Latest News
      1. राजभोग में फूल मण्डली, शयन में जलविहार में विराजे द्वारकाधीश      2. लोक अधिकार मंच राजसमंद की बैठक में आओ अपना नगर संवारे      3. धीरज पुरोहित को राज्य सरकार ने किया जिला कारागृह प्रतिनिधि मनोनीत      4. कांकरोली में प्रथम संचालित स्काउट गाइड अभिरूचि केंद्र मेे बेटियां लगा रही अपने हुनर को पंख      5. दुनिया की नजरों में जो कूड़े कबाड़ी वाला है सही मांयने में वही हिंदुस्तान का रखवाला- निलेश पालीवाल      6. राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई-संगोष्ठी आयोजित
शोभायात्रा आज छप्प्न भोग मनोरथ कल होेगे - Paliwalwani.com

शोभायात्रा आज छप्प्न भोग मनोरथ कल होेगे

योगेश पालीवाल      Category: राजस्थान     11 Jul 2016 (3:20 PM)

उनवास (राज.)। श्री चारभुजा नाथ के कृपा से गांव वारणी की भागल उनवास राजस्थान में होने वाले वार्षिक महोत्सव एवं छप्पन भोग मनोरथ की तैयारी पूर्ण हो गई। वार्षिक महोत्सव का शंखनाद आज से ही शुरू हो जाऐगा। दिनांक 12 जूलाई को आज दोहपर 3 बजे से कार्यकम का आगाज शंखनाद से होगा। श्री योगेश पालीवाल ने पालीवाल वाणी को जानकारी देते हुए बताया कि आयोजन अपने आप में एक अनुठा होगा।
भव्य शोभायात्रा आज निकलेगी
प्रभु की आज दोपहर 3.15 से भव्य शोभा यात्रा शुरु होगी। शोभायात्रा में मातृशक्ति केसरिया साड़ी पहनकर अपनी छाप छोड़ेगी तो कलश लिए बालिका शोभायात्रा की शोभा में अपनी अमिट पहचान में होगी। घोड़े, बग्गी की अपनी रंगत होगी। विभिन्न प्रकार से शोभायात्रा स्वागत द्वार के दौर से गुजरती हुई बावड़ी से होती हुई पुरे गांव की परिक्रमा कर गांव के चैराहे पर पहुंचेगी। वह पर कुछ देर विश्राम के पश्चात् पुनः शोभायात्रा मंदिर प्रागंण पहंुचेगी। ग्रामवासी पूजा, अर्चना ओर आरती के बाद ग्रामवासी भव्य प्रसादी का वितरण करेंगे।
भजन संध्या रात्रि 8 बजे से
प्रभु के आनंद में पूरा गांव भक्ति भजन संध्या में डुबा हुआ दिखाई देगा। रात्रि 8 बजे से मधुर भजन संध्या का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें पूरा वारणी की भागल उनवास के साथ आस-पास के श्रद्वालुजन भी भजन संध्या का लुफ्त उठाते हुए दिखाई देगे। जो देर रात तक चलेगा।
कल छप्पन भोग का मनोरथ
श्री चारभुजा नाथ के कृपा से गांव वारणी की भागल उनवास 13 मई को सुबह 10 बजे छप्पन भोग का मनोरथ होगा। जिसमें आप सभी धर्मप्रेमी श्रद्वालुजन के साथ समाजबंधुओं भी सादर आमंत्रित है।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav