Latest News
      1. श्री प्रभुशंकर पालीवाल ने अपने जन्मदिन दिया पर्यावरण का संदेश      2. श्री चारभुजानाथ की भव्य पदयात्रा इंदौर से 2 सिंतबर को निकलेगी      3. श्री महाकालेश्वर की शाही सवारी के साथ उदयपुर में नगर भ्रमण      4. उर्त्षक जोशी, प्रखर जोशी का गोताखोर में दोनो भाई की कोई होड़ नही...इसका श्रेय श्री रमेश व्यास को       5. अच्छी बारिश और खुशहाली की कामना को लेकर मेनार में विशाल कावड़ आज      6. श्री हीरालाल जोशी, मनोज जोशी का जन्मदिन एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लेकर मनाया
मध्यप्रदेश के शहर बाढ़ में घिरे-मुख्यमंत्री ने आपात बैठक बुलाई - Paliwalwani.com

मध्यप्रदेश के शहर बाढ़ में घिरे-मुख्यमंत्री ने आपात बैठक बुलाई

Santosh Paliwal     Category: मध्य प्रदेश     09 Jul 2016 (7:09 AM)

भोपाल। भारी बारिश के चलते मध्यप्रदेश की ताजा स्थिति खराब कर दी है। आधे से ज्यादा मध्य प्रदेश के शहर बाढ़ में घिरे हुए है। कई स्थानों पर जाम लग जाने से जगह-जगह लोग फंसे हुए हैं। प्रशासन उन्हें सुरक्षित जगहों पर ले जाने सेना और होमगार्ड के जवानों की मदद ली जा रही है। मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने आपात बैठक बुलाई

भ्मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने आपात बैठक बुलाई, जो खत्म हो गई उन्होंने सख्त लहजे से आला अधिकारियों को चेतावनी दी है कि लापरवाही सहन नहीं की जाएगी।

8 लोगों की मौत होने की पुष्टि

सरकार ने भारी बारिश से 8 लोगों की मौत होने की पुष्टि की है। मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए देने की घोषणा हुई है।

मौसम विभाग ने दी भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग ने विदिशा, भोपाल, सागर, दमोह, सतना, होशंगाबाद, बैतूल, जबलपुर, नरसिंहपुर आदि जिलों में भारी से भारी बारिश चेतावनी जारी की है। वहीं राजगढ़, अशोकनगर, गुना, हरदा, टीकमगढ़, पन्ना, रीवा, इंदौर, सीहोर, देवास, सिवनी, छिंदवाड़ा, दतिया, मंडला, आगर मालवा आदि जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है।

कुछ नजर इन पर भी डाले...

टीकमगढ़:- मौसम विभाग ने 11 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। यहां की धसान नदी उफान पर है।

मुरैना:- पांच नदियों चंबल, क्वारी, सांक, आसन व सोन वाले जिला मुरैना में बारिश के दौरान बाढ़ के पानी से खतरा बढ़ जाता है।
रायसेनः- रायसेन-बरेली, भोपाल-बरेली, रायसेन- विदिशा सहित सिलवानी-उदयपुरा के रास्ते बंद। नर्मदा किनारे बसा भारकच्छ कला गांव चारो तरफ से बंद। बकतरा आने का कोई रास्ता चालू नहीं। नर्मदा नदी में लगातार बढ़ रहा है जलस्तर।
हरदा :- नर्मदा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। बाढ़ प्रभावितों के लिए प्रशासन ने शहर में छह स्थानों पर व्यवस्थाएं बनाई हैं। वहीं नर्मदा तट पर 20 जवान तैनात किए गए हैं।
बैतूल :- तवा नदी का जलस्तर बढ़ने से गांव डूबने लगे हैं।
दमोह :-घरों में पानी भरने से लोग परेशान।
छतरपुर :- गांवों में पानी भरा हुआ है।
जबलपुर :- महाकौशल के सतना, रीवा आदि में बाढ़ में फंसे लोगों की मदद के लिए सेना और होमगार्ड के जवानों की मदद ली जा रही है।
होशंगाबाद :-नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। अगले दो दिन भी अलर्ट जारी किया गया है।

कहां कितनी बारिश...

प्रदेश में एक जून से 8 जुलाई तक हुई वर्षा के आधार पर 25 जिले में सामान्य से अधिक, 16 जिले में सामान्य, 9 जिले में कम वर्षा और एक जिले में अल्प वर्षा हुई है। सामान्य से अधिक वर्षा वाले जिले में जबलपुर, कटनी, छिन्दवाड़ा, सिवनी, मण्डला, नरसिंहपुर, सागर, दमोह, पन्ना, छतरपुर, सीधी, सतना, उमरिया, मुरैना, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, भोपाल, सीहोर, रायसेन, विदिशा, राजगढ़ और होशंगाबाद जिले हैं।

बुरहानपुर जिला अल्प-वर्षा की श्रेणी में

मध्यप्रदेश के 16 जिले डिण्डोरी, टीकमगढ़, रीवा, शहडोल, धार, अलीराजपुर, उज्जैन, मंदसौर, नीमच, रतलाम, देवास, शाजापुर, श्योपुरकला, भिण्ड, हरदा और बैतूल में सामान्य वर्षा रिकार्ड की गयी है। प्रदेश के बालाघाट, सिंगरौली, अनूपपुर, इंदौर, झाबुआ, खरगोन, बड़वानी, खण्डवा और आगर जिला कम वर्षा वाले जिलों की श्रेणी में हैं। बुरहानपुर जिला अल्प-वर्षा की श्रेणी में है।

सतना से मिली जानकारी के अनुसार

कलेक्टर सतना से मिली जानकारी के अनुसार जिले की प्रमुख नदी टमस, सोन और मंदाकिनी का जल-स्तर बढ़ने से 300 प्रभावित लोगों को अस्थायी शिविर में ठहराये जाने की व्यवस्था की गयी है। जिले की तहसील रघुराज नगर के बाढ़ प्रभावित 400 व्यक्ति को सेना द्वारा राहत शिविर तक पहुंचाया गया। कलेक्टर रीवा ने राहत आयुक्त कार्यालय को जानकारी दी है कि ग्राम सिरमौर भडरा में बाढ़ में फंसे 3 व्यक्ति को सेना के हेलीकॉप्टर से बचाया गया। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन, राजस्व, होमगार्ड बचाव कार्य में लगे हैं।

बड़ी खबर...

भोपाल.सागर
रायसेन.बरेली 
भोपाल.बरेली
रायसेन. विदिशा
सिलवानी, उदयपुरा के रास्ते बंद। नर्मदा नदी में लगातार जलस्तर बढ़ने से प्रशासन हाई अलाॅट हुआ। कई स्थानों पर इधर से उधर जाने में हो रही है काफी परेशानी।

Paliwal Menariya Samaj Gaurav