Latest News
      1. श्री पालीवाल ब्राह्मण समाज 24 श्रेणी इंदौर नवरात्री सांस्कृतिक महोत्सव का रंग चढ़ा परवान पर       2. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      3. निस्वार्थ भाव से दीन दुखियों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा : श्री साईं ज्योति फाउंडेशन      4. केलवा में श्री अंबा माताजी का नवरात्रि जागरण सातम 16 अक्टूबर को      5. श्री अंबा माताजी के नवरात्रि जागरण का कार्यक्रम 16 अक्टूबर को-सपरिवार सादर आमंत्रित      6. कुंवारिया मेले में उमड़े मेलार्थी-विशाल भजन संध्या भौंर तक जमे दर्शक

नाथद्वारा चौपाटी हादसे की जांच कराने एवं दोषियों के विरूद्व कार्यवाही की मांग

देवकिशन पालीवाल, नरेन्द्र पालीवाल, ना     Category: नाथद्वारा     29 May 2018 (12:48 PM)

नाथद्वारा। नाथद्वारा विधानसभा युवक कांग्रेस अध्यक्ष श्री कोमल पालीवाल ने मुख्यमंत्री सहित कई जिम्मेदारों पर गंभीर आरोप लगाते हुए चौपाटी हादसे की जांच कराने एवं नाथद्वारा नगरपालिका प्रषासन के अधिकारी को स्थानान्तरीत कर जिम्मेदार की नियुक्ती करने व दोषियों के विरूद्ध कानुनी कार्यवाही करने की मांग की गई। जिसमें प्रमुखता से बात करते हुए कहां कि निम्न बिंदुओं पर तत्काल जांच की जाए।
▪️ नाथद्वारा कल 27 मई को रात्री के करीब 11 बजे चैेपाटी क्षैत्र में रोड़ निर्माण के लिये एक डम्पर में डम्बर गिट्टीषुदा भर कर लाये उस समय चौपाटी पर करीब 100 से भी अधिक वैष्णव, यात्रीजन व नगरजन खड़े थे तथा चौपाटी पर आईस्क्रीम वगैरा की लारीयों पर खरीदारी कर रहे थे। वर्तमान में अधिकमास का पवीत्र माह होने से कई वृद्ध, युवा, बच्चे, आदमी-मातृशक्ति समेत कई जन समुदाय मौजूद थे।
▪️ चौपाटी क्षैत्र में करीब 10 दिवस पुर्व ही सिवरेज का कार्य करने वाले ठेकेदार के द्वारा कार्य किया गया जो कार्य सही नहीं करने से व अत्यधिक वनज वाला डम्बर गिट्टी से भरा डम्पर सिवरेज के नाले की जमीन में धंस जाने से एक छोटा बच्चा जो अपने परिजन के साथ आईस्क्रीम खा कर खड़ा ही था कि डम्पर घटीया निर्माण शुदा भूमि में धंस गया तथा वहीं खड़े बच्चा भी डम्पर के निचे आ गया उस उसय उसके हाथ में एक छोटा खिलौना था किन्तु प्रषासन के समय पर नहीं पहुंचने से गर्म डम्बर कि गिट्टी में धसंने से उसकी मृत्यु हो गई तथा एक अन्य की उक्त दुर्घटना में मौत हो गई।
▪️ दुर्घटना नाथद्वारा जैसी पवित्र भूमि पर घटित होना बहुत ही दुखत हैं तथा प्रत्येक दोषियों की तकनीकी रूप से जवाबदेही होते हुए भी निरीक्षण नहीं किया, अधिकारी ने मोनेटरिंग नहीं की, प्रषासन ने भी उच्च न्यायालयों के आदेष का जमकर उलंघन होने दिया। जैसी कई कारणों से ही उक्त दुर्घटना घटित हुई हैं। दुर्घटना के समय जब डम्पर आया तब जिम्मेदारों व जवाबदेही से स्वयं को मुक्त रह स्वतंत्रा देने के कारण उक्त घटना हुई।
▪️ नाथद्वारा नगरपालिका के प्रषासनीक अधिकारी का व बोर्ड के सदस्यों की उदासीनता के चलते नाथद्वारा नगरपालिका के द्वारा वर्तमान में नगर व नगरवासीयों के प्रति उदासीन व्यवहार रखे जाने के कारण नगर की आमजन परेषान ओर हैरान है।
▪️ नाथद्वारा क्षैत्र में नियुक्त प्रषासन के द्वारा निम्न प्रकार से गैरजिम्मेदारी कृत्य किया गया हैं जिसके जिम्मेदार की जवाबदेही तय कर कार्यवाही करावें तथा नाथद्वारा में नव व जिम्मेदार आयुक्त श्रेणी अनुसार ही नियुक्त करावें:-

नाथद्वारा में जिम्मेदार आयुक्त को जिम्मेदारी दी जाए-वर्तमान को हटाने की मांग

▪️ 27 मई को चैपाटी पर डम्बर की गिट्टी से भरा डम्पर के नीचे दौ वैष्णवजन की मौत होने पर तकनीकी अधिकारी, जिम्मेदार अफसर के विरूद्ध भी कार्यवाही कि जावें, मुकदमा दर्ज कर सजा दिलवाई जावें, विभागीय कार्यवाही की जावें, दोषपुर्ण कार्य करने वाले के विरूद्ध कार्यवाही की जावें।
▪️ नाथद्वारा के चैपाटी पर सिवरेज का कार्य किया गया वहां कि सही मोनेटरिंग नहीं होने से सही काम नहीं किया गया जिसके कारण उक्त गंभीर हादसा हुआ हैं दोषीयों के विरूद्ध कार्यवाही की जावें।
▪️ नगर से पुर्ण सड़के टुटे व खडे नुमा हैं कोई कार्यवाही नहीं कि गई हैं।
▪️ गौरव पथ के नाम पर कई बड़े हरे वृक्ष को काटा गया।
▪️ नगर में नालीयों से मल व गंदगी बह कर सड़क पर आती हैं उस पर कोई कार्यवाही नहीं कि जा रही हैं।
▪️ नगर के लिये पेयजल हेतु नन्दसमन्द बांध, बाघेरी नाका एवं चिकलवास बांध में पर्याप्त पानी होने व सप्लाई की व्यवस्था होने के बाद भी नगर में गंदा, अपर्याप्त, बिना प्रेषर का पानी दिया जा रहा हैं।
▪️ नगर का सवच्छता अभियान सर्वे में भी कोई विषेष रूप से कार्य नहीं किया गया जिसका परिणाम यह रहा कि नाथद्वारा सर्वे में प्रारम्भ में ही बाहर रहा हैं।
▪️ नाथद्वारा में पेयजल की सप्लाई सही नहीं हो रही।
▪️ नगर के मुख्य प्रवेष द्वारा 120 फिट रोड़ पर गंदगी का ढेर लगा रहता हैं।
माननीय उच्च न्यायालय के नगर में वाहन प्रवेष नहीं होने संबंधीत स्पष्ट आदेष होने के बाद भी बोर्ड लगा कर सार्वजनीक सुचना नहीं करनें से दिन में, दर्षन के समय तथा जब वैष्णवजन नगर में होते है तब वाहन आते हैं और गम्भीर दुर्घटना होती हैं।
▪️ नगर में किसी प्रकार का विकास का कार्य नहीं हो रहा है तथा नाथद्वारा नगर के वार्डों में भी कोई कार्य नहीं किया जा रहा हैं पक्षपात किया जा रहा हैं।
▪️ नगर पालिका कि बोर्ड बैठक भी नहीं कि जा रही हैं जो कि जानी अनिवार्य हैं जो करवाई जावें ।
उक्त प्रकार से कई ऐसे कारण हैं जिसके कारण आमजन परेषान हो रहे हैं तथा लगातार परेषानियां बढ़ रही हैं और नगर के समस्त प्रषासनिक अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से मुक्त होकर बैठे हैं तथा किसी प्रकार की दुर्घटना की जानकारी होने पर भी कुछ करने का आष्वासन देने के पष्चात् पुनः बैठ जाते हैं।
▪️ दोषीयों के विरूद्ध, घटीया निर्माण की जांच कराने, मोनेटरिंग नहीं करने पर कार्यवाही करावें ।
🔹 अतः प्रशासन से निवेदन हैं कि अविलम्ब ही उक्त समस्याओं की बिन्दुवार जांच करा आमजन को राहत प्रदान की जावें अन्यथा जनविरोध करना होगा जिसकी जिम्मेदारी समस्त प्रषासन की होगी । नाथद्वारा में दिनांक 27.मई को हुए हादसे के दोषियों की जांच करावें तथा उदासीन अफसर को हटाया जाकर सक्रिय, आमजन के हितों के लिय सर्मिपित जिम्मेदार को जिम्मेदारी दी जावें जिससे नगर पिछड़े नहीं।
पालीवाल वाणी ब्यूरो-देवकिशन पालीवाल, नरेन्द्र पालीवाल, नानालाल जोशी
E-mail.paliwalwani2@gmail.com
09977952406,09827052406
पालीवाल वाणी की खबर रोज अपटेड
पालीवाल वाणी हर कदम...आपके साथ...
एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...

Paliwal Menariya Samaj Gaurav