Latest News
      1. पुरोहित भी विद्यार्थी और यजमान भी विद्यार्थी - अर्वाचीन स्कूल में नवीन शिक्षा सत्र प्रारंभ      2. हल्दीघाटी युद्धतिथि पर शहीदों को दीपांजलि अर्पित      3. बिम्ट्स की दीपिका राजानी ने विश्वविद्यालय प्राविण्य सूची में अर्जित किया चतुर्थ स्थान       4. श्री मुन्नालाल जोशी ने मनाया जन्मदिन महोत्सव.दिनभर मिलती रही बधाई      5. श्री प्रेमशंकर मेनारिया जिलाध्यक्ष मनोनित      6. केला उत्पादक किसानों के लिए मुख्यमंत्री की घोषणा पर मंत्री श्रीमती चिटनिस ने माना आभार
रावत राजपूत समाज के धर्मगुरु आयस महाराज का देवलोक गमन - Paliwalwani.com

रावत राजपूत समाज के धर्मगुरु आयस महाराज का देवलोक गमन

suresh bhat     Category: राजसमन्द     04 Mar 2018 (4:42 PM)

रावत राजपूत समाज के धर्मगुरु आयस महाराज का देवलोक गमन
राजसमंद। मगरा क्षेत्र के रावत राजपूत समाज के धर्मगुरु 1008 नारायण वन महाराज का अहमदाबाद में उपचार के बाद निधन हो गया। निधन की खबर सुनते ही पूरे मगरा क्षेत्र में रावत-राजपूत समुदाय में शोक की लहर व्याप्त हो गई और होली का त्यौहार नहीं मनाया गया। होली के दिन उपचार के दौरान अहमदाबाद में निधन होने के बाद धुलण्डी के दिन गौरम पहाड़ी की तलहटी में स्थित पाली जिले के सारण ठिकाना परिसर में गाजे-बाजे सहित हजारों रावत.राजपूत सरदारों के बीच आसन जिलेलाव आयस पूना रावल महाराज के सानिध्य में अंतिम संस्कार के रूप में समाधि दी गई। इस अवसर पर पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी मोहन सिंह चौहान, रावत-राजपूत महासभा प्रदेश संयोजक गोपाल सिंह पीटीआई, चौबीस गांव काछबली क्षेत्र अध्यक्ष ज्ञानसिंह, जिला परिषद सदस्य डाऊसिंह, मगरा विकास मंच अध्यक्ष जसवंतसिंह मंडावर, ब्यावर विधायक शंकरसिंह रावत, सारण प्रमुख नारायणसिंह, बरार प्रमुख जेठ सिंह, मगरा सेना प्रमुख नारायण सिंह काछबली, गजेंद्र सिंह सारण, निर्मल सिंह मेवड़ा, रावत. राजपूत महासभा अध्यक्ष पृथ्वी सिंह सिरियारी, पटवार संघ जिलाध्यक्ष मिठू सिंह मण्डावर, संपादक केसर सिंह सुजावत सहित काछबली, मण्डावर, बग्गड़ लाखागुड़ा, मियाला, बरार, कुकरखेड़ा, टॉडगढ़, भागावड़, भीम, जोजावर, कंटालिया, पाली, अजमेर, भीलवाड़ा क्षेत्र समेत मगरा, मारवाड़, मेरवाड़ा क्षेत्र के हजारों लोग उपस्थित थे।

बख्तावर वन होंगे नए आयस महाराज

सारण ठिकाना के नए आयस महाराज 1008 बख्तावर वन महाराज होंगे। इनका चयन साधु संतों के सानिध्य में समाज के प्रबुद्धजनों ने किया। नए आयस महाराज का राजतिलक चार मार्च रविवार को 10:30 बजे होगा। जिन्हें गद्दी पर बिठाया जाएगा। ज्ञातव्य है सारण आयस के अधीन मगरा क्षेत्र में प्रत्येक गांव में विस्तृत संपति है।

धुलण्डी पर सारण में भरता है मेला, उसी दिन हुआ अंतिम संस्कार

होली का पर्व पर सारण महाराज के सानिध्य में विविध आयोजन होते हैं। जिसमें होली के दो दिन पूर्व गौरम पहाड़ की तलहटी में वायड़ भैरु स्थान पर लवाजमे सहित पालकी में बैठकर जाते तथा वहां मेला आयोजित होता है। इसके बाद धुलंडी पर सारण गांव में आयस महाराज के सानिध्य में मेला आयोजित होता है पर दो दिन पूर्व वायड में आयस महाराज की अचानक तबीयत बिगडऩे पर अहमदाबाद ले जाया गया। जिनका होली के दिन देहावसान हो गया और धुलण्डी पर मेला आयोजन के दिवस पर अंतिम संस्कार किया गया।
राजसमंद। रावत राजपूत समाज के धर्मगुरु की अंतिम विदाई में उमड़ा रावत-राजपूत समुदाय। फोटो- सुरेश भाट
पालीवाल वाणी ब्यूरो- suresh bhat ✍
आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए-
Email : paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...

 

Paliwal Menariya Samaj Gaurav