासिंह ने कहा कि बिनोल के वालरा चारागाह में जो वाटिका बनाई है उसे सरंक्षित करना है गांव में कन्या के जन्म लेने पर ग्रामीणों को 11 पेड़ पौधे लगाने है एंव उनको बड़ा करना है इससे अपने गांव में हरियाली होगी जिससे गांव के लोगों को शुद्व हवा मिलेगी और गांव में खुशहाली आयेगी साथ ही पास में बने जलस्वावलम्बन के बांध से पेड़ पौधो की पिलाई भी की जायेगी।

पौधे रोपित करना पुण्य का काम

इस अवसर पर जिले के प्रभारी सचिव आनन्द कुमार ने कहा कि कन्या के जन्म पर उसकी ओर से 11 पौधे रोपित करने का कार्य पुण्य का कार्य है। इसमें सभी भागीदारी निभाए। इस नवाचार के अन्तर्गत गांव में हर बालिका के जन्म पर 11 पौधे रोपे जाएगें। जिसका संरक्षण ग्राम पंचायत करेगी। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सीआर मीणा ने कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

ये पौधे रोपे

बिनोल उपवन में शनिवार को नीम, कनजिया, पीपल, शीशम, नीबु, आंवला, अमरूद, अनार सहित विभिन्न प्रकार के फलदार व छायादार पेड़ पौधे लगाये गए।

सरपंच के भाषण पर मंत्री हुई गदगद दी शाबाशी

सरपंच सोहनी देवी ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह ग्राम पंचायत आने वाले समय में शीघ्र ही एक आदर्श ग्राम पंचायत के रुप में तब्दील होगी। समारोह के दौरान जब ग्राम पंचायत के बिनोल के सरंपच सोहनी देवी गुजंल की बोलने की बारी आई तो सरपंच में अपनी मधुर भाषा व बुंलन्द आवाज से मुख्यमंत्री की योजना की सराहना करते योजना के बारे में अवगत कराया एंव ग्रामीणों को अधिकाधिक लाभ लेने एंव पंचायत के विकास में सहयोग देने का आव्हान किया। इस पर मंत्री कोर गदगद हो गई और उसे सरपंच को शाबाशी दी और उनके बुलन्द भाषण पर हंस कर जोर से प्रशंसा की।

फोटो राज पीराजसमंद। मुख्यमंत्री जल स्वालंबन अभियान के तहत किए गए विकास कार्यो का अवलोकन कर वृक्षारोपण करते अतिथि।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav