Latest News
      1. पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल जी को दी श्रद्धांजलि      2. श्री नरेन्द्र बागोरा को मंत्री श्री रामपाल सिंह ने श्रेष्ठ कर्मचारी से किया पुरस्कृत       3. मेनारिया समाज ने मचाई स्वतंत्रता दिवस की धूम      4. पालीवाल समाज ने किया प्रतिभाओं का सम्मान-स्वतंत्रता दिवस पर दी शुभकामनाएं      5. पालीवाल ब्राह्मण समाज 24 श्रेणी इंदौर ने मनाया आजादी का जश्न      6. उदयपुर में मची आजादी की धूम-कई प्रतिभाओं को मिला सम्मान
36 घंटों ने कई मार्ग जलमग्न, भारी बारिश जारी - Paliwalwani.com

36 घंटों ने कई मार्ग जलमग्न, भारी बारिश जारी

Mahaveer Vyas     Category: राजस्थान     25 Jul 2017 (7:10 PM)

जालोर। जालोर जिले में सोमवार को शाम बजे तक 33 घण्टों में रानीवाड़ा में सर्वाधिक 430 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई। हालांकि सोमवार सुबह आठ बजे तक रानीवाड़ा में पिछले 24 घण्टों में 388 मिलीमीटर बारिश दर्जहुईथी। शाम को फोन ही नहीं लगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रानीवाड़ा में सोमवार दिन में भी बारिश दर्ज हुई। जिला नियन्त्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार शाम पांच बजे तक जालोर में 132 मिलीमीटर, आहोर में 106 मिलीमीटर, सायला में 184 मिलीमीटर, भीनमाल में 305 मिलीमीटर, जसवन्तपुरा में 252 मिलीमीटर, बागोडा में 104  मिलीमीटर, सांचौर में 088 मिलीमीटर एवं चितलवाना में 99 मिलीमीटर दर्ज की गई। इस वर्षा काल में अब तक जालोर जिले में सर्वाधिक रानीवाडा उपखण्ड मु यालय पर सर्वाधिक 8 94 एमएम वर्षा वही न्यूनतम चितलवाना में 308 एमएम वर्षा हो चुकी है जबकि जालोर में अब तक 6 49 मिलीमीटर, आहोर में 432 मिलीमीटर, सायला में 552 मिलीमीटर, भीनमाल में 56 4 मिलीमीटर, जसवन्तपुरा में 525 मिलीमीटर, बागोडा में 38 7 मिलीमीटर एवं सांचौर में 425 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की जा चुकी है।

तेज बहाव, राहत कार्य शुरु, सुरक्षात्मक दम उठाए

सांकरणा गांव के पास स्थित जवाईनदी तेज वेग में बह रही है। सोमवार दोपहर करीब एक बजे जवाई नदी पुल से करीब तीन फीट ऊपर से बह रही थी। नदी में इतना अधिक पानी था कि एक बार तो कानीवाड़ा मोड़ तक पानी पहुंच गया। प्रशासन और पुलिस की ओर से कानीवाड़ा मोड़ पर बेरिकेट लगाकर रास्ते रोक दिए गए। इस मार्ग पर करीब शाम तक यातायात अवरुद्ध रहा। लगातार पानी की आवक बढ़ती जा रही है। नदी देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। लोगों का कहना हैकि इतना पानी तो जवाईबांध की सात फाटकें खोलने पर आता है। जवाई नदी का पानी सायला सीमा तक पहुंच गया है। ऊफान पर बहती नदी के चलते सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है। पानी देख जालोरवासियों के चेहरे खिल गए। रास्ता बंद करने से पहले लोगों ने जवाईनदी की पूजार्चना कर स्वागत किया।
आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए-Mahaveer Vyas
E-mail.paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...

Paliwal Menariya Samaj Gaurav