Latest News
      1. पालीवाल वाणी समाचार पत्र के संस्थापक श्री बालकृष्ण बागोरा के जन्मदिन महोत्सव पर हार्दिक शुभकामनाएं      2. आमेट प्रवासी हस्तीमल ‘‘हस्ती’’ को महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी का अखिल भारतीय पुरस्कार      3. श्री चारभुजा दर्शन के लिए आज सुबह इंदौर से रवाना होगी पदयात्रा      4. पालीवाल शेर की स्मृति शेष...पुष्पाजंलि का आयोजन इंदौर में...      5. श्री कमल किशोर पालीवाल आईएफडब्ल्यूजे राजसमंद के पुनः जिलाध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित      6. पालीवाल समाज की समाजसेविका श्रीमति अमर बाई पुरोहित का मंदसौर में निधन-अंतिम यात्रा शाम 5 बजे

मेवाड़ के हरिद्वार मातृकुंडिया में तीन करोड़ 75 लाख की लागत से हुआ पैनोरमा का निर्माण पूर्ण

Sunil Paliwal-Anil bagora...✍     Category: इंदौर     21 May 2019 5:45 PM

● भगवान परशुराम जी की यश गाथाओ स्मरण
● निर्माण कार्य पूर्ण होने पर सांसद सी.पी जोशी का आभार

इंदौर। संस्था मेवाड महासंघ के अध्यक्ष श्री विनोद जोशी ने पालीवाल वाणी को बताया की भगवान परशुराम जी की तपोभूमि मेवाड़ के हरिद्वार मातृकुंडिया में भगवान परशुराम जी की यश गाथाओ स्मरण के लिए तीन करोड़ 75 लाख की लागत से विशाल पैनोरमा का निर्माण पूर्ण कराने पर चित्तौड़गढ़ सांसद माननीय सीपी जोशी जी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज आपका सात जन्म भी ऋण नही उतार सकता। आज आप ने साबित कर आपने ब्राह्मण समाज की नहीं संपूर्ण सनातन धर्म की लड़ाई लड़ने काम किया है। राजस्थान में कुंभलगढ़ के पास भगवान परशुराम का मंदिर है। इस मंदिर का निर्माण स्वयं भगवान परशुराम ने अपने फरसे से पहाड़ी को काटकर किया था। उन्होंने यह मंदिर शिवजी की तपस्या करने के लिए बनाया था, वह शिवभक्त थे। उनकी भक्ति से ही प्रसन्न होकर भगवान शिव ने उन्हें फरसा दिया था, जिसे परशु भी कहते हैं। इस परशु की प्राप्ति के कारण ही उनका नाम परशुराम पड़ा। गुफा मंदिर से कुछ मील की दूरी पर स्थित है मातृकुंडिया। इस मातृकुंडिया को ही मेवाड़ का हरिद्वार कहा जाता है। जिस प्रकार हरिद्वार जाकर गंगा नदी में स्नान करने से भक्तों के जाने-अनजाने में किए गए पाप कट जाते हैं। उसी प्रकार इस कुंड में स्नान से भी सभी प्रकार के पापों से मुक्ति मिलती है। यह वही कुंड है, जहां शिवजी की तपस्या कर और शिव प्रेरणा से परशुराम ने स्नान किया था।

● सनातन धर्म के लोग भगवान परशुराम के बारे में घर बैठे जानेंगे

यहां स्नान के बाद ही परशुरामजी को मातृ हत्या के पाप से मुक्ति मिली थी। तभी से इस कुंड का नाम मातृकुंडिया पड़ा। जैसा की सभी को विदित है कि चित्तोड़ सांसद सी.पी जोशी ने 5 मई 2015 में भगवान परशुराम जन्मोत्सव पर अवकाश की मांग भी संसद भवन में उठाई थी आज पैनोरमा के निर्माण होने से देश में ही नहीं दुनिया का सनातन धर्म के लोग भगवान परशुराम के बारे में घर बैठे जानेंगे और वहां इतना बड़ा प्रतिमा जिससे अनगिनत लोगों को दर्शन प्राप्त होंगे।
● पालीवाल वाणी ब्यूरो-Sunil Paliwal-Anil bagora...✍
🔹 Whatsapp पर हमारी खबरें पाने के लिए हमारे मोबाइल नंबर 9039752406 को सेव करके हमें व्हाट्सएप पर Update paliwalwani news नाम/पता/गांव/मोबाईल नंबर/ लिखकर भेजें...
🔹 Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
www.fb.com/paliwalwani
www.twitter.com/paliwalwani
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
▪ एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...
▪ नई सोच... नई शुरूआत... पालीवाल वाणी के साथ...