Latest News
      1. जोशी परिवार ने लिया मोगी माताजी नारायणी बाई जोशी का आशीर्वाद      2. अवैध रूप से बजरी दोहन करते आमेट पुलिस ने तीन टेक्टर ट्रोलियां पकडी-चालक हुए फरार      3. भारत विकास परिषद शाखा आमेट एवं अनंता हॉस्पीटल के संयुक्त तत्वावधान में आमेट में 504 मरीजो की हुई निशुल्क जांच एवं चिकित्      4. इंदौर में फिर वाहन दुर्घटना-सगे भाइयों सहित 3 जनों की मौत...सिलसिला लगातार जारी      5. अंकित जोशी ने दिखाया अपना दमदार प्रदर्शन-भारत को मिला कांस्य पदक      6. आमेट में स्वचछ भारत मिशन के तहत स्वच्छता ट्रेनिंग कोर्स मोबाइल पर

बिजासन रोड अखंड धाम पर 22 से 28 दिसंबर तक अ.भा. वेदांत संत सम्मेलन

Sunil paliwal... ✍     Category: इंदौर     21 Dec 2018 5:21 PM

● जगदगुरू शंकराचार्य, जगदगुरू स्वामी रामदयाल, ध्यानयोगी उत्तमस्वामी एवं स्वामी परमानंद सहित देश के 200 से अधिक संत-विद्वान आएंगे

इंदौर। बिजासन रोड स्थित प्राचीन अखंडधाम आश्रम पर 51 वें अखिल भारतीय. वेदांत संत सम्मेलन की उत्साहपूर्ण तैयारियां पूर्ण हो गई। यह सम्मेलन आत 22 से 28 दिसंबर 2018 तक बिजासन रोड़ स्थित आश्रम के सुसज्जित सभागृह में होगा। इसमें देश के शीर्षस्थ संत, विद्वान, शंकराचार्य एवं धर्माचार्य शामिल होंगे। जगदगुरू शंकराचार्य भानपुरा पीठाधीश्वर स्वामी दिव्यानंद तीर्थ के सानिध्य, अंतर्राष्टी्रय रामस्नेही संप्रदाय के जगदगुरू आचार्य स्वामी रामदयाल महाराज की अध्यक्षता एवं प्रख्यात महर्षि ध्यानयोगी उत्तमस्वामी के विशेष आतिथ्य में शनिवार 22 दिसंबर को दोपहर 3 बजे सम्मेलन का शुभारंभ होगा।

● सात दिवसीय महोत्सव में आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक आयोजन

सात दिवसीय इस महोत्सव में आश्रम के महामंडलेश्वर डॉ. स्वामी चेतन स्वरूप के सान्निध्य में प्रतिदिन दोपहर 2 से सांय 6 बजे तक संत सम्मेलन एवं सांय 7 बजे से आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक आयोजन भी होंगे। आयोजन समिति के स्वागताध्यक्ष डॉ. योगेंद्र महंत, संयोजक देवकृष्ण सांखला, अध्यक्ष हरि अग्रवाल एवं महासचिव पार्षद दीपक जैन ने पालीवाल वाणी संवाददाता ओर पत्रकारों को उक्त जानकारी देते हुए बताया कि अखंड धाम आश्रम के संस्थापक ब्रम्हलीन स्वामी अखंडानंद महाराज की पुण्यतिथि पर पिछले 50 वर्षों से लगातार हो रहे। इस संत सम्मेलन में इस बार देश के 200 से अधिक प्रमुख संत-विद्वान पधार रहे हैं। मालवांचल के सभी जिलों के अलावा अन्य राज्यों के श्रद्धालु भी बड़ी संख्या में आ रहे हैं। जिनके आवास, भोजन, संचार एवं परिवहन आदि की व्यवस्थाएं आश्रम तथा आसपास के स्थानों पर की जा रही है।

