Latest News
      1. पालीवाल शेर की स्मृति शेष...पुष्पाजंलि का आयोजन इंदौर में...      2. श्री कमल किशोर पालीवाल आईएफडब्ल्यूजे राजसमंद के पुनः जिलाध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित      3. पालीवाल समाज की समाजसेविका श्रीमति अमर बाई पुरोहित का मंदसौर में निधन-अंतिम यात्रा शाम 5 बजे      4. आठवीं बोर्ड में आमेट तहसील टॉपर सपना कुमावत को किया सम्मानित      5. ब्रह्मलीन चौधरी गोपीलालकृष्ण गोहर की सातवीं पूण्यतिथि पर दी आत्मीयता से श्रद्वाजंलि      6. पालीवाल वाणी के प्रति...अटूट आस्था

विद्युत विभाग की लापरवाही से श्री कालु मेनारिया की मौत

Sunil Paliwal     Category: राजस्थान     08 Apr 2016 12:13 PM

भाटोली (राज.) । चितौडगढ के समीपवर्ती क्षेत्र बडी सादडी के पास भाटोली गांव के श्री कालु पिता चुन्नीलाल मेनारिया का विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते आज फिर एक नवयुवक की मौत ने भाजपा सरकार को कटघरे में खडा कर दिया है कि विद्युत विभाग के आला अधिकारियों को शिकायत करने के बाद भी भष्ट अधिकारियों के ऊपर कोई कार्यवाही नहीं होने से आज फिर एक घर का चिराग सदा.सदा के लिए बुझ गया ।

विद्युत विभाग के साथ जहां हादसा हुआ वो भी जिम्मेदार

श्री कालु पिता चुन्नीलाल मेनारिया को बिजली का झटका लगाने से आज सुबह 9 बजे के करीब दिनांक 8 अप्रैल को आकस्मिक निधन हो जाने से भाटोली गांव में शोक की लहर छा गई। कालु मेनारिया की लगभग उम्र 20 वर्ष है ओर 11 केवी वोल्ट का करंट लगने से समीप ही कुआ के पास विद्युत के बिजली के तार लगे होने से नोरा में ही मौत हो गई। समीप ही कुआ है ओर उस पर से विद्युत लाईट जा रही है। अपुष्ट सूत्रों ने पालीवाल वाणी को बताया कि बिजली का खंबा हटाने के लिए कोर्ट में भी प्रकरण दर्ज होने की जानकारी मिल रही है। ओर इस प्रकरण में एडब्यूएनएल विद्युत विभाग की लाईन गुजर रही है उस परिवार के लोग भी हादसे के लिए जिम्मेदार जहां सं बिजली की लाईन जहां रही है। हादसे के बाद भी लापरवाही दिखा रहे है। हादसे के बाद पुलिस ने प्रकरण कायम कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए अस्तपताल भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद लाश परिजनों को सौंप दी। उसके बाद परिजनों ने कालु मेनारिया का दाह संस्कार किया। कालु का एक छोटा भाई मुकेश मेनारिया है। कालु मेनारिया परिवार में हंसमुख मिजाज का सीधा साधा लडका था। दुःखद निधन पर ग्रामीणवासियों, मेनारिया समाज, मेनारिया संदेश एवं पालीवाल वाणी समूह की ओर से श्रद्वाजंलि अर्पित की गई। 

जिम्मेदारों से बात नहीं हुई_

पालीवाल वाणी ब्यूरों ने पुलिस थानेदार श्री मोहन जाट से मोबाईल पर सम्पर्क करने की बहुत कोशिश करी मगर बात नहीं होने से विस्तुत जानकारी नहीं लगी कि इस हादसे के बाद लापरवाही दर्शाने वालों के विरूद्व क्या कार्यवाही की गई।