Latest News
      1. श्री मुन्नालाल जोशी ने मनाया जन्मदिन महोत्सव.दिनभर मिलती रही बधाई      2. श्री प्रेमशंकर मेनारिया जिलाध्यक्ष मनोनित      3. केला उत्पादक किसानों के लिए मुख्यमंत्री की घोषणा पर मंत्री श्रीमती चिटनिस ने माना आभार      4. मंत्री श्रीमती चिटनिस के प्रयास रंग लाए-फोफनार और नाचनखेड़ा में बनेंगे अस्पताल       5. भय्यूजी महाराज...जैसा व्यक्तित्व-बहुत कुछ बता गए...जाते...जाते      6. वीर मध्यप्रदेश केसरी कुश्ती प्रतियोगिता में उभरे कई नए पहलवान- श्री पंवार रहे प्रथम
चिकित्सक की दादागिरी से.जस्साखेडा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बदनाम - Paliwalwani.com

चिकित्सक की दादागिरी से.जस्साखेडा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बदनाम

जसवंत सिंग (मंडावर)     Category: राजसमन्द     01 Jan 2018 (12:40 PM)

भीम। अब इसे चिकित्सक की दादागिरी कहे या गुण्डागर्दी परंतू जो भी हो आरोपी चिकित्सक के इस प्रकार के तानाशाही रवैये से आरोग्य के मंदिरों का माहौल खराब हो रहा है। भीम सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में अपनी गुण्डागर्दी का डंडा चलाने के बाद जस्साखेडा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर लगाने के बाद भी आरोपी चिकित्सक अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा है और तो और इस बार आरोपी की शिकार हुई महिला प्रवासिका परन्तु हाल यह है कि आरोपी चिकित्सक के खिलाफ कार्यवाही करे तो भी कौन। पूरे घटनाक्रम को लेकर एक प्रश्न उठता है कि यदि स्वास्थ्य के मंदिर में यदि महिला कार्मिक ही सुरक्षित नहीं है तो रोगी तो क्या आशा करेंगे एवं इन परिस्थितियों में रोगीयो को स्वास्थ्य कैसे मिलेगा।

थाने के बाहर प्रदर्शन

भीम 30 दिसम्बर शनिवार को मामले को लेकर विपी सिंह चैहान एवं कुछ अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं के नैतृत्व में महिलाएं एवं पुरूषों ने आरोपी चिकित्सक हंसराज की गिरफ्तारी को लेकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इस दौरान ग्रामीणों ने हंसराज को गिरफ्तार करो, गिरफ्तार करो गिरफ्तार करो हंजराज की गुंडागर्दी नही चलेगी, हंसराज तो डाक्टर नही राक्षस है राक्षस है के भंयकर नारे गये एवं विपी सिंह के नैतृत्व में ग्रामीणों ने थानाधिकारी ज्ञानेन्द्र सिंह से वार्ता कर तुरन्त गिरफ्तारी की मांग की।

यह है घटनाक्रम

पीड़ित महिला एएनएम रोशन चैहान पत्नी हजारी सिंह रावत के अनुसार जब वह गत 12 दिसम्बर को निशक्तजन केम्प हेतु पीएचसी में थी। तो वहा चिकित्सक डा हंसराज ने रोशन चैहान के साथ गली गलोच की एवं मारपीट पर उतारू हो गया। अभद्र गालिया देकर महिला कार्मिक को मरीजो एवं स्टाफ के सामने लज्जित किया पीडिता के अनुसार आरोपी चिकित्सक हंसराज ने उसके साथ धक्का मुक्की की। जिससे वहा मौजूद साथी स्टाफ कर्मी कमला चैहान से उसे बचाया। जिसको लेकर पीडिता ने सीएमएचओ एवं पुलिस थाना भीम में परिवाद दिया। प्रकरण में आरोपी के खिलाफ जब पुलिस एवं खुद के विभाग द्वारा भी कोई कार्यवाही नहीं की की गयी तो पीडिता ने न्यायालय की शरण ली है।

पूर्व में भीम सीएचसी में भी की थी दबंगई

आरोपी चिकित्सक द्वारा गत गत 3 जुलाई को रात्री में तैनात नर्सिंग कर्मी कैलाश गोस्वामी के साथ गली गलोच कर मारपीट की। जिसको लेकर अगले दिन नर्सिंग कर्मीयो में रोष व्याप्त हो गया एवं प्रभारी को ज्ञापन दिया गया परंतू अगले दिन तक भी कोई कार्यवाही नहीं की गयी। जिसके बाद राजस्थान नर्सेज एसोसिएशन के नेतृत्व में जिले भर के नर्सिंग एसोसिएशन के पदाधिकारीयो के आरोपी चिकित्सक के खिलाफ भीम सीएचसी पहुँच कर मोर्चा खोल दिया एवं भयंकर नारेबाजी के साथ ही कार्य का बहिष्कार कर दिया। इतना कुछ होने के बाद विभाग द्वारा आरोपी चिकित्सक को बली पीएचसी पर लगाया गया।

बली में ये दूसरी घटना

आरोपी चिकित्सक को भीम से हटाकर बली लगाने के बाद भी वहा कुछ माह पूर्व फिर एक नर्सिंगकर्मी बालमुकुन्द जीनगर के साथ गाली गलोच एवं बदसलूकी की। जिसकी शिकायत स्थानीय प्रशासन के साथ ही चिकित्सा महकमे के अधिकारीयों को की गयी फिर भी विभाग कार्यवाही के नाम पर पीड़ित मेलनर्स को ही हटाकर भीम सीएचसी में लगा दिया गया।

एएनएम ने ली न्यायालय की शरण

गत 12 दिसम्बर को बली पीएचसी में महिला कार्मिक चैहान के साथ हुई धक्का मुक्की एवं गाली गलोच आदि को घटना को लेकर पुलिस एवं चिकिस्ता महकमे द्वारा कार्यवाही नहीं किये जाने से जरिये अधिवक्ता नंदकिशोर सिंह चैहान व कमलेश वर्मा द्वारा न्यायालय में आईपीसी की धारा 354,504,323 में परिवाद दिया है।
पालीवाल वाणी ब्यूरो-जसवंत सिंग (मंडावर)
आपकी बेहतर खबरों के लिए मेल किजिए-
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ..

 

Paliwal Menariya Samaj Gaurav