● महामंडलेश्वर डॉ. स्वामी चेतन स्वरूप के निर्देशन में अनुष्ठान

कार्यक्रम स्थल पर भक्तों के लिए बैठक व्यवस्था, निशुल्क पार्किंग, पेयजल, सुरक्षा एवं रोशनी के भी समुचित प्रबंध किए गए हैं। गत 12 वर्षों से आश्रम के महामंडलेश्वर डॉ. स्वामी चेतन स्वरूप के निर्देशन में ओम नमः शिवाय महामंत्र के अखंड जाप का अनुष्ठान भी निरंतर चल रहा है। इनके अलावा गौशाला, राममंदिर में सुंदर कांड एवं गीता पाठ सहित अनेक धार्मिक आयोजन भी पूरे वर्ष हो रहे हैं। आश्रम के संत स्वामी राजानंद एवं स्वामी दुर्गानंद इन सेवा कार्यों की व्यवस्थाएं संभाल रहे हैं। आश्रम के महामंडलेश्वर डॉ. स्वामी चेतन स्वरूप् एवं प्रमुख परामर्शदाता प्रेमचंद गोयल के मार्गदर्शन में विभिन्न समितियों का गठन किया गया है। सम्मेलन में 24 से 26 दिसंबत तक सागर के वसुंधरा कृषक सांस्कृतिक मंडल की रामलीला- रासलीला आधारित प्रस्तुतियां भी होंगी। 27 दिसंबर को एक शाम गौमाता के नाम कवि सम्मेलन होगा तथा 28 दिसंबर तक अन्य सांस्कृतिक अनुष्ठान भी जारी रहेंगे।

● अग्रसेन सोशल ग्रुप, अग्रसेन सेवा संगठन एवं श्रद्धा सुमन सेवा समिति की भागीदार बनेंगीं

समिति के ठा. विजयसिंह परिहार, राजेश गर्ग, किशोर गोयल एवं संजय तोड़ीवाला ने पालीवाल वाणी को बताया कि इस बार भी अग्रसेन सोशल ग्रुप, अग्रसेन सेवा संगठन एवं श्रद्धा सुमन सेवा समिति भी सम्मेलन में भागीदार बनेंगीं। प्रचार मंत्री मोहनलाल सोनी के अनुसार सम्मेलन की दिव्यता को देखते हुए। संत सेवा समिति, महिला समिति, स्वागत समिति, प्रसाद वितरण समिति, अर्थ संकलन समिति, ओमनमः शिवाय जाप समिति आदि का गठन कर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है।

● सम्मेलन में कई संतो का समागम

सम्मेलन में आ रहे संतों में युगपुरूष स्वामी परमानंद गिरी महाराज, वृंदावन के महामंडलेश्वर स्वामी प्रणवानंद सरस्वती, स्वामी भास्करानंद एवं स्वामी जगदीशवरानंद, पानीपत के स्वामी दिव्यानंद सरस्वती, हरिधाम कानपुर के स्वामी दिव्यानंद, हरिद्वार के स्वामी कृष्णानंद तीर्थ, उज्जैन के बालयोगी उमेशनाथ, नारेड़ा (राज.) के स्वामी हरिहरानंद, आगरा के स्वामी हरियोगी, कटघडा के स्वामी हरिहरानंद, स्वामी अरूण गिरि, चौबारा जागीर के स्वामी नारायणानंद, रतलाम के स्वामी स्वरूपानंद, स्वामी देवस्वरूपानंद, सारंगपुर के स्वामी गजानन महाराज, गृहस्थ संत भागवताचार्य श्रीमती अर्चना दुबे, नलखेडा के स्वामी संतोष गिरि, सोनकच्छ के स्वामी प्रकाशानंद, देवास के स्वामी आनंद स्वरूप, मेतवाडा के स्वामी नित्यानंद महाराज के साथ शहर के अन्नपूर्णा आश्रम के महामंडलेश्वर स्वामी विश्वेश्वरानंद गिरि, श्री श्रीविद्या धाम के अधिष्ठाता स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती, सदगुरू श्री अण्णा महाराज, महामंडलेश्वर स्वामी राधे-राधे बाबा, रामकृष्ण मिशन के सचिव स्वामी निर्विकारानंद, पंचकुईया राममंदिर के महामंडलेश्वर स्वामी लक्ष्मणदास, महामंडलेश्वर स्वामी कम्प्यूटर बाबा, गोराकुंड रामद्वारा के संत अमृतराम, छावनी रामद्वारा के संत रामस्वरूप रामस्नेही, आंनदम पीठ के स्वामी केदार महाराज, लाल मंदिर के महामंडलेश्वर स्वामी गोपालदास, साध्वी भक्तिप्रिया, लादूनाथ आश्रम के महंत रामकिशन महाराज एवं साध्वी मीरादेवी जैसे नाम प्रमुख हैं, जिनके प्रवचनों का पुण्यलाभ भी आम भक्तों को प्रतिदिन मिल सकेगा।

paliwalwani.com

पालीवाल वाणी ब्यूरो- Sunil Paliwal...✍
🔹Paliwalwani News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
www.fb.com/paliwalwani
www.twitter.com/paliwalwani
Sunil Paliwal-Indore M.P.
Email- paliwalwani2@gmail.com
09977952406-09827052406-Whatsapp no- 09039752406
पालीवाल वाणी हर कदम... आपके साथ...
*एक पेड़...एक बेटी...बचाने का संकल्प लिजिए...*