Latest News
      1. ब्रज दर्शन संग्रालय नाथद्वारा में हुआ पत्रकार सम्मेलन-निंबाहेडा के पत्रकारों का किया सम्मान      2. पालीवाल समाज मुंडोल की समाजसेविका श्रीमती मंगनी बाई पुरोहित का निधन-अंतिम यात्रा सुबह 9 बजे      3. ग्राम पंचायत उनवास तहसील खमनोर में नेटवर्क की समस्या से जनता परेशान      4. निकायों के लगभग 70 हजार अधिकारी-कर्मचारी लाभान्वित होंगे-कर्मचारियों को मिलेगा समयमान वेतनमान- सबसे बड़ा निर्णय      5. पालीवाल समाज के युवा विष्णु बागोरा की मौत की खबर आते ही सबकी आंखो में आंसू आ गए      6. श्रीमती केशरबाई बागोरा का धूप, गोरनी एवं ढोल का कार्यक्रम पालीवाल समाज भवन 44 श्रेणी इंदौर पर होगा-स्थान परिवर्तन की सूच

शोभायात्रा आज छप्प्न भोग मनोरथ कल होेगे

योगेश पालीवाल      Category: राजस्थान     11 Jul 2016 3:20 PM

उनवास (राज.)। श्री चारभुजा नाथ के कृपा से गांव वारणी की भागल उनवास राजस्थान में होने वाले वार्षिक महोत्सव एवं छप्पन भोग मनोरथ की तैयारी पूर्ण हो गई। वार्षिक महोत्सव का शंखनाद आज से ही शुरू हो जाऐगा। दिनांक 12 जूलाई को आज दोहपर 3 बजे से कार्यकम का आगाज शंखनाद से होगा। श्री योगेश पालीवाल ने पालीवाल वाणी को जानकारी देते हुए बताया कि आयोजन अपने आप में एक अनुठा होगा।
भव्य शोभायात्रा आज निकलेगी
प्रभु की आज दोपहर 3.15 से भव्य शोभा यात्रा शुरु होगी। शोभायात्रा में मातृशक्ति केसरिया साड़ी पहनकर अपनी छाप छोड़ेगी तो कलश लिए बालिका शोभायात्रा की शोभा में अपनी अमिट पहचान में होगी। घोड़े, बग्गी की अपनी रंगत होगी। विभिन्न प्रकार से शोभायात्रा स्वागत द्वार के दौर से गुजरती हुई बावड़ी से होती हुई पुरे गांव की परिक्रमा कर गांव के चैराहे पर पहुंचेगी। वह पर कुछ देर विश्राम के पश्चात् पुनः शोभायात्रा मंदिर प्रागंण पहंुचेगी। ग्रामवासी पूजा, अर्चना ओर आरती के बाद ग्रामवासी भव्य प्रसादी का वितरण करेंगे।
भजन संध्या रात्रि 8 बजे से
प्रभु के आनंद में पूरा गांव भक्ति भजन संध्या में डुबा हुआ दिखाई देगा। रात्रि 8 बजे से मधुर भजन संध्या का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें पूरा वारणी की भागल उनवास के साथ आस-पास के श्रद्वालुजन भी भजन संध्या का लुफ्त उठाते हुए दिखाई देगे। जो देर रात तक चलेगा।
कल छप्पन भोग का मनोरथ
श्री चारभुजा नाथ के कृपा से गांव वारणी की भागल उनवास 13 मई को सुबह 10 बजे छप्पन भोग का मनोरथ होगा। जिसमें आप सभी धर्मप्रेमी श्रद्वालुजन के साथ समाजबंधुओं भी सादर आमंत्रित है।